Monday, Sep 24 2018 | Time 13:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दीपक को भी रजत, पूरा नहीं हो सका 17 साल का स्वर्ण सपना
  • लखनऊ के रणजीत बने उत्तर प्रदेश वेटलिफ्टिंग संघ के उपाध्यक्ष
  • लखनऊ के रणजीत बने उत्तर प्रदेश वेटलिफ्टिंग संघ के उपाध्यक्ष
  • ओलांद की टिप्पणी से भारत-फ्रांस के संबंधों में आ सकती है खटास: फ्रांसीसी मंत्री
  • कठुआ में बाढ़ में फंसे हुए करीब 10 लोगों को बचाया गया
  • मालदीव के चुनाव परिणामों का भारत ने किया स्वागत
  • फिल्म निर्माण की विशिष्ट शैली बनायी थी फिरोज़ खान ने
  • रणवीर के साथ काम करना बेहतरीन अनुभव: कृति खरबंदा
  • अंतरिक्ष यात्री का किरदार निभायेंगे अक्षय कुमार
  • लोकरूचि जीवित हुनमान दो इटावा
  • इटावा के जीवित हनुमान के हैं सब मुरीद
  • फिल्म निर्माण की विशिष्ट शैली बनायी थी फिरोज़ खान ने
  • फिल्म निर्माण की विशिष्ट शैली बनायी थी फिरोज़ खान ने
  • कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त भाजपा नेत्री ने छोड़ी पार्टी, कांग्रेस में होंगी शामिल
  • अस्पताल में साथी महिला डाक्टर से दुष्कर्म करने वाला रेजिडेंट डाक्टर निलंबित, गिरफ्तार
राज्य Share

सोनीपत में रिश्वतखोर पटवारी को चार साल की कैद

सोनीपत, 12 सितंबर (वार्ता) हरियाणा में सोनीपत की एक अदालत ने बुधवार को रिश्वत मामले में नहरी पटवारी को चार साल कैद और 20 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई।
अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डॉ. सुशील कुमार गर्ग ने रिश्वत का मामला साबित होने पर नहरी पटवारी को चार साल की कैद की सजा सुनाई है। साथ ही उसपर 20 हज़ार रुपये जुर्माना भी लगाया है।
उल्लेखनीय है कि बिचपड़ी गांव के किसान अशोक ने छह अप्रैल, 2016 को विजिलेंस में शिकायत दी थी कि नहर विभाग का पटवारी हरिओम उससे रिश्वत मांग रहा है। उसने बताया था कि वह अपने खेत में नहरी पानी एक मोरी (नाली) से दूसरी मोरी पर बदलवाना चाहता था। इस काम के लिए नहरी पटवारी हरिओम ने उससे आठ हजार रुपये की मांग की थी। अशोक पटवारी को छह हजार रुपये पहले दे चुका था। पैसे पूरे देने पर ही पटवारी ने काम करने को कहा था।
पटवारी को रंगे हाथों पकडऩे के लिए सोनीपत की विजिलेंस ने एक टीम बनाई तथा कार्रवाई को अमल में लाने के लिए तहसीलदार हरिओम बिश्नोई को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया था। मामला दर्ज करने के बाद पहले से तय स्थान फव्वारा चौक पर जैसे ही नहरी पटवारी हरिओम ने किसान अशोक से दो हजार रुपये लिए तो विजिलेंस की टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया था। उससे रिश्वत के दो हजार रुपये भी बरामद किए गए थे।
सं.संजय
वार्ता
image