Thursday, Oct 29 2020 | Time 05:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • इंग्लैंड में कोरोना के कारण अपराधों में भारी कमी
  • चिली में भूकंप के तेज झटके
  • तुर्की में कोरोना संक्रमितों की संख्या 368,513 हुई
  • जर्मनी में कोरोना के मामलों में एक बार फिर उछाल
राज्य » उत्तर प्रदेश


खराब स्वास्थ के चलते मंहत नृत्यगोपाल अदालत में नही रहेंगे मौजूद

अयोध्या, 19 सितम्बर (वार्ता) बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई की विशेष अदालत बुधवार को अपना फैसला सुनायेगी। अदालत ने इस दौरान सभी आरोपियों को मौजूद रहने का आदेश दिया है। श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अध्यक्ष एवं मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास खराब स्वास्थ के चलते सीबीआई की अदालत में मौजूद नहीं रहेंगे।
महंत नृत्यगोपाल दास के उत्तराधिकारी कमल नयन दास ने मंगलवार को यहां बताया कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है, इसलिये वे कहीं नहीं जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नृत्यगोपालदास बाबरी विध्वंस के आरोपी ही नहीं बल्कि मौजूदा समय में श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष भी हैं। कोरोना से ग्रसित होने के बाद उन्हें मेदांता हास्पिटल में भर्ती कराया गया था जहां से उन्हें वापस लाया गया था। उसी समय से उनका स्वास्थ्य खराब चल रहा है और वह किसी से मिल नहीं रहे हैं।
उन्होंने बताया कि शासन व प्रशासन का निर्देश है कि महाराज जी अभी कहीं नहीं जायेंगे। लगातार डॉक्टर उन्हें देखने आ रहे हैं और इलाज कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अभी कहीं जाना उचित नहीं है।
गौरतलब है कि छह दिसम्बर 1992 को श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास को अयोध्या में बाबरी विध्वंस केस में सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में आरोपी बनाया था। बाबरी मस्जिद विध्वंस केस के मामले में लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत करीब तीन दशकों के बाद लंबे इंतजार के बाद कल फैसला सुनाने जा रही है। माना जा रहा है अदालत का फैसला करीब दो हजार पेज का होगा। इस मामले में पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, पूर्व सांसद मुरली मनोहर जोशी, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, भाजपा के वरिष्ठ नेता विनय कटियार और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती समेत 49 आरोपियों के खिलाफ सीबीआई ने इस मामले में चार्ज शीट फाइल की थी, जिसमें से 17 की मृत्यु हो चुकी है।
सं भंडारी
वार्ता
image