Tuesday, Dec 10 2019 | Time 08:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नॉर्मैंडी के नेताओं में स्टाइनमीयर फॉर्मूले को लागू करने पर बनी सहमति
  • नॉर्मैंडी फोर ने डोनबाद में साल के अंत संघर्ष विराम लागू करने की प्रतिबद्धता दोहरायी
  • नोर्मांडी के नेताओं में स्टाइनमीयर फॉर्मूले को लागू करने पर बनी सहमति
  • यूरोप की सुरक्षा के लिए रूस के साथ बातचीत जरूरी: फिलिप
  • कांगो की स्थिति का जायजा लेने जाएंगे कार्लोस: संरा
  • ट्रम्प ने जतायी अमेरिका,मेक्सिको-कनाडा के बीच व्यापारिक समझौता होने की उम्मीद
  • न्याय विभाग के महानिरीक्षक की रिपोर्ट उम्मीद से अधिक खराब: ट्रम्प
  • तंजानिया के राष्ट्रपति मागुफुली ने 5,533 कैदियों को दी माफी
  • उत्तर कोरिया ने अमेरिका को दी चेतावनी
  • मुर्मू ने की बुनियादी ढांचे के विकास के लिए बीआरओ की प्रशंसा
  • अफगानिस्तान में मिसाइल हमले में एक की मौत, कई घायल
  • नागरिकता संशोधन विधेयक लोकसभा में पारित
  • मतविभाजन के बाद नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 लोकसभा से पारित।
राज्य » उत्तर प्रदेश


उप्र में अगले साल होगा भूजल संसाधनों का पुनः आंकलन

लखनऊ, 04 नवम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में नवीनतम भूजल संसाधानों के आंकलन के लिए वर्ष 2020 में फिर से अध्ययन कराया जायेगा,जिससे विगत वर्षों में किये जा रहे रिचार्ज योजनाओं की सफलता का सही अनुमान लगाया जा सके।
भूगर्भजल विभाग के प्रवक्ता ने सोमवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 2013 के बाद से भूजल संसाधनों का आकंलन नहीं हो पाया था। भूगर्भ जल विभाग ने इस दिशा में महत्वपूर्ण प्रयास करते हुए वर्ष 2017 के आंकड़ों के आधार पर नवीनतम भूजल संसाधन का आंकलन किया है, जिससे संकटग्रस्त भूजल क्षेत्रों की मौजूदा स्थिति का पता लगाया जा सके।
उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 के आकंडों के आकलन के अनुसार वर्तमान में प्रदेश के 82 विकास खण्ड अति दोहित तथा 47 विकास खण्ड क्रिटिकल एवं 151 विकास खण्ड सेमी-क्रिटिकल श्रेणी में रखे गये है। इसको दृष्टिगत रखते हुए अतिदोहित एवं क्रिटिकल विकास खण्डों में विभिन्न विभागों द्वारा जल संचयन की योजनाएं संचालित की जा रही है।
त्यागी
वार्ता
More News
कानून के राज की स्थापना के लिए जेल प्रशासन को सुसज्जित किया जाना जरुरी:योगी

कानून के राज की स्थापना के लिए जेल प्रशासन को सुसज्जित किया जाना जरुरी:योगी

09 Dec 2019 | 11:41 PM

अम्बेडकरनगर, 09 दिसम्बर(वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कानून के राज की स्थापना के लिए अपराधाें पर नियंत्रण के लिए जेल प्रशासन को सुसज्जित किया जाना आवश्यक है।

see more..
image