Wednesday, Sep 26 2018 | Time 12:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • केजरीवाल ने मनमोहन को जन्मदिन की बधाई दी
  • उत्तरी दिल्ली में इमारत गिरी, मलबे में दबे लोग
  • ‘नागराज’ फैसले की समीक्षा की आवश्यकता नहीं : सुप्रीम कोर्ट
  • चेन्नई सर्राफा के शुरुआती भाव
  • मोदी ने एचएएल के 30 हजार करोड़ चुराया: राहुल
  • आभूषण व्यवसायी की गोली मारकर हत्या
  • अमेरिका दे दी ईरान को ‘गंभीर परिणाम’ भुगतने की चेतावनी
  • राहुल ने दी मनमोहन को जन्मदिन की बधाई
  • मोदी ने कोहली, चानू को खेल रत्न की बधाई दी
  • मोदी ने मनमोहन को दी जन्मदिन की बधाई
  • सुषमा ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुधार पर की चर्चा
  • पुलिस ने मुठभेड़ के बाद तीन बदमाशों को किया गिरफ्तार
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 27 सितंबर)
  • फिनलैंड में परमाणु ऊर्जा संयंत्र बनाने के लिए शीघ्र मिलेगा लाइसेंस
  • चुनाव कराना राष्ट्रीय हित में नहीं: थेरेसा मे
राज्य Share

मुंबई में बुधवार से अफगानिस्तान के कृषि उत्पादों का मेला

मुंबई 11 सितम्बर (वार्ता) भारत की कारोबारी संयुक्त राष्ट्रीय विकास एजेंसी (यूएसएड) देश की वाणिज्यिक नगरी मुंबई में बुधवार से चार दिन की प्रदर्शनी आयोजित कर रही है जिसमें अफगानिस्तान के 50 से अधिक कृषि उत्पादक पहली बार हिस्सा लेने आ रहे हैं।
यह प्रदर्शनी 12 से 15 सितम्बर तक आयोजित की जायेगी। इसमें अफगानिस्तान के कृषि उत्पादक भारतीय ग्राहकों के लिए अपने सबसे उत्तम और उच्च मूल्य वाले कृषि उत्पादों को प्रदर्शित करेंगे। अफगानी उत्पादों को “पैसज टू प्रॉस्पेरिटी (पी2पी) इंडिया अफगानिस्तान इंटरनेशनल ट्रेड एंड इन्वेस्टमेंट शो” में प्रदर्शित किया जायेगा।
पी2पी के आयोजन का मकसद भारत में अफगानिस्तान के निर्यात को बढ़ावा देना है। इस मेले के शुरुआती संस्करण का आयोजन पिछले साल दिल्ली में किया गया था। दिल्ली में इस वर्ष जुलाई में “मेड इन अफगानिस्तान : नेचर्स बेस्ट’ प्रदर्शनी आयोजित की गई थी जिसमें 564 करोड़ रुपये के कारोबारी समझौते हुए थे।
अफगानिस्तान के उत्पाद लंबे अर्से से भारतीयों के पसंदीदा रहे हैं। वहाँ के सेब, अंगूर, खुबानी, अनार और किशमिश की भारत में अच्छी माँग है। दिल्ली में अफगानिस्तान से फल आयात करने वाली राधा कृष्ण फ्रूट कंपनी के देवांशु कैरा के अनुसार अफगानिस्तान से निर्यातकों की नयी पीढ़ी तैयार हो गई है जो पारंपरिक फल कारोबािरयों के स्थान पर आधुिनक फल निर्यातक बन गई है।
प्रदर्शनी में कृषि उत्पादों के अलावा वहाँ की शिक्षा, स्वास्थ्य, कपड़ा, रत्न एवं आभूषण, औद्योगिक खनन, एयर कार्गो, परिवहन और ऊर्जा क्षेत्र की झलक भी देखने को मिलेगी।
मिश्रा अजीत
वार्ता
image