Saturday, Apr 13 2024 | Time 20:49 Hrs(IST)
image
राज्य » उत्तर प्रदेश


पुलिस आरक्षी परीक्षा में अभ्यर्थियों को ठगने वाले गिरोह के पांच सदस्य गिरफ्तार

मऊ, 16 फरवरी (वार्ता) उत्तर प्रदेश में मऊ जिले की पुलिस ने दो दिन बाद होने वाली पुलिस आरक्षी भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों को पेपर हल करने के नाम पर ठगने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से अभ्यर्थियों द्वारा दिए गए ब्लैंक चेक, ओरिजिनल मार्कशीट के अलावा तमाम विद्यालय व सरकारी अधिकारियों के मुहर बरामद की हैं।
पुलिस अधीक्षक अविनाश पांडेय ने शुक्रवार को बताया कि रविवार और साेमवार को प्रदेश में पुलिस भर्ती परीक्षा होनी है जिसमें मऊ जिले में 89000 अभ्यर्थी शामिल होंगे। परीक्षा को सुचिता व ईमानदारी के साथ संपन्न कराने के लिए गोपनीय स्वाट टीम के साथ ही जनपद के सभी थानों की पुलिस थाना व मशीनरी काम कर रही थी। शुक्रवार को स्वाट टीम को एक बड़ी सफलता हाथ लगी जब अभ्यर्थियों को बरगलाकर उनसे पैसे की ठगी करने वाला एक गिरोह पकड़ में आया।
नगर क्षेत्र के आरके कंसल्टेंसी के संचालक रविकांत पांडेय व उनकी टीम द्वारा अभ्यर्थियों को बरगलाकर परीक्षा पेपर हल करने के नाम पर चार से 9.50 लाख रुपए तक में सौदा तय किया जा रहा था। अभ्यर्थियों से उनके मूल प्रमाण पत्र, अंक पत्र के साथ ही ब्लैंक चेक रखे जा रहे थे। इस मामले में मऊ जिले के अमित सिंह, सोनू उर्फ सिद्धार्थ, सुनील राजभर, रामकरन राम के अतिरिक्त गाजीपुर के मरदह थाना क्षेत्र का शत्रुघन यादव गिरफ्तार किया गया।
गिरोह का मुख्य सरगना रविकांत पांडेय फिलहाल फरार है। इन लोगों के कब्जे से 11 ब्लैंक चेक, 32 मार्कशीट, आधा दर्जन से अधिक आय प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, 11 मोबाइल बरामद हुए। इसके साथ ही उनके लैपटॉप की जांच करने पर पता चला कि उनके द्वारा एआई टूल के माध्यम से प्रवेश पत्र पर फोटो बदलने का भी काम किया जा रहा था। अभियुक्तों के पास से तमाम सरकारी अधिकारियों की मोहर भी बरामद किए गए हैं।
सं प्रदीप
वार्ता
image