Friday, Sep 21 2018 | Time 17:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विमानों में शराब परोसनी बंद की जाये: चावला
  • न्यूयार्क में भारत-पाकिस्तान विदेश मंत्रियों के बीच नहीं होगी बैठक
  • ट्रक ने जीप को मारी टक्कर, छह मरे
  • रुपये की संदर्भ दर
  • चीनी में तेजी; अधिकांश जिसों में टिकाव
  • दिल्ली की हैदराबाद पर जीत में चमके राणा
  • झांसी में निकालेे गये ताजिये जुलूस
  • शोपियां में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि
  • विश्व बैंक समूह भारत को देंगे करीब 30 अरब डॉलर
  • भारत और मंगोलियाई सैनिकों ने रण कौशल के गुर साझा किये
  • आयुष्मान भारत के लिए झारखंड और एनआईसीएल के बीच करार
  • सर्जिकल स्ट्राइक दिवस मनाना राजनीतिकरण करना नहीं: जावड़ेकर
  • जमीन खरीदने में बिहार भाजपा अध्यक्ष ने किया घोटाला : सुधीर
  • संत समाज का तीन-चार नवंबर को तालकटोरा में सम्मेलन
  • निर्यातकों आैर छोटे उद्योगों को प्राथमिकता से मिले उधार : प्रभु
राज्य Share

उत्तर प्रदेश में याद किये गये भारतरत्न गोविन्द बल्लभ पंत

उत्तर प्रदेश में याद किये गये भारतरत्न गोविन्द बल्लभ पंत

लखनऊ/जौनपुर, 10 सितम्बर (वार्ता) भारत रत्न एवं उत्तर प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री गोविन्द बल्लभ पंत का 131 वां जन्मदिन सोमवार को राजधानी लखनऊ समेत राज्य के तमाम इलाकों में पूरी शिद्दत के साथ मनाया गया।

लखनऊ में राज्यपाल रामनाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधान भवन के सामने स्थित श्री पंत की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इलाहाबाद, वाराणसी,जौनपुर,कानपुर और बरेली में महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला गया। कई स्थानों पर प्रभातफेरी निकाल कर भारत रत्न के प्रति सम्मान का इजहार किया गया।

श्री नाईक ने कहा कि श्री पन्त का व्यक्तित्व एवं कृतित्व सभी के लिए प्रेरक है। उन्होेंने स्वाधीनता आन्दोलन को प्रदेश में गति देने का काम किया। काकोरी रेल काण्ड के शहीदों का समर्थन करने वाले वकीलों में वे भी थे। जमींदारी उन्मूलन में पं0 गोविन्द बल्लभ पन्त का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। भाषायी राज्यों के पुनर्गठन में भी उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी।

श्री याेगी ने कहा कि पन्त जी ने प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री के रूप में राज्य को यशस्वी नेतृत्व दिया। प्रदेश के विकास में पन्त जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने स्वाधीनता आन्दोलन को एक नई दिशा देने का काम किया। भारत सरकार के गृह मंत्री के रूप में उन्होंने आन्तरिक सुरक्षा को मजबूत करने का कार्य किया था। भारतीय संविधान में हिन्दी को राज भाषा के रूप में मान्यता दिलाने में पं0 गोविन्द बल्लभ पन्त की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

More News

हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक 25 सितम्बर को

21 Sep 2018 | 5:43 PM

 Sharesee more..

बीच-बचाव करने आए पिता की हत्या

21 Sep 2018 | 5:40 PM

 Sharesee more..

ट्रक ने जीप को मारी टक्कर, छह मरे

21 Sep 2018 | 5:39 PM

 Sharesee more..

मुरादाबाद में बस की टक्कर से एक मरा

21 Sep 2018 | 5:32 PM

 Sharesee more..
image