Friday, Jun 21 2024 | Time 13:08 Hrs(IST)
image
राज्य » उत्तर प्रदेश


मेरठ में मुठभेड़ में मारा गया दुर्दांत दुजाना

लखनऊ/मेरठ 04 मई (वार्ता) पश्चिमी उत्तर प्रदेश का दुर्दांत अपराधी अनिल दुजाना गुरूवार को मेरठ के जानी क्षेत्र में स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) के साथ एक मुठभेड़ में मारा गया।
विशेष पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने पत्रकारों को बताया कि एसटीएफ को सूचना मिली थी कि हाल ही में जमानत पर रिहा हुआ दुजाना बागपत से मुजफ्फरनगर अपने गिरोह के साथियों से मिलने जा रहा है। भोला की झाल में पुलिस ने दोपहर करीब तीन बजे उसकी घेराबंदी की। पुलिस को सामने देख दुजाना ने भागने का प्रयास किया जिससे उसका वाहन एक पेड से टकरा गया। बचने के प्रयास में उसने पुलिस पर 15 से 20 राउंड गोलियां चलायी। जवाबी कार्रवाई में वह घायल हो गया और बाद में उसकी मौत हो गई।
उन्होने बताया कि पुलिस को मौके से दो पिस्तौल और कारतूस का जखीरा मिला है। दुजाना के खिलाफ 64 से अधिक मामले दर्ज थे, जिनमें हत्या के 18 और हत्या के प्रयास के सात मामले शामिल थे। जेल से छूटने के पहले और बाद में दुजाना एक परिवार को रंगदारी के लिए धमका रहा था और इस संबंध में नोएडा के दादरी थाने में मामला दर्ज किया गया था। वह पहले ही उस परिवार के दो सदस्यों को मार चुका था जिसे वह धमकी दे रहा था।
श्री कुमार ने कहा कि दुजाना के गिरोह में 40 से 45 सदस्य थे, जिनके बूते उसने गाजियाबाद, बुलंदशहर, नोएडा, दिल्ली और मेरठ में आतंक का राज कायम किया था। ऐसी सूचनाएँ थीं कि वह अपने गिरोह को फिर से संगठित करने की कोशिश कर रहा था। अपराध और अपराधियों के खिलाफ सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति के तहत, दुजाना की 2.30 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति पुलिस द्वारा गैंगस्टर अधिनियम के तहत कुर्क की गई थी।
इससे पहले मेरठ में पुलिस अधीक्षक (एसपी) एसटीएफ बृजेश सिंह ने कहा कि दुजाना भोला झाल इलाके में घटना को अंजाम देने आया था। उन्होंने कहा, “ अपराधी को गंगनहर के पास ट्रैक किए जाने के बाद एसटीएफ टीम ने घेर लिया था। सूचना मिली थी कि दुजाना नेपाल भागने की तैयारी कर रहा है।”
उन्होंने बताया कि एसटीएफ की टीम से घिरने के बाद दुजाना ने फायरिंग की और जवाबी फायरिंग में वह मारा गया। अनिल दुजाना लंबे समय से तिहाड़ जेल में बंद था और हाल ही में जमानत पर छूटा था। उसके खिलाफ हत्या, डकैती, रंगदारी और फिरौती समेत पांच दर्जन से अधिक मामले दर्ज थे। उसकी गिरफ्तारी पर इनाम भी घोषित किया गया था।
प्रदीप
वार्ता
More News
देश के खिलाफ साजिश हो सकती है पेपर लीक के प्रकरण : अखिलेश

देश के खिलाफ साजिश हो सकती है पेपर लीक के प्रकरण : अखिलेश

20 Jun 2024 | 8:55 PM

लखनऊ 20 जून (वार्ता) समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को कहा कि फरवरी माह में पुलिस भर्ती व समीक्षा अधिकारी परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद अब नीट परीक्षा को मजाक बना दिया गया है।

see more..
image