Wednesday, Jun 26 2019 | Time 19:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गर्मी-उमस के कारण पंजाब-हरियाणा में बिजली मांग में रिकार्ड तोड़ वृद्धि
  • सशक्त टीम के रुप में उभर रही है महिला फुटबॉल टीम : एंब्रोस
  • व्यापारिक अड़चनों को दरकिनार कर रणनीतिक साझीदारी मजबूत करेंगे भारत और अमेरिका
  • इनेलो का एकमात्र राज्यसभा सांसद भाजपा में शामिल
  • हैंडबाल की इंटरनेशनल चैंपियनशिप की मेजबानी का दावा करेगा भारत
  • प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए राज्य में शैक्षणिक वातावरण जरूरी -भूपेश
  • फरीदाबाद, रेवाड़ी, यमुनानगर में बनेंगे एडीआर केंद्र
  • नीतीश के समक्ष नगर विकास एवं आवास विभाग ने दिया प्रस्तुतीकरण
  • तीन और सदस्य लोकसभा की सभापति तालिका में शामिल
  • जल संचय के लिए व्यक्तिगत पहल की जरुरत: शेखावट
  • सुप्रीम कोर्ट ने लगाई सक्सेना की विदेश यात्रा पर रोक
  • वित्त मंत्री, आयुष राज्य मंत्री तथा इस्पात राज्य मंत्री ने उपराष्ट्रपति से भेंट की
  • सेज संशोधन विधेयक ध्वनिमत से लोकसभा में पारित
  • खाद्य तेल स्थिर, मूंग दाल व चीनी नरम, चावल स्थिर
  • फिल्म आर्टिकल 15 पर प्रतिबन्ध लगाने की याचिका दायर
राज्य


भारत बंद के दौरान वाराणसी में ‘गांधीगिरी”, बैल गाड़ी से महिलाओं किया प्रदर्शन

वाराणसी, 10 सितंबर (वार्ता) पेट्रोल, डीजल एवं रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ काग्रेस एवं अन्य विपक्षी दलों का “भारत बंद” उत्तर प्रदेश के वाराणसी में शांतिपूर्ण रहा। शहरी इलाके में अधिकांश दुकानें बंद रहीं जबकि ग्रामीण में मिलाजुला असर दिखने को मिला।
कांग्रेस, समाजवादी पार्टी (सपा) एवं वामपंथी दलों के कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने पार्टी के झंडे एवं बैनर लेकर जगह-जगह जुलूस निकाला और लोगों से बंद में शामिल होने की अपील की। बंद समर्थकों ने केंद्र की मोदी सरकार को महंगाई के लिए जिम्मेवार ठहराते हुए उनके खिलाफ नारे लगाये। बंद समर्थकों ने कई स्थानों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान के पुतले फूंककर अपना रोष प्रकट किया।
महिला कांग्रेस की ओर से बैल गाड़ी पर रसोई गैस सिलेंडर रखकर जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारी महिलाओं ने लकड़ी एवं गोबर से बने गोइठा पर खाना बनाकर रसोई गैस की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि का प्रतिकात्मक विरोध किया। सपा कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह धरना दिया और हाथों में जंजीर बांधकर के महंगाई का विरोध किया। कार्यकर्ता जिला मुख्यालय पहुंचे और वहां मोदी के सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वामपंथी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने एक बैनर तले महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार एवं पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि का विरोध किया। कांग्रेस सेवा दल के कार्यकर्ताओं ने दुकानदारों को गेंदे का फूल भेंट कर ‘गांधीगरी’ की और उनसे महंगाई के खिलाफ अपनी दुकानें बंद करने की गुजारिश की।
शहरी इलाके में गोदौलिया, चौक, मैदागिन, दालमंडी, सिगरा, दशाश्वमेध, नई सड़क, औरंगाबाद, हथुआ मार्केट, चेतगंज, लहुराबीर, अर्दनली बाजार, लंका, गुर्गाकुंड आदि इलाकों में अधिकाशं दुकानें बंद रहीं। ग्रामीण इलाके में फूलपुर, राजातालाब, पिंडरा, रोहनिया आदि इलाके में बंद का मिलाजुला असर दिखा।
शहरी इलाके में कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी के नेतृत्व में करीब सात किलोमीटर जुलूस निकाल कर लोगों से बंद का समर्थन करने की अपील की। वरुणापार में पूर्व सांसद राजेश मिश्र के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली और लोगों से बंद का समर्थन करने का अनुरोध किया।
श्रीमती चतुर्वेदी के नेतृत्व में रैली लहुराबीर आजाद पार्क से आरंभ हुई और व्यापारी बंधुओं से शांतिपूर्ण बंदी की अपील करता हुआ कबीरचौरा होते हुए मैदागिन स्थित राजीव प्रतिमा के पास पंहुचा। जहाँ शहर के विभिन्न क्षेत्रों से कांग्रेस कार्यकर्त्ता जुलुस के रूप में सम्मिलित होकर बुलानाला, चौक, गोदौलिया, नईसड़क, चेतगंज होते हुए लहुराबीर पहुंचकर सभा के रूप में बदल गई, जिसे श्रीमती चतुर्वेदी ने संबोधित किया।
विजयानगर, ईंगलिसिया लाइन क्षेत्र में भी बैजनाथ सिंह और शैलेन्द्र सिंह के नेतृत्व में बन्द की अपील के साथ जूलूस निकल कर लोगों बंद का समर्थन करने की अपील की गई।
हालांकि, लंका (काशी हिंदू विश्वविद्यालय) इलाके के सुसुवाहीं समेत कई इलाकों में दुकानें सामान्य दिनों की तरह खुलीं और यहां चहल-पहल देगी गई।
बीरेंद्र तेज
वार्ता
More News
वोट दें मोदी को,समस्याएं मैं हल करूं: कुमारस्वामी

वोट दें मोदी को,समस्याएं मैं हल करूं: कुमारस्वामी

26 Jun 2019 | 7:18 PM

रायचूर, 26 जून(वार्ता) कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी बुधवार को अपना धैर्य खो बैठे और येरमारुस थर्मल पावर स्टेशन(वाईटीपीएस) के नौकरी से निकाल दिए गए अनुबंधित कर्मचारियों पर भड़कते हुए कहा “आप चाहते हैं कि आपकी समस्याओं का हल मैं करूं किंतु आप चुनाव में वोट नरेंद्र मोदी के पक्ष में देते हैं।’’

see more..
राज्यपाल ने वंदना योजना की राशि समय पर उपलब्ध नही कराने पर जताई नाराजगी

राज्यपाल ने वंदना योजना की राशि समय पर उपलब्ध नही कराने पर जताई नाराजगी

26 Jun 2019 | 7:16 PM

रायपुर 26 जून(वार्ता)छत्तीसगढ़ की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने गर्भवती महिलाओं को प्रधानमंत्री वंदना योजना के तहत मिलने वाली राशि के विलंब से राशि मिलने पर नाराजी जताते हुए कहा कि इससे इस योजना का उद्देश्य पूरा नही हो सकता।

see more..
image