Tuesday, Feb 19 2019 | Time 14:26 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बुलंदशहर में दुर्घटना, दो महिलाओं समेत पांच की मृत्यु
  • उत्तरप्रदेश में पंजीकृत कार से लगभग 11 करोड़ की नगदी बरामद
  • पुलवामा हमले को लेकर भारत की कार्रवाई का जवाब देंगे: इमरान
  • जोकोविच ने चौथी बार जीता लॉरेस विश्व खेल पुरस्कार
  • छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता : मायावती
  • शिक्षकों की भर्ती में छत्तीसगढ़ के लोगो को मिलेगा पर्याप्त मौका- उमेश
  • बुलंदशहर में गल्ला व्यापारी के मुनीम को गोली मारकर पांच लाख लूटे
  • बढ़ेगा चीनी मिलों का मुनाफा, कम होगा किसानों का बकाया: रिपोर्ट
  • दिग्विजय की सिद्धू को सलाह, अपने दोस्त इमरान को समझायें
  • भाजपा, अन्नाद्रमुक गठबंधन की कोशिशों में व्यस्त
  • मिर्जापुर में दो दुर्घटनाओं में चार लोगों की मृत्यु, एक की हत्या
  • आदिवासी परंपराओं, रीति-रिवाजों का सम्मान संवैधानिक दायित्व : वेंकैया
  • मनरेगा की बकाया मजदूरी की राशि केन्द्र से जारी करवाने का प्रयास जारी - सिंहदेव
  • वाहन की टक्कर से तेंदुए की मौत
  • अन्नाद्रमुक-पीएमके के बीच सीटों के बंटवारे के लिए समझौता
राज्य Share

राजनीतिक जानकारों का माना है कि श्री जोगी के राज्य की राजनीति के शिखर पद पर पहुंचने से नौकरशाहों में राजनीति में पदार्पण के प्रति उत्साह एवं आकर्षण बढ़ा है।श्री जोगी की पत्नी मौजूदा विधानसभा में विधायक डा.रेणु जोगी भी रायपुर के शासकीय जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कालेज में नेत्र विभाग की विभागाध्यक्ष थी,और श्री जोगी के एक सड़क दुर्घटना में 2004 में घायल होने के बाद नौकरी छोड़कर राजनीति में आ गई थी।
राज्य में 2013 में हुए विधानसभा चुनावों में उप पुलिस अधीक्षक आर.के.राय ने नौकरी छोड़कर राजनीति में प्रवेश किया।उन्होने कांग्रेस के टिकट पर गुंडरदेही से पहला चुनाव लड़ा और विधायक चुन लिए गए।आहिवारा से विधायक सांवलाराम डहरे वाणिज्यककर अधिकारी रहे हैं।पुलिस से सेवानिवृत हुए रामलाल चौहान भाजपा से सरायपाली से विधायक हैं।
इसी तरह पिछले विधानसभा चुनाव में श्यामलाल कंवर भी पुलिस से सेवानिवृत होकर कोरबा जिले की रामपुर सीट कांग्रेस से विधायक बने।श्री रामविचार नेताम शिक्षक रहे हैं। लगातार दो बार विधायक और मंत्री रहने के बाद अभी वे भाजपा से राज्यसभा सदस्य हैं। इसके पूर्व पुलिस की नौकरी छोड कर पीआर खुंटे विधायक और सांसद बने थे। उनसे पहले कृषि अधिकारी फूलसिंह भी विधायक रह चुके हैं।
इस बार होने वाले विधानसभा चुनावों में भी कई नौकरशाह चुनावी मैदान में कूदने वाले है। सेवानिवृत आईएएस एमएस पैकरा और सेवानिवृत एसडीओ अर्जुन हिरवानी को जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने अपनी पार्टी से प्रत्याशी बनाया है। पैकरा पत्थलगांव और हिरवानी संजारी-बालोद विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।
सुरेंद्र.साहू
जारी.वार्ता
image