Saturday, Dec 7 2019 | Time 02:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बगदाद में गोलीबारी में पांच प्रदर्शनकारियों की मौत
राज्य » उत्तर प्रदेश


उत्तर प्रदेश-योगी जनशिकायत दो लखनऊ

मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास को शौचालय निर्माण में कुछ जिलो में ओवर रिपोर्टिंग किए जाने की सूचना मिलने पर सम्बन्धित जिलाधिकारियों को शो-काॅज़ नोटिस देने के निर्देश दिए। उन्होंने दोषियों के खिलाफ एफआईआर करने और उन्हें टर्मिनेट करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा के ग्राम्य विकास विभाग जनता से जुड़ा हुआ है, जिसके कार्यों का सीधा असर लोगों के जीवन पर पड़ता है। ऐसे में इस विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को जनता के प्रति संवेदनशीलता दिखानी होगी।
उन्होंने राजस्व एवं आपदा विभाग के तहत आईजीआरएस पर दर्ज होने वाली जनसमस्याओं के निस्तारण की समीक्षा करते हुए पांच असंतोषजनक निस्तारण वाले मण्डलों, जिनमें सहारनपुर, प्रयागराज, कानपुर, गोरखपुर तथा अयोध्या शामिल हैं, के मण्डलायुक्तों तथा जिला स्तर के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को स्थिति सुधारने के कड़े निर्देश दिए। इस कार्य में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने ब्लाॅक, तहसील, जिला स्तर पर तैनात अधिकारियों को अपने तैनाती स्थल पर मौजूद रहने के सख्त निर्देश देते हुए कहा कि अनुपस्थित पाये जाने की दशा में उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जनसमस्याओं के निस्तारण में मण्डलायुक्तों की महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है। ऐसे में वे अपने स्तर से यह सुनिश्चित करें कि उनके मण्डल के जनपदों की जनसमस्याओं का त्वरित एवं प्रभावी निस्तारण किया जाए। उन्होंने सभी मण्डलायुक्तों को अपने-अपने मण्डल के जिलो का निरीक्षण करने के भी निर्देश दिए।
बैठक के दौरान मुख्यमंत्री को राजस्व आयुक्त ने राजस्व परिषद द्वारा विभागीय कार्य पद्धति में जनसामान्य की सुविधा के लिए किए गए महत्वपूर्ण बदलावों के विषय में अवगत कराया गया।
मुख्यमंत्री ने खाद्य एवं रसद विभाग के संदर्भ में आईजीआरएस पर आने वाली शिकायतों के प्रभावी निस्तारण की समीक्षा करते हुए कहा कि वर्तमान में ई-पाॅस मशीनों के सिम में खराबी की शिकायत मिलने लगी हैं। उन्होंने इस प्रकरण की गहन जांच करके दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं, ताकि जनता को राशन मिलने में कोई दिक्कत न हो।
उन्होंने खाद्यान्न वितरण की पारदर्शी व्यवस्था सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने वाराणसी, प्रयागराज, अयोध्या, लखनऊ तथा मुरादाबाद कुल 05 असंतोषजनक मण्डलों के क्षेत्रीय खाद्य अधिकारियों को चेतावनी देते हुए स्थिति में सुधार लाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने झांसी, मथुरा, बाराबंकी, लखनऊ तथा ललितपुर के जिला पूर्ति अधिकारियों को भी स्थिति सुधारने के निर्देश दिए हैं।
त्यागी
जारी वार्ता
image