Tuesday, Mar 2 2021 | Time 07:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ब्रिटेन नहीं करेगा लॉकडाउन के नियमों में बदलाव
  • मोल्दोवा खरीदा कोरोका की वैक्सीन की 10 लाख खुराक
  • 'देशभर में सोमवार को 1 47 लाख से ज्यादा लोगों को दी गयी वैक्सीन की डोज'
राज्य » उत्तर प्रदेश


पूर्वाेत्तर राज्यों में तस्करी कर भेजा जा रहा एक करोड़ 34 लाख का सिरप बरामद

लखनऊ, 18 जनवरी (वार्ता) उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने जौनपुर से तस्करी कर पूर्वाेत्तर राज्यों को भेजा जा रहा एक करोड़ 34 लाख रुपये कीमत का सिरप बरामद कर गिरोह के छह लाेगों को आज गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
एसटीएफ प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पिछले काफी समय से एसटीएफ मुख्यालय को सूचना प्राप्त हो रही थी कि अन्तरप्र्रान्तीय गिरोहों द्वारा राज्य के विभिन्न जिलो से मादक पदार्थों एवं दवाओं की तस्करी कर पूर्वाेत्तर राज्यों में भेजी जा रही है। इन दवाओं का सेवन नशा करने के लिये किया जा रहा है। इस सम्बन्ध में एसटीएफ की
विभिन्न टीमों को आवशयक कार्रवाई के लिए लगाया गया था।
उन्होंने बताया कि इस संबंध में एसटीएफ वाराणसी की फील्ड इकाई अभिसूचना संकलन की कार्यवाही कर रही थी। इसी क्रम में पता चला था कि एक गिरोह जौनपुर जिले के शाहगंज में किसी स्थान पर गोदाम बनाकर फेन्साडिल सिरप को अवैध रूप से लाकर रखा जाता है और उसे पूर्वोत्तर राज्यों एवं अन्य जगहों पर भेजा जाता है। इस सूचना पर एसटीएफ की वाराणसी फील्ड इकाई की एक टीम निरीक्षक अनिल सिंह के नेतृत्व में एनसीबी लखनऊ से सम्पर्क करते हुये उनको साथ लेकर धरातलीय सत्यापन कर रही थी। उसी दौरान सूत्रों से जानकारी मिली कि जौनपुर के कस्बा शाहगंज में मुहल्ला गोशाला फैजाबाद रोड स्थित कुंज बिहारी यादव के मकान में भारी मात्रा में अवैध रूप से फेन्साडिल सिरप तस्करी के लिये रखा गया है और इसे दो ट्रकों में लोड किया जा रहा है, जो पूर्वाेत्तर राज्यो में भेजा जायेगा।
प्रवक्ता ने बताया कि इस सूचना पर एसटीएफ की टीम बताये गये स्थान पर पहुंची और घेराबन्दी की। उन्होंने बताया कि कुंज बिहारी यादव के मकान में रखे गये फेन्साडिल सिरप के पैकेटों को दोनों ट्रकों में तस्करों द्वारा लोड किया जा रहा था। एसटीएफ ने उन लोगों से सिरप संबंधी कागजात मांगे लेकिन कोई कागजात इनके पास नहीं थे एसटीएफ ने
मौके से गिरोह छह सदस्यों जौनपुर निवासी चन्दन कुमार गुप्ता , जितेन्द्र प्रजापति,बृजेश सिंह, जय सिंह, के अलावा हरियाण के नूहू जिले के रहने वाले जाहिद और आमीन खान को गिरफ्तार किया। मौके से 60,971 शीशी फेन्साडिल सिरप (बाजार मूल्य लगभग 1.34 करोड़ रूपये)।
उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ पर बताया कि फेन्साडिल सिरप कफ सिरप के रूप में उपयोग किया जाता है। फेन्साडिल में कोडिन नामक केमिकल पाया जाता है, जिसे एक साथ अधिक मात्रा में लेने पर नशा होता
है। बिहार, पश्चिम बंगाल एवं पूर्वाेत्तर राज्यों में नशा करने वाले लोग इसका प्रयोग नशीले पदार्थ के रूप में करते हैं और यह सिरप वहाॅं पर ऊॅचे दामों पर बिकता। बरामद सिरप को तस्करी करने वाले गिरोह के सरगना अवनीश सिंह उर्फ छोटू, मतलूब एवं संतोष द्वारा पश्चिमी उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखण्ड के विभिन्न जिलो से तस्करी के माध्यम से मंगाकर कुंज
बिहारी यादव के मकान में रखा जाता था।
प्रवक्ता ने बताया कि गिरोह के सदस्य कर कार्य करते हैं। गिरफ्तार चन्दन कुमार गुप्ता स्थानीय स्तर पर सारी व्यवस्था देखता है। यह फेन्साडिल सिरप चावल की बोरियों के बीच छिपाकर मालदा (प0बंगाल) भेजा जा रहा था, वहां पहुंचने के बाद गिरोह के अवनीश सिंह उर्फ छोटू,मतलूब एवं संतोष तिवारी बताते कि यह सिरप किसको देना है। गिरफ्तार आरेपियों को जेल भेज दिया गया है।
त्यागी
वार्ता
image