Tuesday, Nov 20 2018 | Time 17:16 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • संस्कृत शिक्षा जरूरी : लालजी टंडन
  • राजद्रोह मामले में अल्पेश कथिरिया की जमानत अर्जी मंजूर, पर जेल से नहीं छूट पायेंगे
  • हमारी नेकनीयती को मजबूरी न समझें विकसित देश : हर्षवर्द्धन
  • सिख दंगों के एक मामले में एक को फांसी, दूसरे को आजीवन कारावास
  • 24 साल हर रोज परीक्षा दी: सचिन
  • दो तिहाई से ज्यादा बहुमत से बनेगी भाजपा की सरकार-गोयल
  • कांग्रेस जहां से गई, लौट कर नहीं आई : मोदी
  • राजस्थान में सभी विधानसभा सीटों के लिए सामान्य पर्यवेक्षक नियुक्त
  • कांग्रेस जहां से गई, लौट कर नहीं आई : मोदी
  • कांग्रेस ने त्रिपुरा में शहरी निकाय उपचुनाव लड़ने का किया फैसला
  • अय्यप्पा भक्तों के साथ कैदियों जैसा बर्ताव नहीं कर सकते विजयन: शाह
  • राजद्रोह मामले में अल्पेश कथिरिया की जमानत अर्जी मंजूर, पर जेल से नहीं छूट पायेंगे
  • रिजर्व बैंक निदेशकों के प्रयास संतोषजनक : चिदम्बरम
  • मोदी -शिवराज ने जनता का विश्वास गंवाया - सुरजेवाला
  • आईसीसी ने भारतीय बोर्ड के खिलाफ खारिज की पीसीबी की अपील
राज्य Share

राजनीतिक जानकारों का माना है कि श्री जोगी के राज्य की राजनीति के शिखर पद पर पहुंचने से नौकरशाहों में राजनीति में पदार्पण के प्रति उत्साह एवं आकर्षण बढ़ा है।श्री जोगी की पत्नी मौजूदा विधानसभा में विधायक डा.रेणु जोगी भी रायपुर के शासकीय जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कालेज में नेत्र विभाग की विभागाध्यक्ष थी,और श्री जोगी के एक सड़क दुर्घटना में 2004 में घायल होने के बाद नौकरी छोड़कर राजनीति में आ गई थी।
राज्य में 2013 में हुए विधानसभा चुनावों में उप पुलिस अधीक्षक आर.के.राय ने नौकरी छोड़कर राजनीति में प्रवेश किया।उन्होने कांग्रेस के टिकट पर गुंडरदेही से पहला चुनाव लड़ा और विधायक चुन लिए गए।आहिवारा से विधायक सांवलाराम डहरे वाणिज्यककर अधिकारी रहे हैं।पुलिस से सेवानिवृत हुए रामलाल चौहान भाजपा से सरायपाली से विधायक हैं।
इसी तरह पिछले विधानसभा चुनाव में श्यामलाल कंवर भी पुलिस से सेवानिवृत होकर कोरबा जिले की रामपुर सीट कांग्रेस से विधायक बने।श्री रामविचार नेताम शिक्षक रहे हैं। लगातार दो बार विधायक और मंत्री रहने के बाद अभी वे भाजपा से राज्यसभा सदस्य हैं। इसके पूर्व पुलिस की नौकरी छोड कर पीआर खुंटे विधायक और सांसद बने थे। उनसे पहले कृषि अधिकारी फूलसिंह भी विधायक रह चुके हैं।
इस बार होने वाले विधानसभा चुनावों में भी कई नौकरशाह चुनावी मैदान में कूदने वाले है। सेवानिवृत आईएएस एमएस पैकरा और सेवानिवृत एसडीओ अर्जुन हिरवानी को जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने अपनी पार्टी से प्रत्याशी बनाया है। पैकरा पत्थलगांव और हिरवानी संजारी-बालोद विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।
सुरेंद्र.साहू
जारी.वार्ता
More News
नीतीश ने ईद-ए-मिलाद-उन-नबी की दी बधाई

नीतीश ने ईद-ए-मिलाद-उन-नबी की दी बधाई

20 Nov 2018 | 5:11 PM

पटना 20 नवंबर (वार्ता) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पैगम्बर-ए-इस्लाम हजरत मुहम्मद साहब के जन्मदिन ईद-ए-मिलाद-उन-नबी के शुभ अवसर पर राज्य के लोगों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है।

 Sharesee more..
मोदी -शिवराज ने जनता का विश्वास गंवाया - सुरजेवाला

मोदी -शिवराज ने जनता का विश्वास गंवाया - सुरजेवाला

20 Nov 2018 | 5:09 PM

भोपाल 20 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 15 साल के शासन के दौरान 21 घोटालों और 25 आरोपों का पुलिंदा पेश करते हुए आज दावा किया कि देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राज्य में शिवराज सिंह चौहान की सरकारें जनता का विश्वास खो चुकीं हैं। इससे घबराए, बौखलाए और लड़खड़ाए दोनों नेता जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं।

 Sharesee more..
image