Wednesday, May 22 2024 | Time 19:34 Hrs(IST)
image
राज्य


देवव्रत, पटेल की उपस्थिति में मनाया सिक्किम स्थापना दिवस

गांधीनगर, 16 मई (वार्ता) गुजरात के गांधीनगर राजभवन में राज्यपाल आचार्य देवव्रत और मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल की उपस्थिति में सिक्किम राज्य के 48वें स्थापना दिवस को मंगलवार को भव्यता से मनाया गया।
श्री देवव्रत ने इस अवसर पर कहा कि 16 मई 1975 को भारत में शामिल हुआ सिक्किम राज्य देश का सबसे छोटा और सबसे प्रिय राज्य है। परिवार में छोटे व्यक्ति को विशेष महत्व मिलता है उसी प्रकार सिक्किम भी भारत में विशिष्ठ महत्व वाला राज्य है। उन्होंने सिक्किम के नागरिकों को स्थापना दिवस के अभिनंदन और शुभकामनाएं दीं। विपुल प्राकृतिक सम्पदा वाले सिक्किम ने अपनी श्रेष्ठता और अनोखी पहचान से तमाम भारतीयों के दिलों में विशेष स्थान बनाया है। सिक्किम की महिलाओं ने सेल्फ हेल्प ग्रुप द्वारा प्रदेश को नयी ऊंचाइयों पर पहुंचाया है।
राज्यपाल ने कहा कि सिक्किम सम्पूर्णतया प्राकृतिक कृषि करने वाला राज्य है। सिक्किम विधिवत रूप से ऑर्गेनिक प्रदेश घोषित किया गया है। पर्यटन, स्वच्छता, शिक्षण, महिला भागीदारी और सुन्दरता से सिक्किम ने देश में उल्लेखनीय स्थान हासिल किया है। सिक्किम राज्य और ज्यादा उन्नति करे और 'एक भारत- श्रेष्ठ भारत' बनाने में योगदान देता रहे ऐसी उन्होंने शुभकामनाएं दी।
उन्होंने कहा कि भारत में अनेक भाषाएं और संस्कृति हैं। खान-पान भी भिन्न-भिन्न है परंतु प्रधानमंत्री नरेन्द्रभाई मोदी की 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' संकल्पना राष्ट्र की एकता-अखंडता को ज्यादा मजबूत बना रही है।
श्री देवव्रत के साथ लेडी गवर्नर श्रीमती दर्शना देवी, मुख्यमंत्री श्री पटेल, मंत्री बलवंतसिंह राजपूत, कुंवरजीभाई बावलिया, मूलुभाई बेरा, राज्यमंत्री जगदीशभाई विश्वकर्मा, प्रफुल्लभाई पानसेरिया, गुजरात विधानसभा के उप मुख्य सचेतक जगदीशभाई मकवाणा, मुख्य सचिव राजकुमार, गांधीनगर के मेयर हितेशभाई मकवाणा, अहमदाबाद के मेयर किरीटकुमार परमार, वरिष्ठ अधिकारीगण, गुजरात में बसे सिक्किम के अग्रणी नागरिकों और महानुभावों ने सिक्किम से पधारे हुए कलाकारों की प्रस्तुति को निहारा। कलाकारों ने रणचंडी, तमांग सेलो और घंटु जैसे परम्परागत नृत्य प्रस्तुत किए। गुजरात के कलाकारों के साथ मिलकर सिक्किम के कलाकारों ने 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' थीम आधारित नृत्य प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर सिक्किम के विषय पर एक फिल्म भी महानुभावों ने निहारी। श्री आचार्य देवव्रत ने सिक्किम के कलाकारों की प्रतिनिधि श्रीमती कला शुमा और गुजरात के कल्पेश दलाल को सम्मानित किया। कार्यक्रम के आरम्भ में युवक सेवा और सांस्कृतिक प्रवृत्तियों के कमिश्नर हर्षदभाई पटेल ने स्वागत सम्बोधन किया। राज्यपाल ने तमाम कलाकारों के साथ सामूहिक तस्वीरें भी खिंचवाई।
अनिल, उप्रेती
वार्ता
image