Friday, Apr 19 2019 | Time 12:18 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तेलंगाना में लॉरी की टक्कर से दो श्रद्धालुओं की मौत
  • बोल्ड गर्ल के तौर पर अपनी पहचान बनायी ममता कुलकर्णी ने
  • बोल्ड गर्ल के तौर पर अपनी पहचान बनायी ममता कुलकर्णी ने
  • सहारण हत्याकांड के चश्मदीद गवाह के घर पर फायरिंग
  • गुजरात में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे हार्दिक पटेल को मारा तमाचा
  • हैदराबाद में रेल निलयम भवन में आग, कोई हताहत नहीं
  • छत्तीसगढ़ में बारातियो को लेकर जा रहे वाहन के पलटने से सात मरे
  • जीत का विश्वास, भाजपा को हराने का लक्ष्य है: धवलीकर
  • दक्षिण और पूर्वोत्तर ने कांग्रेस के बुरे समय में दिया साथ
  • भुवनेश्वर में पूर्व-नौकरशाहों के बीच जंग
  • राजस्थान में चार दलबदलू हैं चुनाव मैदान में
  • मैक्सिको में विमान से 429 किग्रा मारिजुआना बरामद
  • कश्मीर में ट्रेन और मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल
  • केरल में भारी बारिश की चेतावनी
  • उ कोरिया ने बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण नहीं किया: शनहान
राज्य


केंद्र अौर राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल : सपा

केंद्र अौर राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल : सपा

झांसी 10 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के झांसी में समाजवादी पार्टी (सपा) ने केंद्र और राज्य की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर हर माेर्चे पर विफल रहने का आरोप लगाते हुए सोमवार को जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा।

कांग्रेस और सपा आज दोनों ही पार्टियों ने भाजपा को घेरने की कोशिश की। एक ओर कांग्रेस ने तेल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर भारत बंद का आयोजन तो दूसरी ओर सपा ने केंद्र और राज्य सरकार पर हर मोर्चे पर विफलता का आरोप लगाते हुए राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा। सपा के जिलाध्यक्ष छत्रपाल सिंह यादव, महानगर अध्यक्ष करामत बेग, पूर्व विधान परिषद सदस्त श्याम सुंदर सिंह यादव के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी कार्यालय में पहुंचकर प्रदर्शन किया और इसके बाद जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को समस्याओं से अवगत कराया।

जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी को सौंपे ज्ञापन में बताया गया कि उत्तर प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार बनी है तभी से कानून व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। जगह-जगह अपराधिक घटनायें हो रही है जिससे जनता भयभीत होकर जीवन जी रही है। कानून व्यवस्था खराब होने से दिन दहाड़े लूट और दुष्कर्म जैसी घटनायें हो रही हैं। किसानों का बकाया कर्ज माफी न होने से वह आत्महत्या करने को मजबूर हो रहा है।

विश्वविद्यालयों में फीस की बढोत्तरी कर छात्र-छात्राओं को उत्पीड़न किया जा रहा है। केंद्र में भी सरकार की नीतियों का खामियाजा आम आदमी को उठाना पड़ रहा है। पेट्रोल और डीजल की बेतहाशा बढती कीमतों ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। लोगों की आमदनी प्रभावित होने लगी है और सरकार अच्छे दिन आने के सब्जबाग दिखा रही है। सपाइयों ने इन समस्याओं के शीघ्रातिशीघ्र निराकरण की मांग की।

image