Saturday, Jan 19 2019 | Time 13:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बाबुल सुप्रियो का तृणमूल कांग्रेस की विशाल रैली पर कटाक्ष
  • कमजोर लोगों पर हमला करता है डिमेंशिया
  • ठेके पर शिक्षकों की नियुक्ति का प्रस्ताव नहीं हो सका पारित
  • कोलकाता में ‘पाखंड शो’: बाबुल सुप्रियो
  • श्रीनगर हवाई अड्डे पर उड़ानें बाधित
  • लद्दाख में हिमस्खलन में मरने वालों की संख्या पांच हुई
  • कुम्भ के लिये सात हजार क्यूसेक जल का अतिरिक्त प्रवाह
  • दक्षिण भारत पर हमले की साजिश नाकाम, तीन गिरफ्तार
  • अमेरिका, उत्तर कोरिया के बीच कार्यकारी स्तर की ‘सार्थक’ बैठक
  • लीबिया में सशस्त्र लड़ाकों की झड़पों में 13 मरे, 52 घायल
  • सबरीमला: अयप्पा मंदिर में 51 महिलाओं के प्रवेश का कोई सबूत नहीं
  • मेक्सिको में तेल पाइपलाइन में विस्फोट, 20 मरे, 54 घायल
  • सबरीमला : केरल पुलिस ने 67,094 लोगों पर मामला दर्ज
  • अमेरिका में पुलिसकर्मी को सात साल की सजा
  • द सीमा और शटडाउन को लेकर करूंगा बड़ी घोषणा: ट्रम्प
राज्य Share

बरेली में जिला मलेरिया अधिकारी समेत तीन अफसर निलंबित

बरेली में जिला मलेरिया अधिकारी समेत तीन अफसर निलंबित

बरेली,11 सितंबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बरेली में संचारी रोग कार्ययोजना में लापरवाही बरतने के आरोप में जिला मलेरिया अधिकारी डॉ पंकज जैन, नगर स्वास्थ अधिकारी और एक मेडिकल अफसर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया तथा एडी हेल्थ एस के अग्रवाल को वहां हटा दिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री मंगलवार को अचानक यहां आए और उन्होंने बरेली में बुखार को लेकर जिला अस्पताल का निरीक्षण किया।

उन्होंने पत्रकारों को बताया कि कुछ तो गड़बड़ हुआ ही है जिसकी वजह से हजारों की संख्या में बुखार के मरीज पंजीकृत हुए। उन्होंने बताया कि अभी हाल में 18790 रोगियों का इलाज किया गया है जिसमें 8317 मरीज बुखार के हैं साथ ही 3900 सलाइट्स बनाई गई हैं। स्लाइड्स की रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि वह डैथ आडिट करवा रहे हैं। डेथ ऑडिट की रिपोर्ट आने पर मरने वालों की वस्तुस्थिति का पता चल पाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि बरेली जिले के आंवला तहसील क्षेत्र के 5 ब्लॉकों में बुखार का प्रकोप ज्यादा है, वहां की इलाज की समुचित व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बहुत अफसोस के साथ कहा कि जिला अस्पताल और महिला अस्पताल का निरीक्षण के बाद पता चला है कि जिला अस्पताल के सीएमएस और महिला अस्पताल के सीएमएस के दोनों के बीच कोई सामंजस्य नहीं है। उन्होंने 24 घंटे का समय सुधार के लिए दिया है। 24 घंटे में सुधार नहीं हुआ तो दोनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

उन्होंने बताया कि बरेली मंडल के एडी हेल्थ डॉ एसके अग्रवाल को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है उनके स्थान पर मानसिक चिकित्सालय की डा. प्रमिला गौड़ को नियुक्ति कर दिया है। बेड पर दो- दो मरीजो को देखकर अफसोस हुआ है। उन्होंने तत्काल 40 बैठ की व्यवस्था करने के आदेश दिए।

पुराना शहर में गंदगी देखकर उन्होंने नगर स्वास्थ्य अधिकारी अशोक कुमार को सस्पेंड कर दिया। जगतपुर मेडिकल केयर में बदहाली देख मेडिकल इंचार्ज डा. श्वेता भारद्वाज को निलंबित कर दिया। इस मौके पर वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल भी मौजूद रहे।

image