Wednesday, Jul 17 2019 | Time 18:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दस घंटों के ऑपरेशन के बाद मैकेनिक के दोनों कटे पैर जोड़े
  • नेमार फाइव स्पर्धा में हंगरी, स्लोवाकिया बने विजेता
  • पहले दिन किआ सेल्टॉस की रिकार्ड बुकिंग
  • केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने एनआईडी संशोधन विधेयक 2014 को दी मंजूरी
  • एनआईए को विदेश में भी जांच का अधिकार, कानून का दुरूपयोग नहीं: अमित शाह
  • 2019-20 के लिए विभिन्न मंत्रालयों एवं विभागों की अनुदान माँगे (गिलोटीन) तथा उनसे संबंधित विनियोग विधेयक लोकसभा में पारित
  • प्रणव सिंह चैम्पियन को भाजपा ने किया पार्टी से निष्कासित
  • ईपेलेटर की ईजमायट्रिप से करार
  • विश्वास मत में हिस्सा लेने या नहीं लेने का फैसला अभी नहीं:बसपा विधायक
  • इंज़माम ने छोड़ा पाकिस्तान बोर्ड के मुख्य चयनकर्ता का पद
  • इंज़माम ने छोड़ा पाकिस्तान बोर्ड के मुख्य चयनकर्ता का पद
  • रात्रि भोज के साथ हिमाचल सरकार की आचार्य देवव्रत को विदाई
  • लखनऊ राजभवन में स्वामी विवेकानन्द की मूर्ति का अनावरण
राज्य


विपक्ष की नकारात्मक सोच ने देश का किया नुकसान : योगी

विपक्ष की नकारात्मक सोच ने देश का किया नुकसान : योगी

लखनऊ,10 सितम्बर (वार्ता) विपक्षी दलों के भारत बंद पर प्रहार करते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बढती लोकप्रियता से निराश और हताश विपक्ष की नकारात्मक सोच ने देश का खासा नुकसान किया है।

श्री योगी ने साेमवार को यहां पत्रकारों से कहा “ भारत बंद दरअसल विपक्ष की नकारात्मक सोच काे दर्शाता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश तेजी सेे आगे बढ रहा है जिससे कांग्रेस समेत समूचा विपक्ष निराश और हताश है। उनके लिये करने को कुछ नही है, इसीलिये उन्होने बंद का आह्वान कर करोडो भारतीयों के कठिन परिश्रम को ललकारा है। भगवान उन्हें सदबुद्धि दे। वह निराशा के गर्त से बाहर आयें और भारत को मजबूत बनाने में प्रधानमंत्री की मदद करेे।”

उन्होने कहा कि विपक्ष को अपनी सोच को बदलने की जरूरत है वरना देश की जनता उन्हे नकार देगी। लोगों ने पहले ही उन्हें सत्ता से बेदखल कर रखा है और अगर वे इसी तरह के बेफिजूल हथकंडे अपनाते रहे तो उन्हें जनता के कोपभाजन का शिकार बनना पडेगा।

मुख्यमंत्री ने दावा किया कि श्री मोदी के नेतृत्व में देश विकास के पथ पर अग्रसर है। दुनिया भारत की तेजी से आगे बढती अर्थव्यवस्था की प्रत्यक्ष गवाह है। मोदी सरकार की सामाजिक कल्याण की योजनाये तेजी से लोकप्रिय हो रही है। इस परिदृश्य में विपक्षी दलों के भारत बंद का क्या औचित्य है।

श्री योगी ने कहा “ समस्या यह है कि विपक्षी दलों के पास ना कोई नेता है और ना ही देश के विकास के बारे में कोई योजना है। ऐसे में विपक्षी दलों को चाहिये कि वे सरकार के साथ हाथ मिला लें जिससे विकास के मामले में जनता के बीच एक अच्छा संदेश जा सके।

गौरतलब है कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढोत्तरी के विरोध में कांग्रेस और वामपंथी दलों ने आज भारत बंद का आह्वान किया था। समाजवादी पार्टी ने सीधे तौर पर बंद में हिस्सा नही लिया लेकिन उसने तहसील स्तर पर धरना प्रदर्शन कर केन्द्र सरकार की नीतियों का विरोध किया। बहुजन समाज पार्टी ने हालांकि विरोध में हिस्सा नही लिया।

image