Wednesday, Sep 26 2018 | Time 18:03 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गेहूं नरम;चना,चावल मजबूत;दालों,खादय तेलों में टिकाव
  • रियो, गडकरी ने की समीक्षा बैठक
  • बंगलादेश में विमान का आपात लैंडिंग
  • नियोक्ताओं के लिये ऑनलाइन आवेदन करना अनिवार्य
  • मैक्रों ने राफेल सौदे पर की मोदी की प्रशंसा,सौदे को बताया महत्वपूर्ण
  • मुम्बई हाफ मैराथन में इस साल महिला पेसर्स का बोलबाला
  • बांदीपुरा में आतंकवादी मुठभेड़ के पांच दिन बाद जनजीवन सामान्य
  • छत्तीसगढ़ में 295 किमी नयी रेललाइन बिछाने काे मंजूरी
  • किसानों को 20 हजार रुपए प्रति एकड़ मुआवजा दिया जाए: खैहरा
  • लघु फिल्म कहानीबाज जारी
  • रुपया सात पैसे मजबूत
  • गुलमर्ग आैर पाटलिपुत्र अशाेक होटल राज्य सरकारों को
  • योगेश्वर बने हरियाणा स्टीलर्स के ब्रांड एम्बेसेडर
  • नासिक में सामूहिक झगडे में एक व्यक्ति की हत्या
  • सरहिंद और राजस्थान फीडर नहरों के मरम्मत के लिए 825 करोड़ मंजूर
राज्य Share

गाजीपुर में 68लाख 80 हजार का शौचालय घोटाला

गाजीपुर,12सितम्बर(वार्ता) । उत्तर प्रदेश में गाजीपुर जिले के विकास खण्ड भदौरा में शौचालय निर्माण के नाम पर 68 लाख 80 हजार रूपये और ग्राम निधि में 47 लाख 25 हजार रूपये का घोटाला प्रकाश मे आया है।
भदौरा विकास खंड के गोड़सरा ग्राम में हुए इस घोटाले के बारे में गांव के ही निवासी मो. राशिद खां पुत्र जलाल खां ( पूर्व प्रधान ) ने 19 मार्च को जिलाधिकारी को शिक़ायत पत्र शपथ पत्र के साथ दिया था, जिसमे 7 अप्रैल को जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी/जिला कार्यक्रम अधिकारी अमरनाथ मौर्य और सहायक अभियंता नलकूप खण्ड द्वितीय सूर्या प्रकाश को जांच अधिकारी नामित किया था। जांच अधिकारी जब मामले के जांच मे जुटे तो गंभीर वित्तीय अनियमितता व घोटाला उजागर हुआ। सभी कार्य में घटिया निर्माण कार्य और गुणवत्ता में कमी पायी गयी। जांच मे सभी कार्य आधे अधूरे मिले।
गोड़सरा ग्राम प्रधान हुमुलवारा पत्नी इमरान खाँ उर्फ़ भोलू और निलंबित ग्राम पंचायत अधिकारी राधेश्याम यादव द्वारा ग्राम पंचायत से संबधित कोई अभिलेख उपलब्ध नहीं कराया गया और इस कारण जांच की प्रक्रिया पूर्ण नहीं हो सकीं तथा जिम्मेदार पक्षों के असहयोग के कारण जांच मे जानबूझकर विलंब किये जाने का प्रयास किया गया।
मामले में गंभीर वित्तीय अनियमितता को दृष्टिगत रखते हुए जिला पंचायतीराज अधिकारी लालजी दूबे ने जिलाधिकारी के. बालाजी और मुख्य विकास अधिकारी हरिकेश चौरसिया की स्वीकृति से विकास खण्ड भदौरा एडीओ पंचायत त्रिवेदी प्रसाद सिंह को आदेश दिये कि तत्कालीन सचिव राधेश्याम यादव के विरुद्ध गहमर थाने मे एफ.आई.आर. केस दर्ज करायी जाएं तथा गोड़सरा ग्राम पंचायत के सभी खातों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी जाए। सम्बंधित कार्यवाही की प्रति भी प्रेषित करने का आदेश दिया गया । जांच प्रक्रिया पूरी होने क बाद रिपोर्ट के आधार पर नियमानुसार अग्रिम कार्यवाही के लिये भेजी जायेगी।
सं सोनिया
वार्ता
More News

रियो, गडकरी ने की समीक्षा बैठक

26 Sep 2018 | 5:43 PM

 Sharesee more..
पदोन्नति में आरक्षण के फैसले का स्वागत:  मायावती

पदोन्नति में आरक्षण के फैसले का स्वागत: मायावती

26 Sep 2018 | 5:39 PM

लखनऊ, 26 सितम्बर (वार्ता) बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने बुधवार को अनुसूचित जाति/जनजाति वर्ग के कर्मचारियों की पदोन्नति में आरक्षण संबंधी उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत किया है।

 Sharesee more..

बुलन्दशहर में तीन शराब तस्कर गिरफ्तार

26 Sep 2018 | 5:36 PM

 Sharesee more..
image