Wednesday, Sep 26 2018 | Time 19:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • प्रभु ने बंगलादेश के सामने उठाया पाम तेल का मुद्दा
  • मोगा में कूरियर कम्पनी में बिस्फोट, दो लोग घायल
  • श्रीलंका की पुष्टि मैथ्यूज को वनडे टीम से हटाया गया
  • प्रभु ने बंगलादेश के सामने उठाया पाम तेल का मुद्दा
  • लोकसभा चुनाव में वीवीपैट मशीनें उपलब्ध होंगी: चुनाव आयोग
  • मोदी ने की दूरसंचार क्षेत्र में शिकायत निवारण की समीक्षा
  • नर्मदा नहरों की पानी की चोरी पर रोक के लिए कदम उठाने के निर्देश, छह और तालुका सूखाग्रस्त घोषित
  • भाजपा सांसद हुकुमदेव नारायण को मिली जमानत
  • ‘नागराज’ फैसले की समीक्षा की आवश्यकता नहीं : सुप्रीम कोर्ट
  • गांधी जयंती पर जिला प्रशासन करेगा साइकिल रैली और पैदल मार्च का आयोजन
  • जम्मू कश्मीर सरकार के अधिकारी को रिश्वत मामले में कैद की सजा
  • फसलों और पशुधन के नुकसान का दिया जाएगा उचित मुआवजा-कैप्टन अमरिन्दर
  • तेरह वैज्ञानिकों को मिलेगा शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार
  • अमेजन ने हरियाणा में चौथा कम्यूनिटी सेंटर किया शुरू
  • गणपति बप्पा मोर्या जयकारा लगाने के मामले में वारिस पठान ने मांगी माफी
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

शामली में पुलिस पर हमला कर आरोपी को मुक्त कराया

शामली, 02 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में शामली के गढीपुख्ता क्षेत्र में रविवार को आरोपी को पकड़ कर ला रहे पुलिसकर्मियों पर हमला कर आरोपी को छुड़ा लिया गया तथा पुलिस कर्मी भाग कर जान बचाई।
पुलिस सूत्रों के अनुसार बंटा गांव में एक वारंटी को हिरासत में लेकर थाने आ रहे दो पुलिसकर्मियां पर आरोपी के परिजनों एवं ग्रामीणों ने हमला बोल दिया तथा मारपीट व फायरिंग करते हुए आरोपी को छुडा लिया। पुलिसकर्मियों ने किसी प्रकार भागकर अपनी जान बचायी। सूचना मिलते ही भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची तथा आरोपियों के घरो पर दबिश दी लेकिन कोई भी पुलिस के हाथ नहीं लगा। घटना के संबंध में एक पुलिसकर्मी ने आरोपियों के खिलाफ गढीपुख्ता थाने पर जानलेवा हमले सहित विभिन्न गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है।
सूत्रों ने बताया कि बुंटा निवासी लकडी आढती ताहिर पुत्र इकबाल किसी मामले में कोर्ट में पेश नहीं हो रहा था जिसके बाद उसके खिलाफ एनबीडब्लू वारंट जारी हो गए थे। रविवार को कच्ची गढी पुलिस चौकी को सूचना मिली कि ताहिर अपने गांव में ही मौजूद है जिस पर चौकी पर तैनात कांस्टेबिल प्रदीप कुमार व अकरम गांव बुंटा पहुंचे तथा वांछित को हिरासत में लेकर चौकी ले जाने लगे। जैसे ही वे गांव के बाहर पहुंचे तभी आरोपी के परिजन साबिर, जाबिर, जाहिद पुत्रगण इकबाल, असमत पुत्र सनव्वर अपने आठ-दस अज्ञात साथियों के साथ वहां पहुंचे तथा दोनों पुलिसकर्मियों के साथ गाली गलौच करते हुए हमला बोल दिया। जब पुलिसकर्मियों ने विरोध किया तो हमलावरों ने उन पर तमंचे से फायरिंग कर दी तथा आरोपी ताहिर को उनके चंगुल से छुडा लिया।
सं तेज
वार्ता
image