Friday, Apr 19 2019 | Time 06:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कांगो में नाव पलटने से 104 लोगों की मौत, 30 को बचाया गया
  • सत्ता पाने के लिए भाजपा बना रही है कश्मीर को बलि का बकरा: महबूबा
  • भाजपा ने की कांग्रेस नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
राज्य


मोहर्रम की चौकी का निकाला गया जुलूस

अजमेर 10 सितंबर (वार्ता) वर्तमान इस्लामिक हिजरी संवत 1440 के जिलहिज्ज महीने की आज चांद की 29 तारीख होने से मोहर्रम की चौकी का जुलूस अस्र की नमाज के बाद अजमेर में निकाला गया।
इसी के साथ मोहर्रम की शुरुआत हो गई और सूफी संत मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में कव्वालियों का दौर थम गया। हालांकि अभी रात में हिलाल कमेटी चांद दिखाई देने की पुष्टि कर देती है तो मोहर्रम की विधिवत रस्में भी आज रात से ही शुरू हो जाएगी। चौकी की धुलाई दरगाह स्थित झालरा के पवित्र पानी से की गई और अस्र की नमाज के बाद दरगाह गेस्ट हाउस से जुलूस शुरू हुआ। अकीदतमंद सिर पर चौकी रखकर बड़ी शिद्दत के साथ चले और मरसिया पार्टी मरसियाख्वानी करते हुए चली, जुलूस लंगरखाना गली होते हुए रोशनी के वक्त लंगरखाना स्थित ही इमाम बारगाह पहुंचा जहां सलातों सलाम पेश किया गया।
अजमेर में मोहर्रम (मिनी उर्स) के मद्देनजर बाहर से आने वाले जायरीनों का दौर शुरू हो गया है। दरगाह क्षेत्र में आज कांग्रेस के बंद के बावजूद बड़ी संख्या में मुस्लिम मजार शरीफ पर हाजिरी लगाते रहे। क्षेत्र में मेले जैसा माहौल शुरू हो गया है।
सं जोरा
वार्ता
image