Monday, Dec 16 2019 | Time 11:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार रविकांत कौशिक का निधन
  • वॉलीबॉल खिलाड़ी के अमानवीय शोषण पर मामला दर्ज
  • एक-एक वोट भ्रष्टाचार और पारिवारवाद को करेगा खत्म : रघुवर
  • एक-एक वोट भ्रष्टाचार और पारिवारवाद को करेगा खत्म : रघुवर
  • हिरासत में लिए गए जामिया के सभी छात्र रिहा, पुलिस मुख्यालय पर प्रदर्शन समाप्त
  • 120 कार्टन विदेशी शराब बरामद, धंधेबाज गिरफ्तार
  • रवि को मिला मेघालय के राज्यपाल का प्रभार
  • झारखंड में चौथे चरण का मतदान जारी, 11 85 प्रतिशत पड़े वोट
  • झारखंड में चौथे चरण का मतदान जारी, 11 85 प्रतिशत पड़े वोट
  • भोपाल समेत मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड का दौर जारी
  • ट्रक चालक की गोली मारकर हत्या
  • राहुल के बयान को लेकर चुनाव आयोग ने मांगी रिपोर्ट
  • युवक की गोली मारकर हत्या
  • ‘तानाशाह सरकार’ दबाना चाहती है छात्रों की आवाज़ : प्रियंका
  • छात्रों पर पुलिस कार्रवाई के विरोध में केरल में प्रदर्शन
राज्य » उत्तर प्रदेश


अयोध्या वासी की नजर उच्चतम न्यायालय पर

अयोध्या 08 नवम्बर (वार्ता)। अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद के कारण नित्य नये होने वाले उठापटक से आजिज आ चुके अयोध्या वासी को अब उच्चतम न्यायालय की ओर से सुनहरी किरणें दिखायी पड़ रही है।
एक दशक से ज्यादा समय से इस मुद्दे को लेकर उठने वाले झंझावतों से तंग यहां के लोगों का मानना है कि इस विवाद का हल अब शीघ्र हो जायेगा। अयोध्यावासियों की जिंदगी में ही उतनी जल्दी रौनक भी आनी शुरू हो जायेगी। सामान्य आवाजाही पर रोक, ठप्प व्यापार, कफ्र्यू की सदैव आशंका तथा कभी भी किसी अनहोनी होने का भय यहां के लोगों की एक नियति सी बन गयी है।
यहां के हिन्दू हों या मुसलमान धर्म-मजहब सम्प्रदाय से ऊपर उठकर एक बार फिर वह अमन-चैन की वैसी ही जिंदगी जीना चाहते हैं जैसा वर्षों पहले यहां हुआ करती थी। अयोध्या में रहने वाले हिन्दू-मुस्लिम निवासियों ने एक सुर से कहा कि मंदिर-मस्जिद विवाद का जो भी उच्चतम न्यायालय फैसला देगा वो सभी को मान्य होगा।
अयोध्या में फैसले से पहले शहर में शांति का माहौल है। लोगों के मन में इसको लेकर तरह-तरह की आशंकाएं हैं। उन्हें यह फिक्र सता रही है कि तमाम संगठनों की तैयारी के चलते उनकी आम जिंदगी प्रभावित न हो जाय। किसी को फैसले के बाद माहौल खराब होने का डर है और वह अपने परिवार की सुरक्षा में लगा है और वहीं किसी को इस घर में होने वाली शादियों की फिक्र है।
कुछ लोगों ने खाने-पीने और अन्य सामान जमा करना शुरू कर दिया है। उधर जिला प्रशासन की तरफ से अयोध्यावासियों को आश्वस्त किया गया है कि परेशान होने या घबड़ाने की जरूरत नहीं है।
जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने कहा कि कुछ लोगों द्वारा आशंकाएं व्यक्त की जा रही हैं कि शादियां नहीं हो पायेंगी। सभी को आश्वस्त किया जाता है कि व्यक्तिगत कार्यक्रमों में कोई अड़चन आने नहीं दी जायेगी। अयोध्या में धारा 144 लागू है। प्रशासन ने आने वाली कार्तिक पूर्णिमा स्नान के अलावा श्रद्धालुओं का आवागमन, स्कूल, अस्पताल आदि के संचालन को सुचारू रखने की तैयारी कर ली है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में जीवन सामान्य है और प्रशासन की पूरी कोशिश है कि स्थिति सामान्य ही रहे। किसी भी स्थिति में बिना लोगों को परेशान किये या अफरा-तफरी से निपटने की व्यवस्था की गयी है।
सं विनोद
वार्ता
More News
महिला आरक्षियों ने प्रधानमंत्री के ‘बेटी बचाओ-बेटी अपढ़ाओ’अभियान को नई ऊंचाई प्रदान की:योगी

महिला आरक्षियों ने प्रधानमंत्री के ‘बेटी बचाओ-बेटी अपढ़ाओ’अभियान को नई ऊंचाई प्रदान की:योगी

15 Dec 2019 | 9:25 PM

लखनऊ,15 दिसम्बर (वार्ता) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि महिला आरक्षियों ने प्रधानमंत्री के ‘बेटी बचाओ-बेटी अपढ़ाओ’ अभियान को नई ऊंचाई प्रदान की है।

see more..
डा हर्षवर्धन ने सिमौनीधाम मेले में की शिरकत

डा हर्षवर्धन ने सिमौनीधाम मेले में की शिरकत

15 Dec 2019 | 9:25 PM

बांदा 15 दिसंबर (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने रविवार को उत्तर प्रदेश के बांदा में सिमौनीधाम मेला में भाग लिया और भंडारे में प्रसाद ग्रहण किया।

see more..
image