Thursday, May 28 2020 | Time 13:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पेरु में एक दिन में कोरोना के रिकाॅर्ड 6154 नये मामले
  • छत्तीसगढ़ में इनामी नक्सली ने किया समर्पण
  • फिलीपींस के लुजोन द्वीप में भूकंप के मध्यम झटके
  • प रेलवे से आठ पार्सल विशेष ट्रेन रवाना
  • जर्मनी में कोरोना के 353 नये मामले, संक्रमितों की संख्या 179717 हुई
  • अफगानिस्तान में आतंकवादी हमला, सात पुलिसकर्मियों की मौत
  • लीबिया में कर्फ्यू की मियाद 10 दिन बढ़ी
  • शाही लीची तैयार, जल्द देगी बाजार में दस्तक
  • शाही लीची तैयार, जल्द देगी बाजार में दस्तक
  • सारण में प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या
  • किसी देश पर निर्भर नहीं रहेगा डब्ल्यूएचओ, अलग फाउंडेशन की स्थापना
  • स्पाइसजेट ने तीन क्यू400 विमानों को मालवाहक में बदला
  • राजस्थान में कोरोना संक्रमित संख्या 7947 पहुंची, छह की मौत
  • पश्चिम रेलवे को 952 करोड़ रुपये की आय
  • कोलंबिया में एक जून से लॉकडाउन में आंशिक ढील
राज्य » उत्तर प्रदेश


छह श्रेणियों में बालिकाओं को मिलेगा सुमंगल योजना का लाभ

कानपुर, 17 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के कानपुर जिला प्रशासन ने कन्या सुमंगला योजना का फायदा लाभार्थियों तक पहुंचाने के पुख्ता बंदोबस्त किये है।
जिलाधिकारी विजय विश्वास पन्त ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में इस सिलसिले में समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि बालिकाओं के जन्म से लेकर बड़े होने तक उन्हें कन्या सुमंगला योजना के तहत 6 श्रेणियों में 17 हजार रुपये सीधे उनके खाते में भेजा जायें।
उन्होने कहा कि इसके लिए प्रथम श्रेणी में बालिका के जन्म पर 2000,द्वितीय श्रेणी बालिका के एक वर्ष तक के पूर्ण टीकाकरण के उपरान्त 1000,तृतीय श्रेणी कक्षा एक में बालिका के प्रवेश के उपरान्त 2000, चतुर्थ श्रेणी कक्षा 6 में बालिका के प्रवेश उपरान्त2000, पंचम श्रेणी कक्षा नौ में बालिका के प्रवेश के उपरान्त 3000 तथा षष्टम श्रेणी ऐसी बालिका जिन्होंने कक्षा 10 वीं/ 12वीं उत्तीर्ण करके स्नातक डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश लिया हो ऐसी बालिकाओं को 5000 रुपये कन्या सुमंगल योजना के तहत लाभांवित किया जाएगा।
जिलाधिकारी ने समस्त उप जिला अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि लेखपाल कोटेदार तथा ग्राम प्रधान का सहयोग लेते हुए समस्त ब्लॉकों में पीएससी, सीएससी में एक अप्रैल से पैदा वाले वाली बच्चियों को उक्त 6 श्रेणियों के आधार पर लाभान्वित कराया जाये , इसके लिए सीएमओ, जिला विद्यालय निरीक्षक, एबीएसए बालिकाओं के फार्म भरवाने का कार्य कराये।
उन्होंने इस सम्बन्ध में निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त विभाग अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन निष्ठा के साथ करे इसमे लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी।
सं प्रदीप
वार्ता
image