Tuesday, Dec 1 2020 | Time 01:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका के एरिजोना प्रांत ने भी की बिडेन की जीत की पुष्टि
  • समझौते का पालन नहीं कर रहा है तालिबान : अमेरिका
राज्य » उत्तर प्रदेश


बुलंदशहर में प्रेम प्रसंग में बाधक बनने पर हुई थी बुजुर्ग की हत्या

बागपत, 21 अक्टूबर(वार्ता) उत्तर प्रदेश में बागपत के खेकड़ा इलाके में हुई बुजुर्ग की हत्या प्रेम प्रसंग में बाधक बनने पर मृतक के बेटे की पत्नी ने अपने प्रेमी संग मिलकर की थी।
पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने बुधवार को यहां बताया कि गत नौ अक्टूबर को बसी गांव निवासी राजकुमार ने खेकड़ा थाने में पुलिस को सूचना दी थी कि उसके पिता सुखबीर (65) की गांव के जंगल में एक ईख के खेत में गम्भीर चोट पहुंचाकर हत्या कर दी। इस सम्बन्ध में अज्ञात में पंजीकृत किया गया था।
उन्होंने बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक मनीष मिश्र व क्षेत्राधिकारी मंगल सिंह रावत के नेतृत्व में पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर हत्या की घटना में संलिप्त आरोपी राजीव टेलर तथा ज्योति को गिरफ्तार किया है। आरोपी की निशादेही से बसी के जंगल से एक ईख के खेत से हत्या में प्रयुक्त कैंची बरामद की है।
श्री सिंह ने बताया कि आरोपी राजीव (टेलर) ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उसकी गांव में टेलर की दुकान है। मृतक सुखबीर का सबसे छोटा लडका बबलू राजस्थान में प्राईवेट नौकरी करता है तथा बबलू की पत्नी ज्योति गांव में ही परिवार के साथ रहती है। कपडों का नाप लेने के दौरान ही उसका व ज्योति का मेल-जोल हो गया था। ज्योति से उसके काफी दिनो से अवैध सम्बन्ध चल रहे थे। उन्होंने बताया कि वे दोनों समय निकालकर खेतों में छिप-छिपकर मिलते थे। ज्योति के घर वाले कुआं पूजन में रिश्तेदारी में बाहर गए हुए थे।
उन्होंने बताया कि घटना से पहले कई दिनों से उसकी ज्योति से लगातार मिलनें की बात हो रही थी। उसने बताया कि नौ अक्टूबर को वह कपडों का नाप लेने के बहाने ज्याति के पास पहुंचा। वे दोनों चोरी से ओमपाल के ईख के खेत मे चले गये थे। तभी मृतक सुखबीर को पता चल गया और वह उनके पीछे-पीछे ईख के खेत में आ गया था। मृतक सुखबीर ने आते ही उन दोनो को आपत्तिजनक स्थिति मे पकड लिया था। उनको डर हो गया था कि मृतक सुखबीर अब उनकी गाँव मे इज्जत खराब कर देगा। इसी बात को लेकर उससे ज्योति ने कहा कि यदि इसनें ये सब बातें घर पर बता दी तो उसे घर से निकाल देंगें, उसकी इज्जत खराब हो जाएगी। इस पर ज्योति ने कहा कि इसका आज काम तमाम कर दो। ज्योति ने सुखबीर के हाथ पकड लिए और उसने अपने पास ली हुई कैची से सुखबीर की गर्दन व सिर पर चार पाँच वार कर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से दोनों को जेल भेज दिया।
सं भंडारी
वार्ता
image