Saturday, Nov 17 2018 | Time 22:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फोटाे कैप्शन तीसरा सेट
  • मुंबई से 1 34 करोड़ के अभूषण लेकर फरार अपराधी दरभंगा में गिरफ्तार
  • भारत का डीएनए है हिंदू, श्री राम ‘राष्ट्रीय भगवान’:स्वामी
  • किसी के दबाव में सीटों का बंटवारा नहीं करेगा राजग : सुशील
  • विपक्ष को राजनीतिक गतिविधियां जारी रखने से रोक रही है भाजपा: माकपा
  • मालदीव ने विकास कार्यों में भारत से मांगी मदद
  • ग्राफीन का विकल्प ढूंढ रहे वैज्ञानिक
  • सोनिया और पिंकी प्री क्वार्टरफाइनल में, सिमरन भी जीतीं
  • सोनिया और पिंकी प्री क्वार्टरफाइनल में, सिमरन भी जीतीं
  • कश्मीर में अपहृत पांच लोगों में से एक की हत्या, दो मुक्त
  • पुड्डुचेरी में गाजा को लेकर मंत्रिमंडल की बैठक
  • कर्नाटक के कलुबर्गी जिले के 121 गांवों में पेयजल का संकट
  • बिहार मे अलग-अलग हादसों में नौ लोगों की मौत , दस घायल
  • ‘नीच’ शब्द पर हायतौबा उपेंद्र कुशवाहा की स्तरहीन राजनीति का प्रमाण
दुनिया Share

ईरान पर प्रतिबंधों से ओपेक को खतरा

तेहरान 07 जुलाई (वार्ता) ईरान के पेट्रोलियम मंत्री के सलाहकार मोय्यद होसैनी सद्र ने अमेरिकी प्रतिबंधों को तेल उत्पादक देशों के संगठन (ओपेक) के लिए गंभीर खतरा बताया है।
श्री सद्र ने शनिवार को कहा कि ईरान के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंधों से ओपेक के खत्म होने की आशंका बढ़ जायेगी।
श्री सद्र ने इस्लामिक रिपब्लिक न्यूज एजेंसी से कहा, “अमेरिका का यह मानना है कि वह तेल की कमी को सऊदी अरब के जरिए पूरी कर सकता है लेकिन उसे यह समझ लेना चाहिए कि वह अपने इस कदम से ओपेक की योजना को नुकसान पहुंचा रहा है, चूंकि ईरान दुनिया के कुल तेल उत्पादन का पांच प्रतिशत उत्पादन करता है।”
श्री सद्र ने कहा कि यदि ईरान पर प्रतिबंध जारी रहे तो ओपेक जैसा संगठन समाप्त हो जायेगा।
अमेरिका के परमाणु समझौते से अलग होने के बाद शुक्रवार को पहली बार ब्रिटेन, चीन, फ्रांस, जर्मनी और रूस के मंत्रियों ने ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में ईरान के मंत्री से मुलाकात की। इस बैठक में अमेरिकी प्रतिबंधों के ऐवज में ईरान को आर्थिक पैकेज देने पर विचार किया गया।
अमेरिका ने विभिन्न देशों को चार नवंबर तक ओपेक (तेल उत्पादक देशों के संगठन) के सदस्य ईरान से तेल आयात समाप्त करने के लिए कहा है। ऐसा नहीं करने वालों को अमेरिका ने आर्थिक प्रतिबंधों का सामना करने के लिए तैयार रहने की चेतावनी दी है।
श्री सद्र ने कहा कि अमेरिकी प्रतिबंध के कारण ईरान के तेल की बिक्री में गिरावट आ सकती है लेकिन विभिन्न कंपनियों द्वारा तेल की खरीद से इस नुकसान की पूर्ति की जा सकती है।
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मई में इस ऐतिहासिक अंतरराष्ट्रीय परमाणु समझौते से अमेरिका के अलग होने की घोषणा की थी। इस समझौते के तहत ईरान ने उस पर लगे आर्थिक प्रतिबंधों को हटाने के बदले अपने परमाणु कार्यक्रम को सीमित करने पर सहमति जताई थी।
गौरतलब है कि वर्ष 2015 में ईरान ने अमेरिका, चीन, रूस, जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन के साथ एक अंतरराष्ट्रीय परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किए थे।
रवि.संजय
वार्ता
More News
इब्राहिम सोलिह ने मालदीव के राष्ट्रपति का पद संभाला

इब्राहिम सोलिह ने मालदीव के राष्ट्रपति का पद संभाला

17 Nov 2018 | 7:48 PM

माले, 17 नवंबर (वार्ता) मालदीव में इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने देश के सातवें राष्ट्रपति के रूप में आज यहां शपथ ग्रहण की, माले के गालोल्हू नेशनल स्टेडियम में लोगों से खचाखच भरे स्टेडियम में श्री सोलिह के शपथ ग्रहण करने पर उन्हें सेना ने 21 तोपों की सलामी दी, उनके साथ ही श्री फैसल नसीम ने देश के उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ ली।

 Sharesee more..
सोलिह के शपथ ग्रहण समारोह के लिए मालदीव पहुंचे मोदी

सोलिह के शपथ ग्रहण समारोह के लिए मालदीव पहुंचे मोदी

17 Nov 2018 | 5:59 PM

माले 17 नवंबर(वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मालदीव के नव निर्वाचित राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह के शपथ ग्र्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए आज यहां पहुंचे।

 Sharesee more..
नेतृत्व में ‘यू टर्न’ आवश्यक है : इमरान

नेतृत्व में ‘यू टर्न’ आवश्यक है : इमरान

17 Nov 2018 | 4:49 PM

इस्लामाबाद 17 नवंबर (वार्ता) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि किसी देश के वास्तविक नेता को हमेशा ‘यू टर्न’ लेना पड़ता है तथा स्थिति के अनुरूप और समय की जरूरत के आधार पर नेता अपनी रणनीति में बदलाव करते हैं।

 Sharesee more..
अफगानिस्तान में 70 तालिबान आतंकवादी मारे गये

अफगानिस्तान में 70 तालिबान आतंकवादी मारे गये

17 Nov 2018 | 3:34 PM

काबुल 17 नवंबर (वार्ता) अफगानिस्तान के विभिन्न प्रांतों में पिछले 24 घंटे के दौरान चलाये गये सेना के अभियान के दौरान करीब 70 तालिबान आतंकवादियों को मार गिराया गया जबकि 15 अन्य घायल हो गये।

 Sharesee more..
image