Saturday, Oct 8 2022 | Time 01:42 Hrs(IST)
image
राज्य » उत्तर प्रदेश


बरेली : पत्नी की शिकायत पर पकड़ा गया फर्जी शिक्षक

बरेली, 21 जुलाई (वार्ता) उत्तर प्रदेश के बरेली में करीब 10 साल पहले अनुसूचित जाति का फर्जी प्रमाण पत्र लगाकर बेसिक शिक्षा विभाग में पीलीभीत में अध्यापक बने एक व्यक्ति के लिये घरेलू झगड़ा तब मंहगा साबित हुआ जब उसकी नाराज पत्नी ने फर्जी जाति प्रमाण पत्र के सहारे नौकरी पाने की शिकायत विभाग में कर दी। जांच में शिकायत सही पाये जाने पर विभाग ने फर्जी शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई शुरु कर दी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार जागृति नगर, करगैना निवासी वीरपाल की पत्नी ने उसके पुर्जीवाड़े की शिकायत विभाग में कर दी। तहसीलदार सदर ने वीरपाल के दस्तावेजों की जांच करायी, जिसमें अनुसूचित जाति का उसका प्रमाण पत्र फर्जी पाया गया। तहसील प्रशासन ने संबंधित विभाग को उसके विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए संस्तुति भेज दी है। बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) पीलीभीत ने कहा है कि इस मामले में कानूनी कार्रवाई कराई जाएगी।
वीरपाल ने करीब 10 साल पहले तत्कालीन तहसीलदार सदर से अनुसूचित जाति (धनगर) का प्रमाण पत्र संख्या प्राप्त कर लिया। वीरपाल मूल रूप से लोहापट्टी भोलानाथ, तहसील मिलक, जिला रामपुर, का निवासी था। बताया जाता है कि बरेली तहसील से अनुसूचित का प्रमाण पत्र प्राप्त करने के बाद उसने बेसिक शिक्षा विभाग पीलीभीत में अध्यापक की नौकरी प्राप्त कर ली। बताया जाता है, इसी दौरान पत्नी से संबंध खराब हो गए। जिसके चलते पत्नी ने फर्जी प्रमाण पत्र की शिकायत शासन स्तर पर कर दी।
बरेली में सदर तहसीलदार अनिल कुमार ने बताया कि पिछले कई माह से इसकी शिकायत इधर-उधर घूम रही थी। इस पर उन्होंने जनपद स्तर पर गठित सत्यापन समिति से जांच कराई। समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र गलत है, क्योंकि वीरपाल मूलरूप से रामपुर निवासी होने के साथ-साथ गडरिया जाति से ताल्लुक रखता है। जो कि अनुसूचित जाति श्रेणी में नहीं है। धनगर जाति इस इलाके में आसपास कहीं नहीं पाई जाती है। रिपोर्ट मिलते ही सदर तहसीलदार अनिल कुमार ने अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र रद्द कर दिया।
कुमार ने अपने आदेश में कहा है कि यदि वीरपाल द्वारा इस अनुसूचित जाति प्रमाण पत्र का किसी योजना हेतु प्रयोग में लाया जाता है तो उसकी पूर्ण जिम्मेदारी स्वयं उसकी होगी। बेसिक शिक्षा अधिकारी पीलीभीत अमित कुमार सिंह ने बताया कि फर्जी प्रमाण पत्र पर नौकरी करने वाले वीरपाल के विरुद्ध सुसंगत धाराओं में विधिक कार्यवाही की जा रही है।
सं निर्मल
वार्ता
More News
राहुल को कराची और इस्लामाबाद से शुरु करनी चाहिये थी भारत जोड़ो यात्रा : भूपेन्द्र

राहुल को कराची और इस्लामाबाद से शुरु करनी चाहिये थी भारत जोड़ो यात्रा : भूपेन्द्र

07 Oct 2022 | 10:35 PM

बलिया, 07 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर तंज कसते हुए कहा है कि भारत विभाजन, कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में हुआ था, इसलिये राहुल को यह यात्रा पाकिस्तान के शहर कराची और इस्लामाबाद से शुरु करनी चाहिये थी।

see more..
पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर सड़क धंसने से कार गिरी, बाल बाल बचे यात्री

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर सड़क धंसने से कार गिरी, बाल बाल बचे यात्री

07 Oct 2022 | 10:16 PM

सुलतानपुर, 07 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर जिले में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर कल देर रात हलियापुर इलाक़े में अचानक सड़क धंस गई, जिससे पांच फुट गहरा और 15 फुट लंबा गड्ढा हो गया। इस गड्ढ़े में लखनऊ की ओर जा रही एक कार गिर गयी। उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) टीम और पुलिसकर्मियों ने मौके पर पहुंच कर राहत एवं बचाव कार्य किया।

see more..
मिलावटखोरों केे खिलाफ झांसी जिला प्रशासन हुआ सख्त

मिलावटखोरों केे खिलाफ झांसी जिला प्रशासन हुआ सख्त

07 Oct 2022 | 9:54 PM

झांसी 07 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के झांसी जिला प्रशासन ने लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वाले मिलावटखोरों और नकली-प्रतिबंधित या अधोमानक दवाओं को बनाने व बेचने वालों के खिलाफ कड़ा रूख अपनाते हुए शुक्रवार को निर्देश जारी किये।

see more..
image