Thursday, Sep 20 2018 | Time 06:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ‘उ कोरिया से वार्ता पुनर्प्रारंभ करने के लिए तैयार है अमेरिका’
  • तीन तलाक पर तीन साल तक की जेल, अध्यादेश को राष्ट्रपित की मंजूरी
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

अपराध भर्ती गिरफ्तार तीन अन्तिम लखनऊ

श्री सिंह ने बताया कि गिराेह के सक्रिय सदस्यों काे चिन्हित कर शनिवार काे मुखबिर की सूचना पर कैंट स्टेशन के पास टीम ने घेरा डाला। इस बीच मुखबिर ने इशारे से बताया कि रैलिंग के पीछे पार्क में जाे व्यक्ति बैठे है इन्ही के द्वारा टयूबवैल आॅपरेटर की परीक्षा का प्रश्नपत्र आउट कराकर परीक्षा की तैयारी की जा रही है। एटीएफ ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्त सचिन ने संक्षिप्त पूछताछ में बताया कि वह प्राथमिक विद्यालय, जनपद अमराेहा में अध्यापक है। वह विगत दो वर्षा से आयोजित हाेने वाली विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाआे में पेपर आउट कराकर अभ्यार्थियाें काे भर्ती कराता आ रहा है।
आरोपी सचिन ने बताया कि रविवार को आयोजित हाेने वाली टयूबवैल आॅपरेटर की परीक्षा में प्रत्येक अभ्यार्थी से भर्ती हाेने से पहले तीन तीन लाख रूपयें तथा भर्ती हाेने के बाद प्रत्येक अभ्यार्थी से तीन से चार लाख रूपये लेता
था। इस प्रकार प्रति अभ्यर्थी से छह से सात लाख रूपये की डील होती थी। सभी अभ्यार्थियों काे पेपर आउट हाेने के बाद प्रश्नपत्र के उत्तर देने के लिए मेरठ कैण्ट बुलाया था।
श्री सिंह ने बताया कि गिरफ्तार 11 आरोपियो में मेरठ के गंगानगर निवासी सचिन, परतापुर निवासी अंकिल पाल, अमरोहा के गजरौला क्षेत्र निवासी दीपक, सुरेन्द्र सिंह, प्रदीप, मेरठ के इंचैली निवासी कपिल , हापुड निवासी शुभम कुमार , हापुड के गढ़मुक्तेश्वर निवासी सुमित शर्मा, मेरठ के परीक्षितगढ़ निवासी परमीत सिंह, सहारनपुर के नकुड़ निवासी लोेकश तथा हापुड के गढ़मुक्तेश्वर निवासी गौरव कुमार शामिल है।
उन्होनें बताया कि पकड़े गये आरोपियों के पास से तीन हस्तलिखित आन्सर शीट, पांच एडमिट कार्ड, 13 माेबाइल फोन, 14 लाख 80 हजार रूपये नगद तथा एक बोलेरो कार बरामद की गयी है।
भंडारी तेज
वार्ता
image