Sunday, Nov 18 2018 | Time 23:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भाजपा ने राजस्थान के लिए 24 उम्मीदवारों की चौथी सूची जारी की
  • खशोगी के शव के टुकड़ों को संभवत: सूटकेसों में ले जाया गया: तुर्की
  • भाजपा ने तेलंगाना के लिए जारी की छठी सूची
  • उप्र में टीईटी की परीक्षा में फर्जी पेपर एवं साल्वर समेत 35 गिरफ्तार
  • किसी को भी पंजाब में शांति एवं साम्प्रदायिक सद्भाव खराब नहीं करने दिया जाएगा: बिट्टू
  • ग्रेनेड हमले की जांच के लिए एनआईए टीम अदलीवाल पहुंची
  • प्रधानमंत्री पद की गरिमा के प्रतिकूल है मोदी का भाषण: कमलनाथ
  • पंजाब में हर कीमत पर कायम की जायेगी शांति: अमरिन्दर
  • इराक में कार बम विस्फोट में दो मरे ,15 घायल
  • कांग्रेस के स्वभाव में धोखा, जनता का विश्वास खोया: मोदी
  • सीएम ने दिये अधिकारियों को दिये तुरंत गाँव अदलीवाल पहुँचने के निर्देश
  • बिहार में सड़क दुर्घटना में 12 लोगों की मौत ,18 घायल
  • संवैधानिक संकट का सामना कर रहा देश : उदय नारायण
  • पटना के नाले में गिरे दीपक की दूसरे दिन भी तलाश जारी
  • छत्तीसगढ़ में तीसरे मोर्चे की होगी बड़ी भूमिका: रमन
राज्य Share

डा.सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसान और जनता इस पहल को देख रही है कि किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर दो दिन का विशेष सत्र बुलाया गया है। आम आदमी विधानसभा को जानता नहीं लेकिन ये समझ गया कि 2400 करोड़ रुपये भी देना है तो विधानसभा का रास्ता ही तय करना पड़ता है।
उन्होंने कहा कि त्यौहार का वर्ष चल रहा है। प्राचीन कथा भी है कि माता पार्वती ने आज के दिन 12 वर्ष कठिन उपवास किया था। उन्होंने कहा कि सत्र का समापन हो गया था। विदाई कार्यक्रम में कई सदस्य भावुक हो गए थे। कइयों के आंसू निकल आये थे। आज जब दो दिवसीय विशेष सत्र बुलाया गया तो विपक्ष के सदस्यों के अंदर की पीड़ा निकल रही है।
डा.सिंह ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने भी देर रात सुनवाई कर नई परिपाटी शुरू की थी। इसी तरह किसानों के लिए बुलाया गया ये विशेष सत्र नई परिपाटी की तरह है। इस मानसिकता से ऊपर उठना होगा कि गम्भीर मुद्दों को लेकर ही विशेष सत्र बुलाया जाएगा। लोकहित से जुड़े मुद्दों को लेकर भी विशेष सत्र बुलाया जा सकता है।
उन्होंने कहा कि ये आरोप लगाया गया कि सरकार की वित्तीय स्थिति बिगड़ गई है। राजस्व घाटा 2003-2004 में 341 करोड़ थ। आज 2017- 2018 में 3 हजार 4 सौ करोड़ का राजस्व आधिक्य है। 2017-18 में देश का टेक्स और जीडीपी का अनुपात 12 फीसदी है। जबकि छत्तीसगढ़ का 19 फीसदी है। राज्य का ऋण भार 2018 के प्रतिवेदन के हिसाब से 17.4 फीसदी है जबकि अन्य राज्यों का औसत 24.3 फीसदी है।
सुरेंद्र.साहू
जारी.वार्ता
More News
राम मंदिर निर्माण को जल्द संसद में विधेयक लाए केंद्र सरकारः बाबा रामदेव

राम मंदिर निर्माण को जल्द संसद में विधेयक लाए केंद्र सरकारः बाबा रामदेव

18 Nov 2018 | 11:35 PM

हरिद्वार 18 नवम्बर (वार्ता) योगगुरु बाबा रामदेव ने राम मंदिर निर्माण की वकालत करते हुए कहा कि इसके लिए संसद में जल्द कानून लाया जाए।

 Sharesee more..
छत्तीसगढ़ में तीसरे मोर्चे की होगी बड़ी भूमिका: रमन

छत्तीसगढ़ में तीसरे मोर्चे की होगी बड़ी भूमिका: रमन

18 Nov 2018 | 10:59 PM

बिलासपुर 18 नवंबर (वार्ता)छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने स्वीकार किया है कि मौजूदा विधानसभा चुनावों में वोटों का विभाजन होगा और तीसरे मोर्चे की एक बड़ी भूमिका होगी।

 Sharesee more..
कांग्रेस के स्वभाव में धोखा, जनता का विश्वास खोया: मोदी

कांग्रेस के स्वभाव में धोखा, जनता का विश्वास खोया: मोदी

18 Nov 2018 | 10:45 PM

छिंदवाड़ा/इंदौर, 18 नवंबर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस को सपने बेचकर ठगी करने वाला सौदागर बताया और कहा कि धोखा करना कांग्रेस पार्टी के स्वाभाव में है, इसलिए देश की जनता उनपर विश्वास करने वाली नहीं है।

 Sharesee more..
प्रधानमंत्री पद की गरिमा के प्रतिकूल है मोदी का भाषण: कमलनाथ

प्रधानमंत्री पद की गरिमा के प्रतिकूल है मोदी का भाषण: कमलनाथ

18 Nov 2018 | 10:43 PM

भोपाल, 18 नवम्बर (वार्ता) कांग्रेस के मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के उनके गृह नगर छिंदवाड़ा में दिये गये भाषण को प्रधानमंत्री पद की गरिमा के प्रतिकूल बताया है।

 Sharesee more..
image