Monday, Apr 19 2021 | Time 20:50 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हिमाचल में कोरोना से 13 लोगों की मौत, 1695 नये मामले
  • अर्जुन मुंडा ने कोरोना से निपटने के लिए सांसद मद से पचास लाख रुपये दिए
  • बचदा को सरकारी सम्मान के साथ दी गयी अंतिम विदायी
  • फार्मा उद्योग ने बनाया भारत को ‘वर्ल्ड फार्मेसी’: मोदी
  • हिमाचल में सभी शिक्षण संस्थान एक मई तक बंद: जयराम
  • ललितपुर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में शाम पांच बजे तक हुआ 66 20 प्रतिशत मतदान
  • पूनियां ने भाजपा प्रदेश पदाधिकारियों के साथ किया वर्चुअल संवाद
  • खुदाबख्श लाइब्रेरी के कर्जन रीडिंग रूम को तोड़ नए भवन के निर्माण पर बुद्धिजीवियों को न हो आपत्ति : मोर्चा
  • झांसी:रेमडेसिविर व ऑक्सीजन की आपूर्ति को बबीना विधायक ने लिखा योगी को पत्र
  • पंजाब में आरटीपीसीआर,आरएटी जांच दर में कमी, सिनेमा घर/बार/जिम/कोचिंग सेंटर बंद
  • मनमोहन सिंह कोरोना संक्रमित, एम्स में भर्ती
  • कौशांबी में 24 घंटे में चार की कोरोना से मौत
  • आरसीए ने आठ खिलाड़ियों पर लगाया दो वर्ष का प्रतिबंध
  • आरसीए ने आठ खिलाड़ियों पर लगाया दो वर्ष का प्रतिबंध
  • सोनीपत में कोरोना के 698 नये मामले, 3 की मौत
राज्य » उत्तर प्रदेश


मणिपाल टेक्नाॅलजीज उत्तर प्रदेश के गांवों में शुरू करेगी बैंकिंग सेवाएं

मणिपाल टेक्नाॅलजीज उत्तर प्रदेश के गांवों में शुरू करेगी बैंकिंग सेवाएं

लखनऊ 21 फरवरी (वार्ता) मणिपाल टेक्नाॅलजीज लिमिटेड (एमटीएल) को उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन (यूपीएसआरएलएम) की ओर से राज्य में स्व सहायता समूहों की 8,000 महिलाओं को बैंकिंग संवाददाता (बीसी) सखी के रूप में प्रशिक्षित करने और काम के लिए तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी गयी है।

कंपनी ने यहां जारी एक बयान में कहा, “एमटीएल ने हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से ग्रामीण विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह की उपस्थिति में आयोजित एक कार्यक्रम में इससे संबंधित समझौते पर हस्ताक्षर किये।” यह परियोजना, यूपीएसआरएलएम के राज्य के सभी 75 जिलों में बीसी सखियों या बैंकिंग एजेंटों के रूप में 58,000 ग्रामीण महिलाओं को प्रशिक्षित और काम के लिए तैयार करने के मिशन का हिस्सा है।

‘ग्रामीण भारत में बैंकिंग सेवाएं घर के द्वार पर’ की इस परियोजना का उद्देश्य उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों के गांवों में बैंकिंग सेवाओं की पहुंच बढ़ाना है। इससे इन ग्रामीण महिला स्व सहायता समूहों की घरेलू आय में वृद्धि होगी और उन्हें डिजिटल वित्तीय प्रौद्योगिकियों में शिक्षित किया जाएगा।

इस अवसर पर, एमटीएल के उपाध्यक्ष राजेश शेट ने कहा, “हमारा सुरक्षित और आसानी से उपयोग हो सकने वाला प्रौद्योगिकी समाधान अब उत्तर प्रदेश में ग्रामीण महिलाओं को कई बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के साथ-साथ एक बड़े समाज के लिए अपने उद्यमी कौशल का प्रदर्शन करने में मदद करेगा।”

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) पहल के तहत, प्रत्येक बीसी सखी को पहले छह महीनों के लिए 24,000 रुपये की वित्तीय सहायता मिलेगी। उनके गांव में निर्बाध बैंकिंग सेवाएं देने के लिए उन्हें एकीकृत पीओएस डिवाइस, कैश बॉक्स, नकली-मुद्रा डिटेक्टर डिवाइस आदि के साथ विशिष्ट प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इन सखियों को वर्तमान महामारी के दौरान सुरक्षा एवं स्वच्छता बनाए रखने और ग्राहक प्रमाणीकरण के लिए एक संपर्क रहित आईरिस स्कैनर भी प्रदान किया जाएगा।

एनआरएलएम की ओर से यह पहल ग्राम पंचायत में बैंकिंग और अन्य डिजिटल भुगतान सेवाएं प्रदान करने के लिए स्थानीय महिलाओं को सशक्त बनाने की दिशा में एक बड़ा कदम है, ताकि ग्रामीणों को बुनियादी बैंकिंग और भुगतान सेवाओं तक पहुंचने के लिए लंबी दूरी की यात्रा करने की आवश्यकता न हो।

संजय, यामिनी

वार्ता

More News
दवाओं की कालाबाजारी पर लगेगा रासुका तथा जब्त होगी संपत्ति : योगी

दवाओं की कालाबाजारी पर लगेगा रासुका तथा जब्त होगी संपत्ति : योगी

19 Apr 2021 | 8:14 PM

लखनऊ 19 अप्रैल(वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज कहा कि आक्सीजन और दवाओं की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका ) के तहत कार्रवाई की जायेगी ।

see more..
योगी का राज्य में पूर्ण लॉकडाउन से इंकार

योगी का राज्य में पूर्ण लॉकडाउन से इंकार

19 Apr 2021 | 8:06 PM

लखनऊ 19 अप्रैल (वार्ता)इलाहाबाद उच्च न्यायालय के राज्य के पांच शहर लखनऊ,कानपुर,प्रयागराज,वाराणसी तथा गोरखपुर में आज से 26 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन के आदेश के बावजूद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ फिलहाल पूर्ण पक्ष में नहीं हैं।

see more..
image