Friday, Nov 22 2019 | Time 01:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मिस्टर ग्रैंड इंटरनेशनल प्रतियोगिता जीतने वाले पहले एशियाई बने अश्विनी
राज्य » उत्तर प्रदेश


उत्तर प्रदेश-योगी किसान दो लखनऊ

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान पाठशाला के पांचवे संस्करण को दो सत्रों में आयोजित किया जा रहा है। प्रथम सत्र 21 से 24 अक्टूबर तक तथा दूसरा सत्र 04 से 07 नवम्बर तक आयोजित किया जाएगा। इस दौरान कुल 15 हजार 366 ग्रामों में पाठशालाओं का आयोजन करके 10 लाख से अधिक किसानों को प्रशिक्षित किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है। इस संकल्प को साकार करने के लिए मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, विभिन्न खाद्यान्नों के समर्थन मूल्य में वृद्धि, बकाया गन्ना मूल्य भुगतान आदि के लिए योजनाएं लागू की गयी हैं। साथ ही, केन्द्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) जैसी महत्वाकांक्षी योजना के माध्यम से सभी किसानों को सीधे 06 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रतिवर्ष उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गयी है। इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के 1.62 करोड़ किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है।
श्री योगी ने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा 60,000 करोड़ रुपये की सिंचाई परियोजनाओं को कार्ययोजना बनाकर पूरा किया जा रहा है। बाण सागर परियोजना के माध्यम से प्रदेश में 01 लाख 70 हजार हेक्टेयर सिंचन क्षेत्र में वृद्धि हुई है, जिससे डेढ़ लाख किसान लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि कृषि के लिए सिंचाई की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है। इसलिए किसानों को ड्रिप और स्प्रिंकलर इरिगेशन के लाभ के विषय में जानकारी दी जानी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा भी इस पर 80 से 90 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जा रही है।
उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में मांग के अनुरूप उत्पादन की आवश्यकता है। इससे किसानों को अपनी उपज का लाभकारी मूल्य मिलेगा। इसके लिए कृषि में विविधीकरण की आवश्यकता है। किसानों को पारम्परिक फसलों के अलावा सब्जी, बागवानी, मछली पालन, दुग्ध उत्पादन आदि में भी आगे बढ़ने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि किसान पाठशाला के माध्यम से यदि प्रत्येक गांव के एक किसान को भी उन्नत खेती से जोड़ा जा सके तो इसके लाभकारी प्रभावों से कालान्तर में पूरे गांव के किसान इससे जुड़ जाएंगे।
त्यागी
जारी वार्ता
image