Friday, Sep 21 2018 | Time 11:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वियतनाम के राष्ट्रपति कुआंग का निधन
  • मोदी ने अजय माकन के जल्द स्वस्थ होने की कामना की
  • अमेरिका के साइराक्यूस शहर में गोलीबारी, सात घायल
  • स्वामी विवेेकानंद के भाषण को स्कूली पाठ्यक्रम में किया जाएगा शामिल
  • दक्षिण कश्मीर में कांस्टेबल और तीन एसपीओ का अपहरण
  • जापान और अमेरिका के बीच व्यापारिक वार्ता 24 सितंबर को
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 सितंबर)
  • आबे और ट्रम्प 26 सितंबर को करेंगे शिखर बैठक
  • आबे और ट्रम्प 26 सितंबर को करेंगे शिखर बैठक
  • अमेरिका में गोलीबारी, चार की मौत, तीन घायल
  • तंजानिया में नाव पलटने से कम से कम 42 की मौत
  • तंजानिया में नाव पलटी,200 से अधिक लोगों के डूबने की आशंका
  • कांग्रेस हथकंडे अपनाने की बजाए मैदान में आकर लड़े चुनाव - राकेश
  • घोषणाएं पूरी भी करते हैं - शिवराज
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

सपा बसपा ने वंचितों को धोखे में रखा : डा0 निर्मल

देवरिया, 04 सितम्बर (वार्ता) अनुसूचित जाति,जन जाति वित्त निगम के अध्यक्ष डा0 लालजी प्रसाद निर्मल ने कहा है कि वंचित व्यक्ति किसी पार्टी का नौकर बनकर रहने वाला नहीं है और वह अब खुद अपनी सियासत का वजूद तय करेगा।
डा. निर्मल ने मंगलवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि अभी तक समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन सामज पार्टी (बसपा) वंचितों और अति पिछड़ों को धोखे में रखकर राजनीतिक रोटियां सेंकती रही हैं। सपा ने किसी वंचित को पार्टी में आगे बढ़ने का मौका तक नहीं दिया जबकि बसपा ने भी पिछड़ी जाति के नेता को उभारने का काम नहीं किया। दोनों पार्टियां एक दूसरे का मंच पर विरोध करने का नाटक करती हैं।
उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आजादी के बाद पहली बार वंचितों को आर्थिक सशक्तिकरण का एजेंडा लेकर आइ है। इस एजेंडे से वंचित रोजगार और स्वरोजगार की ओर आगे बढ़ रहे हैं। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की मंशा है कि वंचित युवा रोजगार को लेकर पलायन न करें,बल्कि वे अपने गांव शहर के आसपास के इलाकों में पंडिल दीन दयाल उपाध्याय योजना से जुड़कर रोजगार पैदा करें।
दर्जा प्राप्त मंत्री ने बताया कि पंडित दीन दयाल स्वरोजगार योजना के तहत प्रदेश सरकार वंचितों को 20 हजार से लेकर 15 लाख रूपये बैंकों के माध्यम से रोजगार के लिये दिये जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा स्टैंड अप इंडिया के तहत अनुसूचित जाति,जन जाति (वंचितों) के लोगों को रोजगार के लिये 10 लाख से एक करोड़ रूपये की सहायता बैंकों के माध्यम से दी जा रही है।
उन्होंने कहा कि भाजपा ने ही आजादी के बाद पहली बार वंचितों को सियासत में हिस्सेदारी दी है। देश के राष्ट्रपति वंचित वर्ग से ही है, बेबी रानी मौर्य और सत्यदेव नारायण आर्य को राज्यपाल बनाकर भाजपा ने इस वर्ग के लोगों को संवैधानिक पदों पर बैठाने का काम किया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि विरोधी दलों ने वंचितों का वोट लिया लेकिन उनके हितों के लिए कुछ नहीं किया।
सं त्यागी प्रदीप
वार्ता
image