Sunday, Sep 15 2019 | Time 23:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जमात-ए-इस्लामी संस्थापक की मौत के बाद किश्तवाड़ में कर्फ्यू
  • इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराया, एशेज सीरीज ड्रॉ
  • अफगानिस्तान में वरिष्ठ तालिबान कमांडर ढेर
  • इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराया, एशेज सीरीज ड्रॉ
  • इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराया, एशेज सीरीज ड्रॉ
  • सीबीआई ने राजीव कुमार के बारे में मांगी जानकारी
  • पश्चिम बंगाल में बस दुर्घटना में 25 लोग घायल
  • छात्र ने मोबाइल फोन के लिए की शिक्षक की हत्या
  • उत्तराखंड में डेंगू ने लिया महामारी का रूप
  • बीएचयू के आरोपी प्रो0 चौबे को लंबी छुट्टी पर भेजा
  • दबंग दिल्ली ने गुजरात को 34-30 से दी शिकस्त
  • दबंग दिल्ली ने गुजरात को 34-30 से दी शिकस्त
  • उत्तराखंड परिवहन निगम ने ठोकी 85 करोड़ देनदारी
राज्य


गरीबी के चलते की आत्महत्या

भिंड, 12 सितम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के भिंड जिले में एक युवक ने कथित तौर पर गरीबी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली।
परिजन का आरोप है कि युवक को शहर में पक्का मकान होने के कारण गरीबी रेखा से जुड़ी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा था। उसके पास आजीविका का कोई साधन भी नहीं हेाने से युवक आर्थिक तंगी से परेशान था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजन के सुपुर्द कर दिया है।
पुलिस सूत्रों ने बताया कि अटेर के किशूपुरा गांव निवासी अनूप सिंह भदौरिया (33) का भिंड शहर के अटेर रोड पर पुश्तैनी मकान है। कल रात अनूप ने अपने ही घर के कमरे में पत्नी की साडी से पंखे से फंदा डालकर आत्महत्या कर ली।
परिजन के मुताबिक अनूप ने कल रात ही अपनी पत्नी नेहा से अपनी आर्थिक परेशानियों के बारे में बात करते समय अपनी हताशा जाहिर की थी। अनूप ने कई बार गरीबी रेखा का राशनकार्ड बनवाने के लिए आवेदन किए थे, लेकिन शहर में मकान होने की वजह से राशनकार्ड नहीं बन पा रहा था। उसके मकान पर बिजली का 80 हजार रुपए का बिल बकाया था। इसे माफ कराने के लिए उसने नगरपालिका असंगठित श्रमिक के रूप में अपना पंजीयन कराया। साथ ही बिजली कंपनी कार्यालय में बिल माफी के लिए आवेदन दिए, लेकिन पिछले दो महीने से उसे यह पता नहीं लग पाया कि उसका बिल माफ हुआ या नहीं। इसी चिंता के चलते उसने फांसी लगा ली।
परिजन का आरोप है कि बस पर क्लीनर की नौकरी करने वाले अनूप के पास ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की फीस नहीं थी और इसलिए उसे कहीं चालक की नौकरी भी नहीं मिल ही थी।
अनुविभागीय अधिकारी राजस्व (एसडीएम) एचबी शर्मा ने पूरे मामले पर कहा कि अनूप ने बीपीएल राशनकार्ड के लिए आवेदन किया था, यह क्यों निरस्त कर दिया गया, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि परिवार की हरसंभव मदद की जाएगी।
सं गरिमा
वार्ता
More News
सीबीआई ने राजीव कुमार के बारे में मांगी जानकारी

सीबीआई ने राजीव कुमार के बारे में मांगी जानकारी

15 Sep 2019 | 11:42 PM

कोलकाता 15 सितंबर (वार्ता) केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पश्चिम बंगाल के वरिष्ठ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को पत्र लिखकर कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के बारे में जानकारी मांगी है।

see more..
जम्मू-कश्मीर में स्वास्थ्य सेवाओं पर जोर, 800 डॉक्टरों की नियुक्ति होगी

जम्मू-कश्मीर में स्वास्थ्य सेवाओं पर जोर, 800 डॉक्टरों की नियुक्ति होगी

15 Sep 2019 | 11:14 PM

श्रीनगर, 15 सितंबर (वार्ता) जम्मू-कश्मीर प्रशासनिक परिषद ने रविवार को चिकित्सा अधिकारियों की संख्या में वृद्धि के लिए 800 डॉक्टरों को भर्ती करने के फैसले को मंजूरी दे दी।

see more..
छात्र ने मोबाइल फोन के लिए की शिक्षक की हत्या

छात्र ने मोबाइल फोन के लिए की शिक्षक की हत्या

15 Sep 2019 | 11:42 PM

संबलपुर 15 सितंबर (वार्ता) ओडिशा में एक छात्र के शिक्षक दिवस के दिन ही अपने पसंदीदा शिक्षक की महज एक मोबाइल फोन के कारण हत्या किये जाने का मामला सामने आया है।

see more..
उत्तराखंड में डेंगू ने लिया महामारी का रूप

उत्तराखंड में डेंगू ने लिया महामारी का रूप

15 Sep 2019 | 11:42 PM

देहरादून 15 सितंबर (वार्ता) उत्तराखंड में डेंगू ने महामारी का रूप लेते हुए पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और इस समय राज्य में डेंगू का सरकारी आंकड़ा 1788 तक जा पहुंचा है। दूसरी और अगर निजी अस्पतालों को जोड़ कर देखा जाए तो पूरे राज्य में इस समय डेंगू के रोगियों की संख्या 3000 से ज्यादा ही है जबकि देहरादून में अभी तक डेंगू से चार लोगों की मौत हो चुकी है ।

see more..
image