Thursday, Jul 25 2024 | Time 18:01 Hrs(IST)
image
राज्य » उत्तर प्रदेश


किसानों से धान व मोटे अनाज की खरीद के निर्देश

लखनऊ 04 दिसम्बर,(वार्ता) उत्तर प्रदेश के खाद्य एवं रसद राज्य मंत्री सतीश चन्द्र शर्मा ने सभी क्रय केन्द्र संचालित कराते हुये नियमानुसार किसानों से धान व मोटे अनाजों की खरीद के निर्देश दिये हैं।
उन्होंने कहा कि क्रय केन्द्रों से राइस मिलों को प्रेषित किये जाने वाले धान व खाद्यान्न प्रेषण वाले वाहनों की जीपीएस की मॉनिटरिंग की जाये। विपणन शाखा के पीडीएस गोदामों को किरायेदारी से मुक्त किये जाने के सम्बन्ध में आवश्यक कार्यवाही करायी जाये।
खाद्य एवं रसद विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान राज्यमंत्री ने कहा कि उचित दर विक्रेताओं को उन्हें अनुमन्य लाभांश का भुगतान शीघ्र कराया जाय। उन्हाेने कहा कि जनवरी तक एक समान तौर पर जिलों में सभी उचित दर दुकानों पर इलेक्ट्रॉनिक कांटे युक्त ई-पॉस मशीनें स्थापित की जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि मॉडल उचित दर दुकानों का निर्माण तत्परता से पूर्ण कराया जाये।
इसके अलावा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम-2013 के अन्तर्गत आच्छादित लाभार्थियों को आवश्यक वस्तुओं का पारदर्शी वितरण सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने उज्ज्वला योजना के तहत शेष लाभार्थियों को सिलेण्डर की डिलीवरी शीघ्र सुनिश्चित कराते हुए उनके खातों में सब्सिडी की धनराशि का अंतरण कराए जाने के निर्देश दिए गए।
अपर खाद्य आयुक्त ने बताया कि खरीफ विपणन वर्ष 2023-24 में धान का समर्थन मूल्य कॉमन 2183 रूपये प्रति कुंतल तथा ग्रेड-ए-2203 रूपये प्रति कुंतल निर्धारित दर से खरीद करते हुए 165625 कृषकों से 11.05 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद हुई है, जो लक्ष्य का लगभग 16.00 प्रतिशत है। इसके एवज में किसानों को 2025.60 करोड़ रूपये का भुगतान सीधे उनके बैंक खाते में करा दिया गया है। गतवर्ष इसी अवधि में 13.96 लाख मीट्रिक टन खरीद की गयी थी। इस वर्ष अब तक 7.86 लाख किसानों द्वारा धान बिक्री के लिये ऑनलाइन पंजीकरण कराया गया है।
अपर खाद्य आयुक्त ने बताया कि इस वर्ष मोटे अनाजों/श्री अन्न की खरीद के लिये लक्ष्य बढ़ाकर 5.80 मीट्रिक टन किया गया है। अब तक प्रदेश के 40 बाजरा खरीद वाले जिलों में अब तक 35,050 किसानों से 1.85 लाख मी टन बाजरा खरीद की गयी है तथा किसानो को 403.90 करोड़ रूपये का भुगतान सीधे उनके बैंक खाते में करा दिया गया है।
प्रदेश के 24 मक्का खरीद वाले जिलों में अब तक 865 किसानों से 4298 मीट्रिक टन मक्का खरीद की गयी है तथा कृषकों को 8.80 करोड़ रूपये का भुगतान सीधे उनके बैंक खाते में करा दिया गया है। इसके अतिरिक्त 1466 किसानों से 7125 मी टन ज्वार की खरीद की गयी है तथा कृषकों को 18.16 करोड़ रूपये का भुगतान सीधे उनके बैंक खाते में करा दिया गया है।
उन्होने बताया प्रधानमंत्री उज्जवला योजनान्तर्गत अब तक कुल 21.95 लाख निःशुल्क सिलेण्डर का वितरण कराया जा चुका है, जिसके सापेक्ष 16.20 लाख लाभार्थियों के खाते में 99.59 करोड़ रुपये सब्सिडी की धनराशि का अंतरण किया जा चुका है।
प्रदीप
वार्ता
image