Thursday, Nov 15 2018 | Time 19:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अक्टूबर में निर्यात करीब 18 फीसदी बढ़ा
  • हुड्डा की मुश्किलें बढ़ीं, नेशनल हेराल्ड मामले में चलेगा मुकदमा
  • अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को सौंपा पुलिस अधिकारी डावर का शव
  • राफेल पर फ्रांस ने नहीं दी गारंटी : राहुल
  • दक्षिण भारतीय एथलीटों का वर्चस्व कायम, जीते 23 पदक
  • बीडीओ की अनिश्चितकालीन हड़ताल 26 नवंबर से
  • रेरा में 33,750 परियोजनाओं और 26,018 एजेंटों का पंजीकरण
  • बेबी रानी मौर्य ने सद्भावना यात्रा पर आये बच्चों से मुलाकात की
  • छेत्री-मीकू की जोड़ी पर निर्भर है बेंगलुरू
  • सीट बंटवारे को लेकर शाह से मिलेंगे उपेंद्र
  • नेशनल हेराल्ड मामला :हुड्डा के खिलाफ चार्जशीट पेश कर सकती है सीबीआई
  • दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में रात में ठंडी बढ़ी
  • चंद्र मोहन जम्मू नगर निगम के महापौर, तथा पूर्णिमा उप महापौर निर्वाचित
  • फोटो कैप्शन- दूसरा सेट
राज्य Share

देश के मुखिया को राजा की तरह व्यवहार करना चाहिए

मुंबई 10 सितंबर (वार्ता) ईंधन के बढ़ते दाम के विरोध में भारत बंद का समर्थन करने वाले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे ने कहा कि देश के मुखिया को राजा की तरह व्यवहार करना चाहिए व्यापारी की तरह नहीं।
श्री ठाकरे बंद के समाप्त होने के बाद संवाददाताओं से कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पुराने भाषणों को देखो कि किस तरह उस समय ईंधन के बढ़े दाम का वह विरोध कर रहे थे और आज उनके ही समय में ईंधन के दाम बढ़ते ही जा रहे हैं।
श्री ठाकरे ने शिव सेना के बंद में शामिल नहीं होने के संबंध में पूछे गये प्रश्न के जवाब में कहा कि शिव सेना का स्वत: का कोई निर्णय नहीं है और उन्हें क्या करना चाहिए यह भी पता नहीं है। शिव सेना का दोहरा मापदंड है।
उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के मामले में पूरी तरह असफल होने के कारण तेल के नाम पर लोगों के जेब में हाथ डाला जा रहा है।
उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जो कहती थी कि उनकी पार्टी अन्य पार्टियों से अलग है वह दिखता नहीं है। भाजपा सरकार ईंधन के बढ़ते दाम पर उनका हाथ नहीं है, कहकर पल्ला झाड़ लेते हैं।
त्रिपाठी.श्रवण
वार्ता
image