Wednesday, Nov 14 2018 | Time 08:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
दुनिया Share

थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों ने भेजा सुरक्षित होने का संदेश

सिंगापुर, 07 जुलाई (वार्ता) उत्तरी थाईलैंड की एक गुफा में दो सप्ताह से फंसे 12 बच्चों ने अपने परिजनों के लिए पहली बार लिखित संदेश भेजे हैं जिसमें सुरक्षित होने का दावा किया गया है।
बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार गोताखोरों का एक दल शनिवार को एक लिखित संदेश लेकर लौटा जिसमें कुछ बच्चों ने लिखा, “आप लोग चिंता मत कीजिए, हम सभी बहादुर हैं।” इसके साथ कुछ बच्चों ने गुफा में अपनी पसंद का खाना भी मंगवाया है।
इससे पहले बचाव दल के अधिकारियों ने बताया था कि गुफा में ऑक्सीजन की लाइन बिछा दी गई है ताकि बच्चों को सांस लेने में कोई दिक्कत न हो।
गौरतलब है कि सभी बच्चे और उनके कोच 23 जून की शाम फुटबॉल का अभ्यास करने के बाद इस गुफा को देखने गये थे लेकिन बाढ़ के पानी के कारण सभी गुफा के अंदर फंस गये। बचाव दल के अनुसार गुफा में फंसे बच्चों और उनके कोच ने गुफा के भीतर कोई ऐसी जगह तलाश ली थी जिससे वे लोग बाढ़ के पानी की चपेट में आने से बच गये।
कोच इक्कापोल चांतावॉन्ग ने भी संदेश भेजा है जिसमें उन्होंने लिखा है सभी परिजनों को मैं बताना चाहता हूं कि सारे बच्चे सुरक्षित हैं। बचाव दल के लोग हमारा ख्याल रख रहे हैं। मैं सभी से वादा करता हूं कि बच्चों की सुरक्षा के लिए मैं सब कुछ करूंगा। मदद के लिए सभी लोगों का शुक्रिया।
आजाद, संतोष
वार्ता
More News
श्रीलंका संसद भंग करने पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

श्रीलंका संसद भंग करने पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

13 Nov 2018 | 7:48 PM

कोलंबो 13 नवंबर (शिन्हुआ) श्रीलंका के सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना के संसद भंग करने के फैसले पर मंगलवार को रोक लगा दी, सुप्रीम कोर्ट के तीन न्यायाधीशों की खंडपीठ ने यह रोक लगाकर विपक्ष समेत विभिन्न वर्गाें को अंतरिम राहत प्रदान की।

 Sharesee more..
नवाज की रिहाई के खिलाफ याचिका पर होगी सुनवाई

नवाज की रिहाई के खिलाफ याचिका पर होगी सुनवाई

13 Nov 2018 | 2:25 PM

इस्लामाबाद 13 नवंबर (वार्ता) पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (नेब) की पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज की एवेन्यू फील्ड अपार्टमेंट मामले में रिहाई के इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ याचिका स्वीकार करते हुए मामले की नियमित सुनवायी के लिए बड़ी पीठ के गठन का आदेश दिया।

 Sharesee more..
image