Tuesday, Sep 25 2018 | Time 16:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पांच दिनों की गिरावट से उबरा शेयर बाजार
  • चुनावी साल में मोदी का मंत्र, मेरा बूथ सबसे मजबूत
  • कार्यकर्ता सीना चौड़ा कर लोगों के बीच जाएं - अमित शाह
  • पुलिस कर्मी की भाभी ने गोली चलाकर की खुदकुशी
  • इंस्टाग्राम के सह-संस्थापक केवन और माइक ने दिया इस्तीफा
  • चुनाव खर्च में अनियमितताओं पर इमरान सहित 141 को नोटिस
  • दीनदयाल के साथ हमें गांधी-लोहिया भी मंजूर - मोदी
  • मुझे सेवा का मौका दीजिए - मोदी
  • ईरान से व्यापार जारी रखने के लिए नयी भुगतान प्रणाली बनायेंगे कई देश
  • देश में गठबंधन में असफल कांग्रेस अब बाहर खोज रही : मोदी
  • सीलमपुर से लापता दो बहनों के शव अलीपुर में मिले
  • पाकिस्तान और बंगलादेश में होगा सेमीफाइनल
  • सैमसंग का ट्रिपल रियर कैमरा स्मार्टफोन भारतीय बाजार में
  • और तेजी से बढ़ेगी बिजली की माँग : सिंह
राज्य Share

मासूम के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में उम्रकैद

सोनीपत, 10 सितंबर (वार्ता) हरियाणा में सोनीपत की एक अदालत ने छह साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म करने के बाद हत्या करने के मामले में दोषी को सोमवार काे उम्रकैद की सजा सुनाई।
अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डा. सुनीता ग्रोवर की अदालत ने आज मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी मंजीत को दोषी करार दिया है। उसे हत्या के मामले में उम्रकैद और 25 हजार रुपये जुर्माना, शव को क्षत विक्षत करने के मामले में सात साल कैद और 10 हजार रुपये जुर्माना तथा 6 पोक्सो एक्ट में 10 साल कैद और 20 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न देने पर उसे छह माह अतिरिक्त कैद की सजा भुगतनी होगी। उस पर कुल 55 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मूलरूप से उत्तर प्रदेश और फिलहाल खरखौदा थाना क्षेत्र के गांव के रहने वाले व्यक्ति ने 14 नवंबर, 2016 को शिकायत दी थी कि उसके पड़ोसी मंजीत ने उसकी छह वर्षीय बेटी को अपने घर में ले जाकर दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी। बाद में आरोपी ने बच्ची के शव को खुर्द-बुर्द करने के लिए बोरे में बंद कर तूड़े के कमरे में डाल दिया था। बच्ची को तलाश करते हुए लडक़ी का पिता जब आरोपी के घर गया तो वह उसे देखकर फरार हो गया था। बोरे से बच्ची का शव मिला था। उसके गले और मुंह पर चोट के निशान थे।
शिकायत पर पुलिस ने हत्या, दुष्कर्म और अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। बाद में एसआईटी, खरखौदा की तत्कालीन प्रभारी राज सिंह की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।
सं.संजय
वार्ता
image