Sunday, Oct 25 2020 | Time 05:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • काबुल में आत्मघाती बम हमले में 30 की मौत
  • महाराष्ट्र में एक दिन में कोरोना संक्रमण के 7347 नए मामले, 184 की मौत
  • ट्रंप ने फ्लोरिडा में किया मतदान
राज्य » उत्तर प्रदेश


इटावा की शिक्षिका को राज्य अध्यापक पुरस्कार

इटावा, 03 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में उच्च प्राथमिक विद्यालय रामनगर की प्रधानाध्यिपिका प्रतिभा तिवारी को राज्य अध्यापक पुरस्कार 2019 प्रदान किया जायेगा।
अध्यापक पुरस्कार मिलने के ऐलान की खबर मिलने के बाद आज प्रतिभा के कई साथी शिक्षक उसकी हौसला अफजाई करने के लिए पुष्पगुच्छ भेंट करने जा पहुंचे ।
शिक्षिका ने बताया कि वे वर्ष 1997 में सीधी भर्ती के माध्यम से शिक्षक के रूप में चयनित हुई थी। वर्ष 2013 में उच्च प्राथमिक विद्यालय रामनगर में इंचार्ज प्रधानाध्यापक के रूप में तैनात हुई थी। वो अपने स्कूल में अकेली शिक्षक थी जब भी स्कूल में आई थी तब 56 बच्चे पंजीकृत थे। आज नामांकन संख्या बढ़कर के 134 हो गई है। नगर क्षेत्र में बच्चों की संख्या बढ़ाना एक चुनौती है। उनके पति राजेंद्र तिवारी बैंक प्रबंधक है जबकि ससुर सुरेश कुमार तिवारी बेसिक शिक्षा विभाग से ही रिटायर्ड है।
प्रतिभा तिवारी ने महिला सशक्तिकरण व बालिका शिक्षा के लिए भी खूब काम किया है। इसके लिए वर्ष 2018 में महिला सशक्तिकरण दिवस पर तत्कालीन जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने भी उन्हें सम्मानित किया था। वर्ष 2019 में जिलाधिकारी जितेंद्र बहादुर सिंह ने नुमाइश पंडाल में उन्हें सम्मानित किया। मीना मंच को सक्रिय करने में प्रतिभा तिवारी की खासी भूमिका रही है । बालिकाओं को गुड टच व बेड टच की जानकारी दी उनके द्वारा दी गई ।
राज्य अध्यापक पुरस्कार से सम्मानित होने वाले शिक्षकों को चार सितंबर को शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर पुरस्कृत करने की तैयारी थी पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन के कारण छह सितंबर तक राजकीय शोक होने से सम्मान समारोह को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। सम्मानित शिक्षकों को दो साल का सेवा विस्तार दिया जाता है। पुरस्कार के तौर पर उन्हें प्रशस्ति पत्र और 25 हजार रुपये की धनराशि भेंट की जाती है।
सं प्रदीप
वार्ता
image