Friday, Jul 19 2019 | Time 22:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एटा में पूर्व विधायक के आवास पर फायरिंग, मामला दर्ज
  • भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने जीते राष्ट्रमंडल टेटे खिताब
  • विश्वास मत पर आज भी नहीं हुआ मतदान, कार्यवाही सोमवार तक स्थगित
  • एसटीएफ ने दो लाख 42 हजार के जाली नोट पकड़े, पांच गिरफ्तार
  • बिहार में विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक वातावरण में हो रहा सुधार : लालजी
  • नवादा में वज्रपात की घटना में आठ बच्चे समेत नौ की मौत, आठ घायल
  • मवेशी चोरी के आरोप में तीन लोगों के हत्या मामले में सात गिरफ्तार
  • डॉल्फिन मारने वाला गिरफ्तार
  • वज्रपात से आठ बच्चों की मौत से लालजी टंडन मर्माहत
  • अरुणाचल प्रदेश में भूकंप के झटके
  • छात्रों और शिक्षकों पर लाठियां बरसाने से बेहतर नहीं होगी शिक्षा : उपेंद्र
  • नीतीश ने वज्रपात से आठ बच्चों की मौत पर जताया शोक, मुआवजे की घोषणा
  • प्रियंका को सोनभद्र जाने से रोकने के खिलाफ वाराणसी में कांग्रेस का प्रदर्शन
  • लखनऊ में सड़को की खुदाई ,गंदगी एवं नालों को लेकर उच्च न्यायालय सख्त
  • जगमग हुआ सफदरजंग मकबरा
राज्य


राजनीतिक जानकारों का माना है कि श्री जोगी के राज्य की राजनीति के शिखर पद पर पहुंचने से नौकरशाहों में राजनीति में पदार्पण के प्रति उत्साह एवं आकर्षण बढ़ा है।श्री जोगी की पत्नी मौजूदा विधानसभा में विधायक डा.रेणु जोगी भी रायपुर के शासकीय जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कालेज में नेत्र विभाग की विभागाध्यक्ष थी,और श्री जोगी के एक सड़क दुर्घटना में 2004 में घायल होने के बाद नौकरी छोड़कर राजनीति में आ गई थी।
राज्य में 2013 में हुए विधानसभा चुनावों में उप पुलिस अधीक्षक आर.के.राय ने नौकरी छोड़कर राजनीति में प्रवेश किया।उन्होने कांग्रेस के टिकट पर गुंडरदेही से पहला चुनाव लड़ा और विधायक चुन लिए गए।आहिवारा से विधायक सांवलाराम डहरे वाणिज्यककर अधिकारी रहे हैं।पुलिस से सेवानिवृत हुए रामलाल चौहान भाजपा से सरायपाली से विधायक हैं।
इसी तरह पिछले विधानसभा चुनाव में श्यामलाल कंवर भी पुलिस से सेवानिवृत होकर कोरबा जिले की रामपुर सीट कांग्रेस से विधायक बने।श्री रामविचार नेताम शिक्षक रहे हैं। लगातार दो बार विधायक और मंत्री रहने के बाद अभी वे भाजपा से राज्यसभा सदस्य हैं। इसके पूर्व पुलिस की नौकरी छोड कर पीआर खुंटे विधायक और सांसद बने थे। उनसे पहले कृषि अधिकारी फूलसिंह भी विधायक रह चुके हैं।
इस बार होने वाले विधानसभा चुनावों में भी कई नौकरशाह चुनावी मैदान में कूदने वाले है। सेवानिवृत आईएएस एमएस पैकरा और सेवानिवृत एसडीओ अर्जुन हिरवानी को जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने अपनी पार्टी से प्रत्याशी बनाया है। पैकरा पत्थलगांव और हिरवानी संजारी-बालोद विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।
सुरेंद्र.साहू
जारी.वार्ता
image