Monday, Oct 14 2019 | Time 13:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विहिप को नहीं मिली विवादित परिसर में दीपोत्सव की मंजूरी
  • स्वर्णकार पर हमला कर चार लाख रुपए एवं सोना लूटा
  • मोबाइल पर नवंबर से उपलब्ध होगा इसरो का ‘नाविक’
  • सितंबर में थोक मुद्रास्फीति 0 33 प्रतिशत पर
  • बंटी और बबली के सीक्वल में काम करेंगे माधवन
  • बंटी और बबली के सीक्वल में काम करेंगे माधवन
  • बंटी और बबली के सीक्वल में काम करेंगे माधवन
  • रीटा चौधरी की राजनीतिक प्रतिष्ठा फिर दांव पर
  • जम्मू से नशीले मादक पदार्थ तस्कर गिरफ्तार
  • सितंबर में थोक मुद्रास्फीति घटकर 0 33 प्रतिशत पर
  • सितंबर में थोक मुद्रास्फीति घटकर 0 33 प्रतिशत पर
  • कश्मीर में पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवा बहाल
  • दिल्ली में मौसम सुहाना
राज्य » उत्तर प्रदेश


चिड़ियाघर के एक्वेरियम में सैण्ड स्टार फिश दर्शकों के आकर्षण का केन्द्र

चिड़ियाघर के एक्वेरियम में सैण्ड स्टार फिश दर्शकों के आकर्षण का केन्द्र

लखनऊ, 12 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में लखनऊ के नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान (चिड़ियाघर) में स्थित

मछलीघर के समुद्री एक्वेरियम में गुरुवार को रखी गई तीन सैण्ड स्टार फिश,दो नये रंग के एनीमोन एवं नीली रंग की

डैमासेल मछली दर्शकों के आकर्षण का केन्द्र रही।

प्राणि उद्यान के निदेशक आर के सिहं के अनुसार सैण्ड स्टार फिश- स्टर फिश असल में मछली न होकर एनीमल है जिन्हें (अकेशेरूकी) कहते हैं। तीन नयी स्टार फिश के साथ अब प्राणि उद्यान में कुल छह स्टार फिश हो गयी

हैं। सैण्ड स्टार फिश बहुत ही आक्रामक होती है,कभी-कभी यह जिंदा मछली को भी पकड़ कर खा जाती है। इनकी अधिकतम आयु 10 वर्ष होती है।

उन्होंने बताया कि इनका मुख्य मोजन माइक्रो एलमी है। यह समुद्री तल पर मरे जीव, मछली इत्यादि खा कर पानी को साफ रखती हैं। चीन सहित कई देशों में ये खायी भी जाती है। एनीमोन-मछलीघर में आज दो कारपेट एनीमोन

रखी गयी हैं। अब एक्वेरियम में कुल 03 एनीमोन मछली हो गयी हैं। समुद्री जल में रहने वाली यह एनीमोन मरीन जीव हैं। यह मछली की श्रेणी में न होकर एनीमल की श्रेणी में आती हैं। फूल जैसी दिखने वाली एनीमोन बहुत ही खतरनाक और जहरीले होते हैं। यदि कोई मछली इनके करीब आ जाये तो उसे अपनी ओर खींच लेती है और पलक छपकते ही

खा जाते हैं। इन्हें सप्ताह में दो बार मरी मछली खाने को दी जाती है। इनके नाक, कान, आंख नहीं होता है। इनकी गति बहुत ही धीमी होती है। ऐसे जीव छात्र-छात्राओं के लिए आकर्षण का केन्द्र होते हैं।

श्री सिंह ने बताया कि ब्लू डैमसिल-समुद्री दुनिया में नीले रंग की बस कुछ गिनी-चुनी प्रजाति है जिसमें इण्डियन ओशियन की गर्म जल धारा में पायी जाने वाली यलो टेल ब्लू डैमसिल भी आज मछली घर में रखी गयी है। अब कुल 07

मछली एक्वेरियम में हैं। नीले रंग की होने के कारण यह बहुत ही आकर्षक होती है। ये -झुण्ड बनाकर शिकार करती हैं और बहुत ही छोटे जीव को पकड़ कर खाती है।

इसके साथ ही पहले से मौजूद लाॅयन फिश दर्शकों को आकर्शित कर रही है। इसके पूरे शरीर पर टेंरिकल होती है जो जहरीले होते हैं। यह अगर किसी को चुभ जाये तो उसकी मृत्यु भी हो सकती है। ये प्रतिदिन दो जिंदा मछली खाती है।

त्यागी

वार्ता

More News
अयोध्या में 10 दिसम्बर तक धारा 144

अयोध्या में 10 दिसम्बर तक धारा 144

14 Oct 2019 | 1:17 PM

अयोध्या 14 अक्तूबर(वार्ता) अयोध्या की राम जन्म भूमि और बाबरी मस्जिद भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई अंतिम दौर में है जबकि इसको लेकर रामनगरी में माहौल गरम होने की आशंका को लेकर यहां दस दिसंबर तक धारा 144 लागू कर दी गई है।

see more..
नौ शहरों में रूकेगा नदियों का प्रदूषण

नौ शहरों में रूकेगा नदियों का प्रदूषण

14 Oct 2019 | 1:07 PM

लखनऊ 14 अक्तूबर(वार्ता) प्रयागराज में महाकुंभ के दौरान गंगा नदी में जल प्रदूषण पर लगाम लगाने में सफल रही उत्तर प्रदेश सरकार अब नौ शहरों में नदियों में हो रहे प्रदूषण को रोकने का अभियान चलाने जा रही है।

see more..
योगी ने घायलों के इलाज के दिये  निर्देश

योगी ने घायलों के इलाज के दिये निर्देश

14 Oct 2019 | 12:26 PM

लखनऊ 14 अक्तूबर(वार्ता) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को मऊ के मोहम्दाबाद कोतवाली क्षेत्र के वलीदपुर गांव में सुबह करीब आठ बजे रसोई गैस का सिलेंडर फटने से 12 लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

see more..
image