Saturday, Apr 13 2024 | Time 03:10 Hrs(IST)
image
राज्य


मैरिंगो सिम्स अस्पताल में ईएनडीओसीओएन आयोजित

अहमदाबाद, 10 फरवरी (वार्ता) गुजरात के अहमदाबाद स्थित मैरिंगो सिम्स अस्पताल में एन्युअल प्रोग्राम के रूप में पहला कांफ्रंस ऑफ द सोसायटी ऑफ गेस्ट्रोइंटेसटीनल एन्डोस्कोपी ऑफ इंडिया (ईएनडीओसीओएन) आयोजित किया गया।
मैरिंगो सिम्स अस्पताल में कन्सल्टन्ट न्यूरो और स्पाइन सर्जरी डॉ. वाई सी शाह ने शनिवार को बताया गया है कि इसे न्यूरोसर्जरी और स्पाइन सर्जरी डिपार्टमेंट, मैरिंगो सिम्स अस्पताल और जीएमईआरएस अहमदाबाद द्वारा आयोजित किया गया। मैरिंगो सिम्स अस्पताल अहमदाबाद को लगातार तीन जॉइंट कमीशन इंटरनेशनल (जेसीआई) मान्यता, प्रमाणन और स्वास्थ्य देखभाल की गुणवत्ता, मरीज़ सुरक्षा में वैश्विक लीडर के रूप में मान्यता प्राप्त है। अस्पताल का मानना है कि स्पाइन सर्जरी का परिदृश्य मरीजों और सर्जनों दोनों के लिए तेजी से विकसित हो रहा है जिसमें मिनिमल इनवेसिव इन्टरवेंशन को फोकस किया गया है। ऑप्टिकल और जटिल सर्जिकल उपकरणों में प्रगति के बावजूद खासकर छोटे शहरों और कस्बों में सलाहकारों के लिए शैक्षिक अवसरों की कमी बनी हुई है। एंडोस्कोपिक सर्जरी में अत्यधिक सटीक तकनीकों में परिवर्तन का ईएनडीओसीओएन के पीछे का उद्देश्य है। इस सम्मेलन का प्राथमिक उद्देश्य कौशल वृद्धि और विशेषज्ञता विकास के लिए अवसर प्रदान करना है।
श्री शाह ने बताया कि इसके अलावा ट्रांसफोरामिनल एंडोस्कोपिक सर्जरी, जिसमें डिस्केक्टॉमी, एंडो टीएलआईएफ और लम्बर कैनाल स्टेनोसिस के उपचार जैसी प्रक्रियाएं शामिल हैं, लोकल एनेस्थीसिया के तहत की जाती हैं जबकि मरीज जागता रहता है। ये सर्जरी सिंगल और एकाधिक दोनों स्तरों पर डिस्केक्टॉमी के लिए डेस्टैंडौ तकनीक का उपयोग करती हैं। साथ ही सिंगल और एकाधिक स्तरों पर ओवर-द-टॉप डीकंप्रेसन से जुड़े लम्बर कैनाल स्टेनोसिस उपचार का भी उपयोग करती हैं। इसके अतिरिक्त, इन प्रोसिजर्स में परक्यूटेनियस फिक्सेशन और ट्यूबलर सिस्टम तकनीक का उपयोग किया जाता है। इस कार्यक्रम में मिनिमली इनवेसिव स्पाइन सर्जरी के कई पहलुओं का भी प्रदर्शन किया जाएगा और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त प्रतिष्ठित विशेषज्ञों और प्रसिद्ध हस्तियों द्वारा उन पर विचार-विमर्श किया जाएगा। यह कार्यक्रम इच्छुक स्पाइन सर्जनों के लिए अपनी सर्जिकल विशेषज्ञता को निखारने और क्षेत्र के उच्च प्रतिष्ठित दिग्गजों से अंतर्दृष्टि प्राप्त करने के लिए एक आदर्श मंच प्रस्तुत करता है।
मैरिंगो एशिया हॉस्पिटल्स मेनेजिंग डायरेक्टर और ग्रुप सीईओ डॉ. राजीव सिंघल ने अपने बयान में कहा,“हम अपने मरीजों के लिए उच्चतम मानक की देखभाल सुनिश्चित करने के लिए न्यूरो और स्पाइन सर्जरी में प्रगति के मामले में सबसे आगे रहने के महत्वपूर्ण महत्व को पहचानते हैं। यह कॉन्फरन्स में इस विशिष्ट क्षेत्रमें हेल्थकेर प्रोफेशनल्स के बीच सहयोग, ज्ञान-साझाकरण और कौशल वृद्धि के लिए एक अनूठा मंच प्रदान करता है।”
मैरिंगो सिम्स अस्पताल के चेयरमेन डॉ. केयूर परिख ने कहा, “यह कॉन्फरन्स निरंतर सीखने और सुधार के प्रति हमारे समर्पण के प्रमाण के रूप में कार्य करता है। हम रीढ़ की हड्डी के स्वास्थ्य में नवीनतम नवाचारों और सर्वोत्तम प्रथाओं का पता लगाने के लिए अग्रणी विशेषज्ञों को साथ ले कर चलना है। यह प्रमुख कार्यक्रम गहन चर्चाओं, अत्याधुनिक शोध प्रस्तुतियों और अमूल्य नेटवर्किंग अवसरों का वादा करता है जिसका उद्देश्य देश भर में रीढ़ की देखभाल को आगे बढ़ाना और मरीज़ परिणामों में सुधार करना है।”
उल्लेखनीय है कि इस आयोजन में गेस्ट ऑफ़ ऑनर मेनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ, मैरिंगो सिम्स हेल्थकेयर डॉ राजीव सिंघल उपस्थित थे। न्यूरोलॉजी और स्पाइन सर्जनों की विशेषज्ञ टीम का नेतृत्व डॉ. वाय सी शाह, डॉ. तुषार शाह और डॉ. टी के बी गणपति, डॉ. परिमल त्रिपाठी, डॉ. देवेन ज़वेरी, डॉ. संदीप शाह, डॉ. जयुन शाह, डॉ. चिराग सोलंकी, डॉ. कवच पटेल, डॉ. पुष्पेंद्र पाटिल ने किया।
अनिल.संजय
वार्ता
image