Thursday, Sep 20 2018 | Time 04:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तीन तलाक पर तीन साल तक की जेल, अध्यादेश को राष्ट्रपित की मंजूरी
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

उत्तर प्रदेश योगी बैंक दो अंतिम वाराणसी

श्री योगी ने कहा कि वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद श्री मोदी ने गरीबों के सशक्तिकरण के लिए प्रधानमंत्री जनधन योजना लाकर 37 करोड़ से अधिक लोगों के जीवन में बदलावा लाने का सफल प्रयास किया। उन खातों में 86 हजार करोड़ रुपये से अधिक गरीबों के बचत धन जमा हुए हैं तथा सरकार की योजनाओं का लाभ अब सीधे लोगों तक पहुंच रहा है।
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में गत एक वर्ष में एक लाख करोड़ रुपये की धन राशि सीधे लोगो के खातों में भेजी गई हैं। इस प्रकार से सरकारी धन जरूरतमंदों तक पहुंचाने में बिचौलियों की भूमिका अब समाप्त हो रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि तकनीक के माध्यम से भ्रष्टाचार पर बड़ा प्रहार में आईपीपीबी की अहम भूमिका होगी। इसके माध्यम से जरूरतमंदों तक सरकारी योजनाओं का लाभ सीधे पहुंचाने में बड़ी मदद मिलेगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ई-पेमेंट को बढ़ावा दे रही है। आईपीपीबी के शुरु होने से ई-पेमेंट करना भी आसान हो जाएगा।
उन्होंने कहा कि श्री मोदी के प्रयासों से डाक सेवकों की भूमिका एक बार फिर पुर्नजीवित हो गई है। इससे उनके नौकरी के भविष्य को लेकर चिंता अब पूरी तरह से समाप्त हो गई है क्योंकि बैंकिंग सेवा का लाभ यहां के कर्मचारियों को भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि वेतन के अलावा बैंकिंग सेवा की आमदनी की 30 फीसदी राशि डाक सेवकों को मिलने से उनके जीवन में भी बदलावा होगा तथा इसका लाभ तीन लाख से अधिक डाक सेवक लाभ मिलेगा।
श्री योगी ने डाक सेवाओं के साथ आईपीपीबी योजना शुरु करने के लिए प्रधानमंत्री और केंद्रीय संचार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा का आभार व्यक्त किया तथा लोगों को बधाई दी।
बीरेंद्र भंडारी
वार्ता
image