Wednesday, Jul 24 2019 | Time 14:16 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भाजपा विधायकों ने की विधानसभा अध्यक्ष के इस्तीफे की मांग
  • दो लाख 95 हजार श्रद्धालुआें ने किये बाबा बर्फानी के दर्शन
  • मार्च 2022 तक भारत - पाकिस्तान सीमा पर बाड़ लग जाएगी: सरकार
  • भाजपा कर्नाटक प्रमुख को केन्द्रीय नेतृत्व के निर्देश का इंतजार
  • बाढ़ और सुखाड़ में किसानों की तरह मछली पालकों को भी क्षतिपूर्ति देती है सरकार
  • प्रवासी भारतीयों की 50 हजार से अधिक शिकायतें मिली
  • कश्मीर पर मध्यस्थता स्वीकार करने का कोई औचित्य नहीं : राजनाथ
  • निजी भागीदारी से हवाई अड्डे फायदे में
  • नंबर एक और दो का आदेश हो जाए, तो एक दिन भी नहीं लगेगा - भार्गव
  • 70 प्रतिशत गायों में होगा कृत्रिम गर्भाधान: गिरिराज
  • विंडीज़ दौरे की तैयारी में जुटे धवन
  • विंडीज़ दौरे की तैयारी में जुटे धवन
  • बालटाल आधार शिविर में अमरनाथ तीर्थयात्री की मौत
  • राज्यसभा ने अपने पांच सदस्यों को दी विदाई
राज्य


मासूम के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में उम्रकैद

सोनीपत, 10 सितंबर (वार्ता) हरियाणा में सोनीपत की एक अदालत ने छह साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म करने के बाद हत्या करने के मामले में दोषी को सोमवार काे उम्रकैद की सजा सुनाई।
अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डा. सुनीता ग्रोवर की अदालत ने आज मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी मंजीत को दोषी करार दिया है। उसे हत्या के मामले में उम्रकैद और 25 हजार रुपये जुर्माना, शव को क्षत विक्षत करने के मामले में सात साल कैद और 10 हजार रुपये जुर्माना तथा 6 पोक्सो एक्ट में 10 साल कैद और 20 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न देने पर उसे छह माह अतिरिक्त कैद की सजा भुगतनी होगी। उस पर कुल 55 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मूलरूप से उत्तर प्रदेश और फिलहाल खरखौदा थाना क्षेत्र के गांव के रहने वाले व्यक्ति ने 14 नवंबर, 2016 को शिकायत दी थी कि उसके पड़ोसी मंजीत ने उसकी छह वर्षीय बेटी को अपने घर में ले जाकर दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी। बाद में आरोपी ने बच्ची के शव को खुर्द-बुर्द करने के लिए बोरे में बंद कर तूड़े के कमरे में डाल दिया था। बच्ची को तलाश करते हुए लडक़ी का पिता जब आरोपी के घर गया तो वह उसे देखकर फरार हो गया था। बोरे से बच्ची का शव मिला था। उसके गले और मुंह पर चोट के निशान थे।
शिकायत पर पुलिस ने हत्या, दुष्कर्म और अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। बाद में एसआईटी, खरखौदा की तत्कालीन प्रभारी राज सिंह की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।
सं.संजय
वार्ता
image