Tuesday, Apr 23 2019 | Time 19:37 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • त्रिवेन्द्र ने की अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना की समीक्षा
  • उप्र में 40 06 करोड़ की नगदी जब्त 52,21,366 पोस्टर्स आदि हटाये
  • केदारनाथ कस्तूरी मृग अभ्यारण्य क्षेत्र के वन पंचायतों, गांवों को मिल सकती है राहत
  • तीसरे चरण में बंगाल,त्रिपुरा,असम,गोवा और केरल में बंपर वोटिंग
  • मध्यप्रदेश के अनेक स्थानों में गर्म हवाएं, खरगोन में लू
  • आंतकवादियों की इदलिब में रासायनिक हमले की योजना
  • क्षेत्र की गरीबी व बेरोजगारी दूर करना होगी कांग्रेस की प्राथमिकता:शिवशरण
  • लोकसभा के तीसरे चरण में सात बजे तक करीब 64 प्रतिशत मतदान
  • मुंबई और दिल्ली से 28 नयी उड़ानें शुरू करेगी स्पाइसजेट
  • राजस्थान में भीषण गर्मी, पश्चिमी भारत में लू चलने का अनुमान
  • केंद्र में कांग्रेस की सरकार आने पर 22 लाख सरकारी रिक्त पदों को भरा जाएगा - राहुल
  • डेढ़ किलो हेरोइन सहित एक गिरफ्तार
  • बजरंग ने मंगल के दिन जीता स्वर्ण
  • बजरंग ने मंगल के दिन जीता स्वर्ण
राज्य


मथुरा में भाजपा विधायक दरोगा के खिलाफ बैठा धरने पर

मथुरा में भाजपा विधायक दरोगा के खिलाफ बैठा धरने पर

मथुरा, 09 सितंबर (वार्ता )उत्तर प्रदेश के मथुरा में जनता की समस्याओं की उपेक्षा करने वाले एवं भ्रष्टाचार फैलाने वाले दरोगा के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए भारतीय जनता पार्टी के विधायक पूर्ण प्रकाश रविवार को यहां धरना पर बैठ गए।

श्री प्रकाश महाबन थाने के दरोगा इंसपेक्टर अरविन्द पाल के खिलाफ हजारों ग्रामीणों, सांसद प्रतिनिधि के साथ धरना दिया। उनका आरोप था कि दरोगा शासन की मंशा और नीति के विपरीत कार्य कर रहा हैं। वे जनता से जमीदार की तरह व्यवहार करता है।

उनका कहना था कि ग्रामीणों का आरोप है कि सही रिपोर्ट लिखाने के लिए उनसे पैसे की मांग की जाती है। पहली बार ऐसा देखने को मिल रहा है कि सत्ताधारी पार्टी को जनता के हित में दरोगा के खिलाफ धरने पर बैठना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि थाने में न केवल अवैध वसूली की जाती है बल्कि हर फरियादी के साथ बदसलूकी भी की जाती है।

उन्होंने कहा कि वे शासक दल के विधायक होने के साथ साथ जनता के प्रतिनिधि हैं। इसलिए उनका फर्ज बनता है कि जनता को यदि कहीं परेशानी होती है तो उसका निराकरण कराएं। उन्होंने बताया कि जिस प्रकार से उन्हें धरने पर बैठने को मजबूर होना पड़ा है उसका पूरा ब्यौरा वे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बताएंगे। समाचार मिलने तक विधायक चार घंटे से धरने पर बैठे थे और उन्हें मनाने के प्रयास चल रहे थे।

विधायक प्रतिनिधि पंकज प्रकाश ने बताया कि उनकी मांग थानाध्यक्ष अरविन्द पाल, हल्का इंचार्ज अरविन्द चौहान एवं अजय हवाना के निलम्बन तथा पूरे थाने के बदलने की हैै। समाचार मिलने तक बल्देव नगर पंचायत के चेयरमैन कमल कुमार पाण्डे, मण्डल अध्यक्ष सुमित दीक्षित एवं जिला महामंत्री भाजपा चिंताहरण चतुर्वेदी भी अपने समर्थकों के साथ धरनास्थल महाबन थाने के बाहर बैठ गए थे। ग्रामीणों का हजूम बढ़ता ही जा रहा था तथा समय समय पर नारेबाजी हो रही थी।

उधर सीओ महाबन प्रबल प्रताप सिंह एवं एसपी ग्रामीण आदित्य कुमार शुक्ला ने विधायक को मनाने की कोशिश की लेकिन विधायक दरोगाओं के निलम्बन एवं थाने में बदलाव पर अड़े हुए थे। श्री शुक्ला ने बताया कि विधायक की मांग दरोगा के शासन की मंशा के अनुरूप काम न करने का आरोप लगाते हुए उनके निलम्बन की मांग की है जिससे उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है।

सं तेज

वार्ता

image