Monday, Nov 19 2018 | Time 13:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कांग्रेस आलाकमान और मिजोरम कांग्रेेस में कोई मतभेद नहीं: ललिअानछुंगा
  • देश में राजमार्गों पर प्रस्तावित 11 आपात हवाई पट्टियों में से पहले का निर्माण गुजरात में - मंत्री
  • हिमपात के कारण लेह राजमार्ग बंद
  • कांग्रेस नेता इंद्रजीत कुमार पटेल का निधन
  • म्यांमार में पांच की तीव्रता वाले भूकंप के झटके
  • अाप नेता फुलका पर राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज किया जाए-प्रो चावला
  • पंजाब पुलिस ने संदिग्ध हमलावराें के फोटो जारी किए
  • सचिन ने किया टोंक में जीत का दावा
  • सचिन ने किया टोंक में जीत का दावा
  • टोंक से पायलट की उड़ान में आड़े आया खान
  • राजधानी में मौसम सुहावना
  • अजमेर उत्तर सीट बचाना भाजपा के लिए मुश्किल
  • अजमेर दक्षिण सीट पर रोचक मुकाबला
  • राजस्थान में कांग्रेस भाजपा में शाह और मात का खेल
  • राजस्थान में कांग्रेस भाजपा में शाह और मात का खेल
राज्य Share

सिख भावनाओं को भड़काने वालों पर कार्रवाई होगी : लोंगोवाल

अमृतसर 11 सितंबर (वार्ता) शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के प्रधान भाई गोबिन्द सिंह लोंगोवाल ने सोशल मीडिया पर सिखों की धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाले लोगों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई करने की माँग की है।
भाई लोंगोवाल ने मंगलवार को कहा कि सोशल मीडिया पर सिख विरोधी प्रचार करने वालों के खिलाफ एसजीपीसी कानूनी कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि कुछ दिनों से फेसबुक्क पर ‘सिरफिरा चमार ’ नाम के एक खाते के जरिये सिख गुरू साहिबान और सिख शख़्सियतों को मज़ाक का पात्र बनाया जा रहा है, जिसकी तस्वीरे वायरल होने के कारण सिख जगत में भारी रोष पाया जा रहा है। उन्होने कहा कि सरकार ऐसे तत्वों को रोकने में असफल रही है।
भाई लोंगोवाल ने कहा कि सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने वाले लोगों के साथ सरकार की नरमी से पंजाब का माहौल बिगड़ रहा है। उन्होने कहा कि सिखों की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने वाले लोगों विरुद्ध शिरोमणी समिति उच्च न्यायालय में भी जाएगी। उन्होने कहा कि पुलिस विभाग के साईबर क्राइम सैल को सोशल मीडिया पर नज़र रखनी चाहिए परन्तु दुख की बात है कि शिकायत के बाद भी ऐसे लोग पुलिस की पहुँच से दूर रहते हैं।
शिरोमणि समिति प्रधान ने कहा कि उक्त फेसबुक खाते से दसवें गुरू श्री गुरु गोविन्द सिंह जी बारे बेहद घटिया किस्म की टिप्पणी की गई है। उन्होने कहा कि इस संबंधी पुलिस प्रशासन और साइबर क्राइम विभाग को शिकायतें भेज दी गई हैं। सं.ठाकुर.संजय
वार्ता
image