Thursday, Sep 19 2019 | Time 14:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • देश विरोधी नारों का समर्थन कर रहे केजरीवाल : जावड़ेकर
  • भारत की अंडर-23 टीम में सोनी की जगह लेंगे साैरभ
  • प्रोफेसर के माफी मांगने पर अवमानना मामला खत्म
  • चेन्नई तिलहन के भाव
  • मरने के बाद भी ‘करवट’ बदलते हैं लोग:अनुसंधान
  • तबीयत में सुधार नहीं होने पर वीरभद्र सिंह पीजीआई चंडीगढ़ रैफर
  • आदर्श ग्राम विकास केंद्र को समर्पित करेंगे प्रणव पंडया
  • तेजस देश के रक्षा शोध संस्थानों की सबसे बडी उपलब्धि: राजनाथ सिंह
  • तेजस देश के रक्षा शोध संस्थानों की सबसे बडी उपलब्धि
  • अफगानिस्तान में हवाई हमले में 30 की मौत, 45 घायल
  • बोको हराम को मुंहतोड़ जवाब देगा कैमरून
  • भारतीय टीम अपराजेय नहीं: बावुमा
  • भारतीय टीम अपराजेय नहीं: बावुमा
  • तेज रफ्तार बस की चपेट में आने से युवक की मौत
  • सुरेन्द्र नागर और संजय सेठ ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
राज्य » उत्तर प्रदेश


बदमाशों और ग्रामीण के बीच चली गोली, दो की मौत

ग्रेटर नोएडा 21 अप्रैल (वार्ता) उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर जिले के थाना जारचा इलाके में रविवार तड़के पशु चोरी करने आए कुछ बदमाशों और ग्रामीणों के बीच हुई गोलीबारी में एक पशु चोर और एक ग्रामीण समेत दो लोगों की मौत हो गई।
घटना के बाद गांव में तनाव का माहौल है ग्रामीणों का आरोप है कि पिछले कुछ दिनों से इलाके में पशु चोरी की वारदात काफी बढ़ गई है जिसकी शिकायत के बावजूद भी पुलिस में कोई ठोस कार्यवाही नहीं की। गांव में व्याप्त चलाओ को देखते हुए इलाके में व्यापक पुलिस बंदोबस्त किए गए हैं। मौके पर मौजूद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण के मुताबिक आज तड़के देहात क्षेत्र के थाना जारचा इलाके के खुशी पुरा गांव में पशु चोरी करने के उद्देश्य से कुछ चोर एक घर में घुस आए इसी दौरान परिवार के लोग जग गए और उन्होंने चोरों को दबोचने का प्रयास किया। चोरों ने ग्रामीणों पर गोली चला दी इसके बाद ग्रामीणों ने भी जवाब में गोलीबारी करते हुए एक बदमाश को ढेर कर दिया इसी दौरान चोरों की गोली से रतन सिंह नामक व्यक्ति घायल हो गया जिसे ग्रामीणों ने पास के अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक समेत जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए ग्रामीणों का कहना है कि गांव में बीते कुछ दिनों से पशु चोरी की वारदात काफी बढ़ गई है जिसको लेकर स्थानीय लोगों ने थाने में कई बार शिकायत भी की लेकिन कोई ठोस कार्रवाही नहीं हुई इसके बाद ग्रामीणों ने एकजुट होकर स्वयं ही चोरों को पकड़ने की योजना बनाई इसी के तहत आज तड़के यह घटना घटी। लोगों का कहना है कि समय रहते अगर पुलिस ने कार्रवाही की होती इतना बड़ा हादसा होने से बच सकता था।
फिलहाल पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।
सं. उप्रेती
वार्ता
image