Wednesday, Feb 19 2020 | Time 01:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दमिश्क में विस्फोट से एक की मौत, दो घायल
  • अशरफ घनी अफगानिस्तान के राष्ट्रपति चुने गए
  • पश्चिम चंपारण में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हत्या
  • अनंतनाग में सड़क दुर्घटना में दो की मौत, एक घायल
  • सोमालियाई सेना ने अल-शबाब के 12 आतंकवादियों को मार गिराया
राज्य » उत्तर प्रदेश


उन्नाव बलात्कार पीड़िता को दिल्ली एम्स स्थानांतरित किये जाने से इंकार

लखनऊ 02 अगस्त (वार्ता) सड़क हादसे में घायल उन्नाव की बलात्कार पीड़िता की मां ने शुक्रवार को कहा कि वह अपनी पुत्री को इलाज के लिये दिल्ली के अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान (एम्स) नहीं ले जायेंगी। पीड़िता का उपचार उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल यूनीवर्सिटी (केजीएमयू) अस्पताल में हो रहा है।
उच्चतम न्यायालय ने गुरूवार को उन्नाव बलात्कार काण्ड से जुड़े सभी पांच मामलों को उत्तर प्रदेश से नई दिल्ली स्थानांतरित करने का आदेश दिया था। न्यायालय ने परिजनो की सलाह के बाद पीड़िता को इलाज के लिये एम्स लाने को कहा था। इस बीच पीड़ित और उसके वकील महेन्द्र सिंह की हालत स्थिर बनी हुयी है। चिकित्सकों के मुताबिक दोनो के स्वास्थ्य पर पैनी नजर रखी जा रही है। अभी उनकी हालत खतरे से बाहर नहीं है।
इससे पहले परिजनों ने पीड़िता को दिल्ली ले जाने पर सहमति जतायी थी लेकिन शुक्रवार को उसकी मां ने कहा कि वे लखनऊ में ही रहेंगी। उनका परिवार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक को सजा दिलवाना चाहता है।
पीड़िता की मां ने पत्रकारों से कहा “ मेरी बेटी का इलाज केजीएमयू में अच्छा चल रहा है। हम लोगों को दिल्ली जाने का फिलहाल कोई इरादा नही है। यदि यहां के डाक्टर पुत्री को एम्स के लिये शिफ्ट करने को कहेंगे तो अलग बात है। ”
उन्होने कहा “ सुप्रीम कोर्ट के आदेश से हमे आशा बंधी है कि हमारे परिवार को न्याय मिलेगा। कठिन समय में मेरी पुत्री और परिवार के पीछे खड़े रहने वालों के प्रति हम सदा आभारी रहेंगे। बलात्कार के आरोपी विधायक के खिलाफ अगर पहले ही कड़ी कार्रवाई होती तो मेरे परिवार को आज यह दिन नहीं देखना पड़ता। ”
प्रदीप
जारी वार्ता
image