Saturday, Sep 22 2018 | Time 18:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कांग्रेस ने किसानों के साथ वादे क्यों नहीं निभाए : मोदी
  • शहीद विकास गुरुंग की स्मृति में द्वार का शिलान्यास
  • सवर्णों पर लाठीचार्ज करने वालों पर हो कार्रवाई : प्रेमचंद्र
  • ओलांद के बयान पर बेवजह विवाद पैदा किया जा रहा है: रक्षा मंत्रालय
  • जेमिमा का अर्धशतक, भारत को 2-0 की बढ़त
  • खाद्य तेल, दालें स्थिर, चीनी में नरमी
  • मोदी को काले झंडे दिखाने जा रहे कांग्रेस अध्यक्ष एवं अन्य नेता गिरफ्तार
  • शहीदों के कार्यक्रम को पैसों की बर्बादी बताने पर गहलोत मांगे माफी-वसुंधरा
  • बसपा से गठबंधन पर बातचीत जारी - कमलनाथ
  • बारिश से किसानों के माथे पर खिंची चिंता की लकीरें
  • खेलों के जरिये मानवीय मूल्य का विकास जरूरी : लालजी
  • उच्च शिक्षा सामग्री भारतीय भाषाओं में हो उपलब्ध: कोविंद
  • मोदी ने किया बिलासपुर-अनूपपुर तीसरी रेल लाइन, बिलासपुर-पथरापाली फोरलेन सड़क का शिलान्यास
  • मोदी ने किया बिलासपुर-अनूपपुर तीसरी रेल लाइन, बिलासपुर-पथरापाली 4-लेन सड़क का शिलान्यास
  • राहुल ने मोदी काे बताया ‘चोर’ और ‘भ्रष्ट’
राज्य Share

श्री मोहन्ती ने बताया कि राज्य सरकार ने जेंडर बजट में महिलाओं के लिए केन्द्रित 25 योजनाओं के लिए 1455 करोड़ रूपए का बजट प्रावधान किया,लेकिन 883 करोड़ रूपए ही खर्च किए गए। स्वीकृत बजट की 40 प्रतिशत राशि का उपयोग ही नही किया गया। उन्होने केन्द्र सरकार द्वारा 2014 में केन्द्र प्रायोजित योजनाओं एवं अन्य सभी सहायता राज्य सरकार के बजट के जरिए देने के लिए निर्णय के बाद भी 1112 करोड़ रूपए की राशि केन्द्र सरकार द्वारा राज्य क्रियान्वयन एजेंसियों को सीधे जारी की गई,जोकि गलत है।
उन्होने लोक निर्माण विभाग एवं जल संसाधन विभाग की 145 अपूर्ण परियोजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें 5900 करोड़ रूपए की राशि फंसी हुई है। राज्य सरकार द्वारा नवीन पेंशन योजना में अपने हिस्से की 26 करोड़ रूपए की साशि कम जमा की है जिससे कर्मचारियों को नुकसान हुआ है।
श्री मोहन्ती ने बताया कि राज्य सरकार 2900 करोड़ रूपपे के राजस्व बकाये को वसूलने में रूचि नही ली। इस राशि में एक हजार करोड़ रूपए पांच वर्षों से अधिक समय से बकाया है। उन्होने बताया कि राज्य सरकार ने आठ कम्पनियों में 6778 करोड़ रूपए का निवेश किया,उन्होने राज्य सरकार को कोई राशि वापस की उल्टे राज्य सरकार पर 1163 रूपए का ब्याज भार पड़ गया क्योंकि उसने ऋण लेकर इस राशि का निवेश किया था।
साहू
जारी.वार्ता
More News
शहीदों के कार्यक्रम को पैसों की बर्बादी बताने पर गहलोत मांगे माफी-वसुंधरा

शहीदों के कार्यक्रम को पैसों की बर्बादी बताने पर गहलोत मांगे माफी-वसुंधरा

22 Sep 2018 | 6:08 PM

अलवर, 22 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि सीमावर्ती जिलों में शहादत को सलाम कार्यक्रम को पैसों की बर्बादी बताना शहीदों का अपमान हैं और इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को जनता से माफी मांगनी चाहिए।

 Sharesee more..

22 Sep 2018 | 6:06 PM

 Sharesee more..

बजरी माफियाओं ने पुलिस पर की फायरिंग

22 Sep 2018 | 6:05 PM

 Sharesee more..
image