Sunday, May 26 2019 | Time 04:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मतदाताओं और कार्यकर्ता का धन्यवाद करने वायनाड जायेंगे राहुल
  • जगनमोहन शपथग्रहण से पहले मोदी से मिलेंगे
विशेष » कुम्भ


2013 के मुकाबले इसबार कुम्भ में दोगुनी संख्या में श्रद्धालु आएः योगी

2013 के मुकाबले इसबार कुम्भ में दोगुनी संख्या में श्रद्धालु आएः योगी

प्रयागराज, 05 फरवरी(वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2013 के कुम्भ में 12 करोड़ लोगों ने जबकि 2019 के कुम्भ में 24 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने गंगा, यमूुना और अदृश्य सरस्वती के संगम में स्नान किया।

श्री याेगी ने मंगलवार को यहां मीडिया सेंटर में संवाददाताओं से कहा वर्ष 2013 में प्रयाग महाकुम्भ का आयोजन अखिलेश यादव की अगुवाई वाली समाजवादी पार्टी सरकार ने किया था और तत्कालीन नगर विकास मंत्री आजम खान ने उस महाकुम्भ मेले को संपन्न कराया था। उन्होंने दोनों कुम्भ के तुलना करते हुए कहा कि पिछली बार महाकुम्भ में करीब 12 करोड़ श्रद्धालु आये जबकि इस बार यहां 24 करोड़ रही।

उन्होंने कहा कि 2013 के महाकुम्भ में मारीशस के प्रधानमंत्री बड़ी श्रद्धाभाव के साथ आए थे कि वह संगम में स्नान करेंगे, लेकिन उन्होंने गंदगी, बदबू, अव्यवस्था देखी और दूर से ही नमस्कार करके यह कहते हुए चले गए कि क्या यही गंगा है, क्या यही प्रयागराज है।

मुख्यमंत्री ने कहा, 2019 में वाराणसी में प्रवासी भारतीय दिवस में मारीशस के प्रधानमंत्री प्रवीण जगन्नाथ भी आए थे और 24 जनवरी को 400 प्रतिनिधियों के साथ वह स्वयं प्रयागराज पधारे। उन्होंने गंगा की निर्मलता, अविरलता और व्यवस्था देखी और पवित्र संगम में स्नान भी किया।

उन्होंने कहा, 1954 में प्रयाग कुम्भ में मौनी अमावस्या पर 40 लाख श्रद्धालु संगम तट पर आए थे। उस समय भीषण भगदड़ मची थी और सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, 800 से अधिक श्रद्धालुओं की मृत्यु हुई थी। इसी तरह, 2013 के महाकुम्भ में भगदड़ मचने से तीन दर्जन से अधिक श्रद्धालुओं की मौत हुई थी जबकि कई घायल हुए थे। यह पहला कुम्भ है जिसमें श्रद्धालुओं के आगमन की दृष्टि से रिकार्ड बना है और हम कह सकते हैं कि यह कुम्भ निर्विघ्नता के साथ संपन्न हुआ और इसने स्वच्छता और सुरक्षा के नए मानक स्थापित किए।

दिनेश त्यागी

जारी वार्ता

More News
कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

कुम्भ ने दुनिया को कराया भारतीय संस्कृति की विविधता का अहसास :राणा

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भ,04 मार्च (वार्ता) उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी मिल मंत्री सुरेश राणा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देशन तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व का बखान करते हुए कहा कि पूरे विश्व ने कुम्भ की प्राचीन मान्यता, आध्यात्मिकता, लौकिकता, आपसी सद्भाव को स्वीकार किया।

see more..
कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

कुम्भ की आभा बेमिसाल : फडणवीस

04 Mar 2019 | 9:55 PM

कुम्भनगर,04 मार्च (वार्ता) महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुम्भ की जितनी प्रशंसा की जाए,वह कम है।

see more..
महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

महाशिवरात्रि स्नान पर एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई संगम में आस्था की डुबकी

04 Mar 2019 | 8:55 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) सम्पूर्ण विश्व में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले कुम्भ के आखिरी दिन महाशिवरात्रि के पर्व पर एक करोड़ 10 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलिला स्वरूप में प्रवाहित हो रही सरस्वती में आस्था की डुबकी लगाई।

see more..
आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

आध्यात्म,वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

04 Mar 2019 | 6:04 PM

कुम्भनगर, 04 मार्च (वार्ता) पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त: सलीला स्वरूप में प्रवाहित सरस्वती के त्रिवेणी की विस्तीर्ण रेती वैराग्य, ज्ञान और आध्यात्मिक शक्ति से ओतप्रोत है।

see more..
महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

महाशिवरात्रि से पहले संगम पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

03 Mar 2019 | 2:35 PM

कुंभनगर, 03 मार्च (वार्ता) दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम कुंभ के छठे और आखिरी स्नान पर्व महाशिवरात्रि से एक दिन पहले रविवार को एक बार फिर दूर-दराज से भक्तों का रेला संगम पर आस्था के समंदर में बूंदा-बांदी को धता बताकर हिलोरें ले रहा है।

see more..
image