Saturday, Feb 16 2019 | Time 20:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पारसनाथ से नक्सली गिरफ्तार, कई बंकर ध्वस्त
  • ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्डस ने पाकिस्तान पर आतंकवाद को सहारा देने का आरोप लगाया
  • शहीदों की सजी चितायें, आंसुओं के सैलाब में डूबा उत्तर प्रदेश
  • मतदाता पंजीकरण के लिये हरियाणा में 23-24 फरवरी को लगेंगे विशेष शिविर
  • पाकिस्तानी विदेश सचिव ने पुलवामा हमले पर भारत के आरोपों को नकारा
  • जिम्बाब्वे में कंडोम संकट
  • अफगानिस्तान में 51 आतंकवादी ढेर, 50 घायल
  • विधायक देशराज करेंगे बाघा सीमा पर पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन
  • बागान ने आइजॉल को 2-1 से हराया
  • भारत और मॉरीशस मिलकर करेंगे गीता का प्रचार-प्रसार पूरी दुनिया में
  • भारत और मॉरीशस मिलकर करेंगे गीता का प्रचार-प्रसार पूरी दुनिया में
  • बेटी की डोली उठाने का सपना लेकर गये ‘संजय’ नहीं लौटे
  • कार के ऊपर गन्ने से भरा ट्रक पलटा, चार घायल
  • इरफान की राष्ट्रीय पैदल चाल प्रतियोगिता में हैट्रिक
  • रालोसपा महासचिव क्रांति प्रकाश का इस्तीफा
राज्य Share

गाजीपुर में 68लाख 80 हजार का शौचालय घोटाला

गाजीपुर,12सितम्बर(वार्ता) । उत्तर प्रदेश में गाजीपुर जिले के विकास खण्ड भदौरा में शौचालय निर्माण के नाम पर 68 लाख 80 हजार रूपये और ग्राम निधि में 47 लाख 25 हजार रूपये का घोटाला प्रकाश मे आया है।
भदौरा विकास खंड के गोड़सरा ग्राम में हुए इस घोटाले के बारे में गांव के ही निवासी मो. राशिद खां पुत्र जलाल खां ( पूर्व प्रधान ) ने 19 मार्च को जिलाधिकारी को शिक़ायत पत्र शपथ पत्र के साथ दिया था, जिसमे 7 अप्रैल को जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी/जिला कार्यक्रम अधिकारी अमरनाथ मौर्य और सहायक अभियंता नलकूप खण्ड द्वितीय सूर्या प्रकाश को जांच अधिकारी नामित किया था। जांच अधिकारी जब मामले के जांच मे जुटे तो गंभीर वित्तीय अनियमितता व घोटाला उजागर हुआ। सभी कार्य में घटिया निर्माण कार्य और गुणवत्ता में कमी पायी गयी। जांच मे सभी कार्य आधे अधूरे मिले।
गोड़सरा ग्राम प्रधान हुमुलवारा पत्नी इमरान खाँ उर्फ़ भोलू और निलंबित ग्राम पंचायत अधिकारी राधेश्याम यादव द्वारा ग्राम पंचायत से संबधित कोई अभिलेख उपलब्ध नहीं कराया गया और इस कारण जांच की प्रक्रिया पूर्ण नहीं हो सकीं तथा जिम्मेदार पक्षों के असहयोग के कारण जांच मे जानबूझकर विलंब किये जाने का प्रयास किया गया।
मामले में गंभीर वित्तीय अनियमितता को दृष्टिगत रखते हुए जिला पंचायतीराज अधिकारी लालजी दूबे ने जिलाधिकारी के. बालाजी और मुख्य विकास अधिकारी हरिकेश चौरसिया की स्वीकृति से विकास खण्ड भदौरा एडीओ पंचायत त्रिवेदी प्रसाद सिंह को आदेश दिये कि तत्कालीन सचिव राधेश्याम यादव के विरुद्ध गहमर थाने मे एफ.आई.आर. केस दर्ज करायी जाएं तथा गोड़सरा ग्राम पंचायत के सभी खातों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी जाए। सम्बंधित कार्यवाही की प्रति भी प्रेषित करने का आदेश दिया गया । जांच प्रक्रिया पूरी होने क बाद रिपोर्ट के आधार पर नियमानुसार अग्रिम कार्यवाही के लिये भेजी जायेगी।
सं सोनिया
वार्ता
More News

पारसनाथ से नक्सली गिरफ्तार, कई बंकर ध्वस्त

16 Feb 2019 | 8:43 PM

 Sharesee more..
पुलवामा शहीदों के परिजनों को पचास लाख की सहायता

पुलवामा शहीदों के परिजनों को पचास लाख की सहायता

16 Feb 2019 | 8:41 PM

जयपुर, 16 फरवरी (वार्ता) राजस्थान सरकार जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादी हमले में शहीद हुए प्रदेश के केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के पांच जवानों के आश्रितों को नौकरी एवं पचास लाख रुपये तक नकद सहायता देगी।

 Sharesee more..
खजाना खाली होने के बावजूद विकास कार्य जारी: कमलनाथ

खजाना खाली होने के बावजूद विकास कार्य जारी: कमलनाथ

16 Feb 2019 | 8:39 PM

जबलपुर, 16 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि प्रदेश सरकार अपने वचन-पत्र को पूरा करने में लगी हुई है और सरकारी खजाना खाली होने के बावजूद विकास कार्य जारी है।

 Sharesee more..
image