Monday, Feb 18 2019 | Time 03:13 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ‘नयी सुविधाओं’ से जवानों के काफिले को सुरक्षित बनाया जाएगा: भटनागर
  • फ्रांस में सरकार विरोधी प्रदर्शन के तीन महीने पूरे
  • लीबिया में खुफिया विभाग के पूर्व प्रमुख डोरडा हुआ रिहा
  • केरल में युवक कांग्रेस के दो कार्यकर्ताओं की हत्या
  • गृह मंत्रालय ने जम्मू-श्रीनगर क्षेत्र में सीआरपीएफ जवानों के लिए हवाई सुविधा मामले में स्पष्टीकरण दिया
राज्य Share

नैनीताल से सभी जिलों को बस सेवा से जोड़ें: हाईकोर्ट

नैनीताल 10 सितंबर (वार्ता) उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने नैनीताल को सभी जिला मुख्यालयों को रोडवेज परिवहन से जोड़ने का सोमवार को आदेश दिया। न्यायालय ने गोपेश्वर से नैनीताल के लिये रोडवेज परिवहन सेवा शुरू करने को भी कहा है।
कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राजीव शर्मा और न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की युगल पीठ ने गोपेश्वर चमोली से भेजे गये पत्र का स्वत: संज्ञान लेते हुए ये आदेश जारी किये हैं।
पत्र में कहा गया था कि गोपेश्वर और नैनीताल के बीच नियमित रोडवेज परिवहन सेवा नहीं है। इसलिये ग्रामीण लोगों को नैनीताल उच्च न्यायालय तक पहुंचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।
न्यायालय ने अपने आदेश में कहा कि लोगों का मौलिक अधिकार है कि वे सुदूर गांवों से नैनीताल आकर उच्च न्यायालय में अपनी बात रख सकें। नैनीताल जनपद मुख्यालय से राज्य के अन्य सभी जिला मुख्यालयों की दूरी काफी है। सुनवाई के दौरान परिवहन निगम की ओर से नैनीताल से गोपेश्वर के लिये 11 सितम्बर से ही बस सेवा शुरू करने पर भी सहमति दी गयी।
परिवहन निगम की ओर से यह भी बताया गया कि निगम की ओर राज्य के पहिवहन बेड़े में 250 नयी बसों को जोड़ा जा रहा है। इसके बाद न्यायालय ने परिवहन निगम को आदेश दिया कि वह नैनीताल से टिहरी, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़, चंपावत, पौड़ी, बागेश्वर और रूद्रप्रयाग जिलों के लिये चार सप्ताह में बस सेवा शुरू करे।
न्यायालय ने यह भी कहा कि परिवहन सचिव इस संबंध में जल्द ही राज्य के वित्त सचिव से वार्तालाप करें। साथ ही कहा कि यदि सरकार को इस मामले में दिक्कतें हो तो वह कोर्ट के सामने अपनी बात रखने को स्वतंत्र है।
रवीन्द्र.संजय
वार्ता
More News

उत्तर प्रदेश आईपीएस तबादले दो अंतिम लखनऊ

17 Feb 2019 | 11:31 PM

 Sharesee more..
भाजपा नागरिकता संशोधन विधेयक लाने के लिए प्रतिबद्ध: अमित शाह

भाजपा नागरिकता संशोधन विधेयक लाने के लिए प्रतिबद्ध: अमित शाह

17 Feb 2019 | 11:21 PM

गुवाहाटी, 17 फरवरी (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को यहां इस बात पर जोर देकर कहा कि अगर केन्द्र में उनकी पार्टी फिर से सत्ता में आई तो एक बार फिर से नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) लाया जाएगा।

 Sharesee more..
image