Thursday, Sep 20 2018 | Time 15:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने खरे के निधन पर शोक जताया
  • अगले ओलम्पिक में खेलने की कोशिश है: योगेश्वर
  • गिर वन के पूर्वी विस्तार में 48 घंटे में तीन शेरों के शव मिलने से सनसनी
  • भारत से औपचारिक जवाब का इंतजार: पाकिस्तान
  • प्रख्यात कवि विष्णु खरे पंच तत्त्व में विलीन
  • उत्तर कोरिया से बातचीत के लिए तैयार: पोम्पियो
  • शहीद के साथ बर्बरता का करार जवाब दे सरकार : कांग्रेस
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
  • पूरे विमानन क्षेत्र के सुरक्षा ऑडिट के आदेश
  • जेट की उड़ान में यात्रियों की नाक से निकाला खून, जाँच के आदेश
  • चीन के बाजार में पैठ बनाने की जुगत में भारत
राज्य Share

राजनीति मायावती कांग्रेस दो अंतिम लखनऊ

सुश्री मायावती ने कहा कि केन्द्र सरकार जनता की परेशानियों से थोड़ी भी चिन्तित अथवा विचलित नजर नहीं आती है जिससे इस सरकार के जनविरोधी और अहंकारी होने के साथ इनके पूँजीपति और धन्नासेठ समर्थक होने का चेहरा भी बेनकाब होता है।
बसपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार इस चुनावी साल में अपने उन बड़े-बड़े पूँजीपतियों और धन्नासेठों को कतई भी नाराज करना नहीं चाहती है जिनके धनबल पर वह केन्द्र की सत्ता में आयी है और फिर उन्हीं के बूते दोबारा सत्ता में आने का सपना देख रही है।
कांग्रेस पर भडास निकालते हुये सुश्री मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने जून 2010 में पेट्रोल को सरकारी नियन्त्रण से मुक्त करने का फैसला किया था जबकि भाजपा सरकार ने कांग्रेस पार्टी की आर्थिक नीति को ना केवल जारी रखा बल्कि इसको और आगे बढाते हुये डीज़ल को भी सरकारी नियन्त्रण से मुक्त कर दिया। इससे स्वाभाविक तौर पर फिर महँगाई के बढने के साथ खेती और किसानी भी काफी ज्यादा प्रभावित हुई।
प्रदीप तेज
वार्ता
image