Saturday, Sep 22 2018 | Time 03:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राफेल सौदा प्रकरण, फ्रांस की कंपनियां भारतीय सहयोगी चुनने को लेकर स्वतंत्र: फ्रांस सरकार
  • राफेल सौदा प्रकरण, फ्रांस की कंपनियां भारतीय सहयोगी चुनने को लेकर स्वतंत्र: फ्रांस सरकार
  • मलिक के कमाल से पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को हराया
  • राष्ट्रपति ने नौका हादसे की जांच का दिया आदेश
  • नन से दुष्कर्म का आरोपी बिशप मुलक्कल गिरफ्तार
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

उत्तर प्रदेश-योगी शिक्षक दो अंतिम लखनऊ

श्री योगी ने बस्ती जिले के प्रधानाध्यापक सर्वेष्ट मिश्रा का जिक्र करते हुए कहा कि जो स्कूल बन्दी की कगार पर आ गया था, उस स्कूल में उन्होंने बुनियादी जरूरतों के साथ ही स्मार्ट क्लास शुरू किया। इसका परिणाम यह रहा कि इस स्कूल में 300 से ज्यादा बच्चे पंजीकृत हो गये और श्री मिश्रा को राष्ट्रीय पुरस्कार भी दिया जा रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नियुक्ति-पत्र प्राप्त शिक्षकों को प्रदेश के सभी आठ आकांक्षात्मक जिलों बहराइच, बलरामपुर, श्रावस्ती, चन्दौली, सोनभद्र, फतेहपुर, चित्रकूट तथा सिद्धार्थनगर में प्राथमिकता के आधार पर नियुक्त किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने प्राॅक्सी अध्यापकों पर नियंत्रण स्थापित करने के लिए विद्यालय में उनके फोटो भी लगवाएं, जिससे विद्यार्थी अपने अध्यापकों को पहचान सकें। शिक्षक शिक्षा को मनोरंजक बनाने का काम करें, जिससे विद्यार्थी रुचि लेकर पढ़ाई कर सकें। उन्होंने कहा कि बच्चों को योगासन, संगीत, अन्त्याक्षरी तथा अन्य रचनात्मक कार्याें से भी जोड़ा जाए।
श्री योगी ने कहा कि राज्य सरकार हर प्रतियोगी परीक्षा की शुचिता के लिए कार्य कर रही है। हमारा प्रयास है कि व्यवस्था पारदर्शी हो, जिससे प्रतियोगी कुंठा का शिकार न हो। उन्होंने कहा कि भर्ती प्रक्रिया को प्रभावित अथवा दूषित करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पेपर लीक में शामिल लोगों को तत्काल गिरफ्तार करते हुए ऐसे तत्वों के विरूद्ध एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी।
इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने बेसिक शिक्षा में अभिनव प्रयोग पर केन्द्रित प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती अनुपमा जायसवाल ने सभी अध्यापकों को बधाई देते हुए कहा कि एक शिक्षक के लिए अनुशासित जीवन होना काफी आवश्यक है, तभी वह एक अच्छा शिक्षक बन सकता है। एक शिक्षक कच्चे
गौरतलब है कि बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा 68,500 रिक्त पदों पर चयन के लिए सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा-2018 का आयोजन कराया गया, जिसमें 41,556 अभ्यर्थी सफल हुए।
इस अवसर पर राज्य मंत्री बेसिक शिक्षा संदीप सिंह ने ,अपर मुख्य सचिव डाॅ0 प्रभात कुमार, बेसिक शिक्षा निदेशक सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
त्यागी
वार्ता
image