Saturday, Nov 17 2018 | Time 16:32 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सीट बंटवारे के लिए रालोसपा ने भाजपा को दी 30 नवंबर की डेडलाइन
  • अयोध्या में चौदह कोसी परिक्रमा सम्पन्न
  • खरसिया का गढ़ बचाने कांग्रेस को बहाने पड़ रहे आंसू
  • बादल जत्थेदारों को अपने सरकारी निवास पर तलब करने का मकसद बतायें
  • 45 तालुका आंशिक सूखाग्रस्त घोषित
  • वित्त मंत्रालय में अपने काम से संतुष्ट : अधिया
  • सरकार की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाने के लिये भाजपा ने निकाली कमल संदेश बाइक रैली
  • गुजरात में समुद्र के खारे पानी को पीने योग्य बनाने वाले संयंत्र के लिए समझौता
  • बिस्कुट ट्रॉफी के बाद पाकिस्तान खेलेगा ‘ओये होये ट्रॉफी’
  • रामाराव की पौत्री सुहासिनी ने दाखिल किया नामांकन पत्र
  • जोगी ने धर्म ग्रन्थों को हाथ में लेकर भाजपा को समर्थन नही देने की ली शपथ
  • जोगी ने धर्म ग्रन्थों को हाथ में लेकर भाजपा को समर्थन नही देने की ली शपथ
  • रामाराव की पौत्री सुहासिनी ने दाखिल किया नामांकन पत्र
  • वर्ष 1971 के युद्ध के हीराे ​ब्रि0 कुलदीप सिंह चांदपुरी नहीं रहे
  • अमरिंदर के राजनीतिक सचिव करनपाल सेखों का निधन
राज्य Share

केंद्र की गलत नीतियों से अर्थव्यवस्था पटरी से उतारी : जाखड़

केंद्र की गलत नीतियों से अर्थव्यवस्था पटरी से उतारी : जाखड़

जालंधर 10 सितंबर (वार्ता) पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सांसद सुनील जाखड़ ने सोमवार को कहा कि केन्द्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार की गलत नीतियों के कारण देश की अर्थव्यवस्था पटरी से उतर चुकी है।

पेट्रोल, डीजल की कीमतों में बढोत्तरी को लेकर कांग्रेस द्वारा आहूत बंद में हिस्सा लेने आए श्री जाखड़ ने पत्रकारों से कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिना किसी से मशवरा किए नोटबंदी कर दी तथा फिर वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) देश की आर्थिक व्यवस्था को नुकसान पहुंचाया है। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री किसी भी फैसले को लागू करने से पहले अपने किसी मंत्री से मशवरा नहीं करते जबकि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने कभी भी अर्थव्यवस्था को गड़बड़ाने नहीं दिया। उन्होने कहा कि भाजपा शासन में रूपये की कीमत तेजी से गिर रही है जबकि पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतें आसमान छू रही हैं।

केन्द्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल को (जीएसटी) के दायरे में लाने के वयान पर प्रतिक्रिया देते हुए श्री जाखड़ ने कहा कि भाजपा को ऐसा विचार चुनावों के मद्देनजर ही आ रहा है। उन्होने पिछले चार वर्षों में मंहगाई पर लगाम लगाने की कोई कोशिश नहीं की है। उन्होने कहा कि भाजपा पेट्रोल पर अब तक सर्वाधिक 12 वार आबकारी शुल्क बढ़ा चुकी है। उन्होने कहा कि केन्द्र में कांग्रेस शासन दौरान 14 मई 2011 को अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 107 डॉलर प्रति बैरल थी तब भी कांग्रेस ने पेट्रोल के दामों को बढने नहीं दिया जबकि इसके विपरीत छह सितंबर को कच्चे तेल की कीमत 73 डॉलर रह गई है और पेट्रोल 86 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।

श्री जाखड़ ने कहा कि केन्द्र सरकार ने पेट्रोलिय पर लगे करों से साढ़े तेरह लाख करोड़ रुपये एकत्रित किए हैं। उन्होने मांग की है कि तेल की कीमतों को कम करते हुए टैक्सों द्वारा प्राप्त किए इस पैसे को लोगों के कल्याण के लिए खर्च किया जाए। उन्होने कहा कि बढ़ी हुई कीमतों का हर वर्ग पर प्रभाव पड़ता है। इसका जवाब लोग आगामी लोकसभा चुनावों में देंगे।

ठाकुर.संजय

जारी.वार्ता

More News

अयोध्या में चौदह कोसी परिक्रमा सम्पन्न

17 Nov 2018 | 4:30 PM

 Sharesee more..

17 Nov 2018 | 4:28 PM

 Sharesee more..
image