Friday, Sep 21 2018 | Time 11:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • उत्तर कश्मीर में सुरक्षा बलों का खोज अभियान फिर शुरू
  • वियतनाम के राष्ट्रपति कुआंग का निधन
  • मोदी ने अजय माकन के जल्द स्वस्थ होने की कामना की
  • अमेरिका के साइराक्यूस शहर में गोलीबारी, सात घायल
  • स्वामी विवेेकानंद के भाषण को स्कूली पाठ्यक्रम में किया जाएगा शामिल
  • दक्षिण कश्मीर में कांस्टेबल और तीन एसपीओ का अपहरण
  • जापान और अमेरिका के बीच व्यापारिक वार्ता 24 सितंबर को
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 सितंबर)
  • आबे और ट्रम्प 26 सितंबर को करेंगे शिखर बैठक
  • आबे और ट्रम्प 26 सितंबर को करेंगे शिखर बैठक
  • अमेरिका में गोलीबारी, चार की मौत, तीन घायल
  • तंजानिया में नाव पलटने से कम से कम 42 की मौत
  • तंजानिया में नाव पलटी,200 से अधिक लोगों के डूबने की आशंका
  • कांग्रेस हथकंडे अपनाने की बजाए मैदान में आकर लड़े चुनाव - राकेश
राज्य Share

इलाहाबाद में गंगा और यमुना शनै: शनै: बढ़ी खतरे के निशान की आेर

इलाहाबाद में गंगा और यमुना शनै: शनै: बढ़ी खतरे के निशान की आेर

इलाहाबाद,11 सितम्बर (वार्ता) तीर्थराज प्रयाग में पतित पावनी गंगा और श्यामल यमुना का जल शनै: शनै: खतरे के निशान की ओर बढ़ता ही जा रहा है। गंगा और यमुना का जलस्तर पिछले 24 घंटे के दौरान 60, 45 और 72 सेंटीमीटर बढ़ गया है।

वर्ष 2016 में आयी बाढ़ ने यहां के तराई क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को बहुत दर्द दिया था। तब भी गंगा ने प्रयाग के कोतवाल कहे जाने वाले बड़े हनुमान जी का जलाभिषेक किया था। गंगा जी ने लम्बे अन्तराल के बाद गत रविवार को हनुमान जी को स्नान कराने के बाद लगातार बढती जा रही हैं जिससे निचले क्षेत्रों में रहने वाले सैकडों लोगों के घरों में पानी घुसना शुरू हो गया। झूंसी-गारापुर मार्ग पानी में डूब गया और एक दर्जन गांव से संपर्क मार्ग टूट गया।

झूंसी-गारापुर मार्ग पर बाढ का पानी भरने से शहर आने-जाने वालों का मुख्य मार्ग से सम्पर्क टूट गया है। हालांकि प्रशासन ने रोजमर्रा के लिए शहर आने जाने वाले लोगों के लिए छोटी नावों की व्यवस्था की है। गंगा के निरंतर बढते जलस्तर से इब्राहिमपुर, हेतापट्टी, बहादुरपुर कछार समेत अन्य गांवो में लाेग एक बार फिर सुरक्षित आशियने की तलाश करने लगे हैं।

दारागंज में दशाश्वमेघ घाट, सब्जीमंडी, बक्शी बांध, नागवासुकी मंदिर के नीचे के हिस्से में बनी झोपड़ियां पानी में डूब गयी तथा कई घरों में पानी घुसने लगा है। श्यामल यमुना के जलस्तर में वृद्धी से उसके कछारी वाले क्षेत्र महेबा, मेाहब्बतगंज, मडौका गांव में खतरा मंडराने लगा है और अासपास के क्षेत्रों में लोगों के मकान में पानी घुसने लगा है।

राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीम ने सोमवार को छोटा बाघड़ा, सलोरी, ढरहरिया, तलियरगंज आदि क्षेत्रों का दौराकर यह जानकारी हासिल की कि किस क्षेत्र में पानी का दबाव बन रहा है जिससे किसी प्रकार की विषम परिस्थिति में लाेगों को राहत प्रदान किया जा सके।

दिनेश प्रदीप

चौरसिया

जारी वार्ता

More News

युवक की पीट-पीटकर हत्या

21 Sep 2018 | 10:59 AM

 Sharesee more..

कुंआ में गिरने से किसान की मौत

21 Sep 2018 | 10:54 AM

 Sharesee more..

युवक की गोली मारकर हत्या , एक घायल

21 Sep 2018 | 10:49 AM

 Sharesee more..

प्रतापगढ़ में अवैध शराब का जखीरा बरामद

21 Sep 2018 | 10:48 AM

 Sharesee more..
image