Thursday, Nov 15 2018 | Time 19:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राफेल पर फ्रांस ने नहीं दी गारंटी : राहुल
  • दक्षिण भारतीय एथलीटों का वर्चस्व कायम, जीते 23 पदक
  • बीडीओ की अनिश्चितकालीन हड़ताल 26 नवंबर से
  • रेरा में 33,750 परियोजनाओं और 26,018 एजेंटों का पंजीकरण
  • बेबी रानी मौर्य ने सद्भावना यात्रा पर आये बच्चों से मुलाकात की
  • छेत्री-मीकू की जोड़ी पर निर्भर है बेंगलुरू
  • सीट बंटवारे को लेकर शाह से मिलेंगे उपेंद्र
  • नेशनल हेराल्ड मामला :हुड्डा के खिलाफ चार्जशीट पेश कर सकती है सीबीआई
  • दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में रात में ठंडी बढ़ी
  • चंद्र मोहन जम्मू नगर निगम के महापौर, तथा पूर्णिमा उप महापौर निर्वाचित
  • फोटो कैप्शन- दूसरा सेट
  • हथियार के साथ तीन अपराधी गिरफ्तार
  • खशोगी की हत्या के पांचों संदिग्धों के लिए फांसी की मांग
  • सभी मीडिया संस्थान बराबर, गलत रिपोर्टिंग से समझौता नहीं: प्रसाद
राज्य Share

बरेली में जिला मलेरिया अधिकारी समेत तीन अफसर निलंबित

बरेली में जिला मलेरिया अधिकारी समेत तीन अफसर निलंबित

बरेली,11 सितंबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बरेली में संचारी रोग कार्ययोजना में लापरवाही बरतने के आरोप में जिला मलेरिया अधिकारी डॉ पंकज जैन, नगर स्वास्थ अधिकारी और एक मेडिकल अफसर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया तथा एडी हेल्थ एस के अग्रवाल को वहां हटा दिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री मंगलवार को अचानक यहां आए और उन्होंने बरेली में बुखार को लेकर जिला अस्पताल का निरीक्षण किया।

उन्होंने पत्रकारों को बताया कि कुछ तो गड़बड़ हुआ ही है जिसकी वजह से हजारों की संख्या में बुखार के मरीज पंजीकृत हुए। उन्होंने बताया कि अभी हाल में 18790 रोगियों का इलाज किया गया है जिसमें 8317 मरीज बुखार के हैं साथ ही 3900 सलाइट्स बनाई गई हैं। स्लाइड्स की रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि वह डैथ आडिट करवा रहे हैं। डेथ ऑडिट की रिपोर्ट आने पर मरने वालों की वस्तुस्थिति का पता चल पाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि बरेली जिले के आंवला तहसील क्षेत्र के 5 ब्लॉकों में बुखार का प्रकोप ज्यादा है, वहां की इलाज की समुचित व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बहुत अफसोस के साथ कहा कि जिला अस्पताल और महिला अस्पताल का निरीक्षण के बाद पता चला है कि जिला अस्पताल के सीएमएस और महिला अस्पताल के सीएमएस के दोनों के बीच कोई सामंजस्य नहीं है। उन्होंने 24 घंटे का समय सुधार के लिए दिया है। 24 घंटे में सुधार नहीं हुआ तो दोनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

उन्होंने बताया कि बरेली मंडल के एडी हेल्थ डॉ एसके अग्रवाल को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है उनके स्थान पर मानसिक चिकित्सालय की डा. प्रमिला गौड़ को नियुक्ति कर दिया है। बेड पर दो- दो मरीजो को देखकर अफसोस हुआ है। उन्होंने तत्काल 40 बैठ की व्यवस्था करने के आदेश दिए।

पुराना शहर में गंदगी देखकर उन्होंने नगर स्वास्थ्य अधिकारी अशोक कुमार को सस्पेंड कर दिया। जगतपुर मेडिकल केयर में बदहाली देख मेडिकल इंचार्ज डा. श्वेता भारद्वाज को निलंबित कर दिया। इस मौके पर वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल भी मौजूद रहे।

More News

15 Nov 2018 | 7:48 PM

 Sharesee more..

बस की चपेट में आने से युवक की मौत

15 Nov 2018 | 7:46 PM

 Sharesee more..

बीडीओ की अनिश्चितकालीन हड़ताल 26 नवंबर से

15 Nov 2018 | 7:42 PM

 Sharesee more..
image