Thursday, Feb 21 2019 | Time 19:16 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमृतसर की पुरानी जेल में बनेगा वाणिज्यिक केंद्र
  • यूनिवर्सल हेल्थकेयर सुनिश्चित करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध: नड्डा
  • कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करें सिख : भौमा
  • भारत, दक्षिण कोरिया के साथ मिलकर इलेक्ट्राॅनिक हब बनेगा: मोदी
  • शाह करेंगे शक्ति केंद्र कार्यकर्ताओं के साथ बैठक
  • नाबालिग भतीजी से बलात्कार : अंतिम सांस तक कैद की सजा
  • कर्मचारी भविष्य निधि जमा पर 8़ 65 प्रतिशत ब्याज देने की सिफारिश
  • हिमाचल प्रदेश, कश्मीर में हिमपात के आसार
  • आईआईटी रूड़की में स्टेनलेस स्टील और एडवांस्ड कार्बन स्पेशल स्टील पर पाठ्यक्रम
  • जावड़ेकर ने किया देहरा में केंद्रीय विश्वविद्यालय का शिलान्यास
  • 34 हजार कर्मचारी हड़ताल पर,30 लाख यात्री परेशान
  • किसान सम्मेलन में प्रतिनिधियों को मिलेगा उनके क्षेत्र का भोजन
  • सिद्धू को फिल्मसिटी में प्रवेश नहीं देने के लिए पत्र लिखा गया
  • झांसी: स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के लिए अंतरर्राज्यीय समन्वय बैठक में हुआ मंथन
  • गंगा को स्वच्छ करने का काम 30 फीसदी पूरा: गडकरी
राज्य Share

मासूम के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में उम्रकैद

सोनीपत, 10 सितंबर (वार्ता) हरियाणा में सोनीपत की एक अदालत ने छह साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म करने के बाद हत्या करने के मामले में दोषी को सोमवार काे उम्रकैद की सजा सुनाई।
अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डा. सुनीता ग्रोवर की अदालत ने आज मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी मंजीत को दोषी करार दिया है। उसे हत्या के मामले में उम्रकैद और 25 हजार रुपये जुर्माना, शव को क्षत विक्षत करने के मामले में सात साल कैद और 10 हजार रुपये जुर्माना तथा 6 पोक्सो एक्ट में 10 साल कैद और 20 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न देने पर उसे छह माह अतिरिक्त कैद की सजा भुगतनी होगी। उस पर कुल 55 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मूलरूप से उत्तर प्रदेश और फिलहाल खरखौदा थाना क्षेत्र के गांव के रहने वाले व्यक्ति ने 14 नवंबर, 2016 को शिकायत दी थी कि उसके पड़ोसी मंजीत ने उसकी छह वर्षीय बेटी को अपने घर में ले जाकर दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी। बाद में आरोपी ने बच्ची के शव को खुर्द-बुर्द करने के लिए बोरे में बंद कर तूड़े के कमरे में डाल दिया था। बच्ची को तलाश करते हुए लडक़ी का पिता जब आरोपी के घर गया तो वह उसे देखकर फरार हो गया था। बोरे से बच्ची का शव मिला था। उसके गले और मुंह पर चोट के निशान थे।
शिकायत पर पुलिस ने हत्या, दुष्कर्म और अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। बाद में एसआईटी, खरखौदा की तत्कालीन प्रभारी राज सिंह की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।
सं.संजय
वार्ता
image