Saturday, Apr 13 2024 | Time 03:15 Hrs(IST)
image
राज्य


राजकोट में पटेल करेंगे 181 करोड़ रु के कार्यों का शिलान्यास

गांधीनगर, 15 फरवरी (वार्ता) गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल 16 फरवरी को राजकोट जिले के विंछिया गांव में सौराष्ट्र नर्मदा अवतरण सिंचाई (सौनी) योजना के लिंक-4 के पैकेज-9 के 181 करोड़ रुपए के कार्यों का शिलान्यास करेंगे।
इस योजना के अंतर्गत चार लिंक पाइप लाइन के जरिए सौराष्ट्र के 115 जलाशयों को नर्मदा के पानी से भरने का आयोजन है। जिसके अनुसार लिंक-4 के माध्यम से गत चार वर्षों में राजकोट जिले की जसदण, विंछिया, गोंडल और कोटड़ासांगाणी सहित चार तहसीलों के 37 गांवों के 155 चेकडैम, 14 तालाब और सात जलाशयों को कुल 4435 मिलियन क्यूबिक फीट (एमसीएफटी) पानी आवंटित किया गया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दीर्घदृष्टि से साकार हुई सौनी योजना में चरणबद्ध तरीके से 1313 किलोमीटर की पाइपलाइन बिछाई गई है तथा 85 जलाशयों, 170 ग्राम तालाबों और 1319 चेकडैमों को लगभग 77,430 एमसीएफटी पानी उपलब्ध कराया गया है। इसके परिणामस्वरूप सौराष्ट्र क्षेत्र के 11 जिलों में साढ़े छह लाख एकड़ क्षेत्र में सिचाई की सुविधा में सुधार हुआ है।
मुख्यमंत्री श्री पटेल जिसका शिलान्यास करने वाले है उस लिंक-4 के पैकेज-9 के माध्यम से लगभग 73 किलोमीटर लंबाई के पाइपलाइन नेटवर्क से 12 तालाबों को जोड़ा जाएगा। इतना ही नहीं, इस योजना के पूरा होने पर 23 गांवों की 45 हजार से अधिक आबादी को पीने का पानी और 5676 एकड़ क्षेत्र को सिंचाई का पानी उपलब्ध होगा।
राज्य सरकार के जल संसाधान विभाग और राजकोट जिला प्रशासन द्वारा शुक्रवार सुबह 10 बजे विंछिया एपीएमसी के निकट आयोजित होने वाले इस विकास उत्सव में मुख्यमंत्री 139 करोड़ रुपए के खर्च से साकार होने वाली दो समूह सुधार जलापूर्ति योजना का शिलान्यास करेंगे तथा नौ करोड़ रुपए के खर्च से नवनिर्मित औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) और 2.11 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित नए बस स्टैंड की विकास-सौगात भी देंगे।
राज्य मंत्रिमंडल के सदस्य कुंवरजीभाई बावलिया, बलवंतसिंह राजपूत, भानुबेन बाबरिया तथा राज्य मंत्रियों की उपस्थिति में आयोजित इस कार्यक्रम में 214 दिव्यांगजनों को 28.94 लाख रुपए के कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व (सीएसआर) फंड से 372 उपकरणों की सहायता दी जाएगी। इसके अलावा, घुमंतू जाति के 133 लाभार्थियों को आवास के लिए भूखंड की सनद का वितरण भी किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात की जीवन रेखा समान नर्मदा योजना के सरदार सरोवर बांध से वर्षा ऋतु के दौरान ओवरफ्लो होकर समुद्र में व्यर्थ बह जाने वाले अतिरिक्त पानी को सौराष्ट्र क्षेत्र में पहुंचाने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर यह बहुउद्देशीय सौनी योजना शुरू की थी।
अनिल
वार्ता
image