Tuesday, Sep 25 2018 | Time 18:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ब्रिटिश अरबपति दंपति की थाइलैंड में हत्या
  • नायडू ने तोड़ा प्रोटोकॉल, कतार में लग करके किये भगवान वेेेंकटेश्वर के दर्शन
  • दस बजे शुरू होनी चाहिए संसद की कार्यवाही: गोयल
  • पंचायत एवं निकाय चुनाव नहीं होने से राज्य को होगा 4,335 करोड़ का नुकसान: सुब्रह्मणयम
  • पुनिया ने जेल में भूपेश से मुलाकात कर जमानत लेने का किया आग्रह
  • राफेल मामले में राहुल नहीं बोल रहे देश की भाषा - ईरानी
  • सोपोर मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए
  • अपराधियों के चुनाव लड़ने पर रोक का कानून बनाएं, समर्थन करेंगे : कांग्रेस
  • किसी को आतंकवाद का समर्थन करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए: सुषमा
  • बाढ़ की आशंका के मद्देनजर अकाली दल द्वारा राजनैतिक सम्मेलन रद्द
  • राफेल खरीद मामले में कांग्रेस ने निकाली रैली
  • मराठवाडा में इस वर्ष 636 किसानों ने की आत्महत्या
  • प्रभु तीन दिन की यात्रा पर बंगलादेश में
दुनिया Share

अमेरिकी रेस्त्रां में गोलीबारी, भारतीय छात्र की मौत

वाशिंगटन 08 जुलाई(वार्ता) अमेरिका में मिसौरी के कंसास शहर में एक रेस्त्रां में शुक्रवार को अज्ञात हमलावर ने गोलीबारी की जिसमें तेलंगाना के एक छात्र की मौत हो गयी। पुलिस ने हमलावर के संबंध में सूचना देने वालाें को 10 हजार डाॅलर का इनाम देने की घोषणा की है।
कंसास पुलिस का दावा है कि हमलावर ने लूटपाट के इरादे से गोलीबारी की जिसमें शरत कोप्पू (26) की मौत को गयी। पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल पर सीसीटीवी का फुटेज डाल कर बदमाश को पकड़वाने में लोगों से मदद मांगी है। वीडियो में बदमाश सफेद और भूरी रंग की शर्ट में नजर आ रहा है।
शरत के दोस्त ने शनिवार को तेलंगाना के वारांगल जिले में रहने वाले उसके परिजनों को घटना के बारे में फोन पर जानकरी दी। कंसास में यूनिवर्सिटी ऑफ मिसौरी में एम एस की पढ़ाई करने वाला शरत शुक्रवार शाम अपने दोस्तों के साथ जेस फिश एडं चिकन मार्केट में एक रेस्त्रां में बैठा था। इस दौरान हुए हमले में वह गंभीर रूप से घायल हो गया।
दोस्तों ने तत्काल शरत को अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
शरत के पिता राम मोहन ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और राज्य के प्रवासी मामलों के मंत्री के टी रामा राव से बेटे के शव को घर लाने में मदद मांगी है। शरत के परिजनों ने विदेश मंत्री से इस मामले को देखने और दोषियों को पकड़वाने में मदद की भी गुहार लगायी है। परिजनों के अनुसार,“अमेरिका स्थित भारतीय दूतावास से शरत के शव को अंतिम संस्कार के लिए हैदराबाद भेजे जाने का अनुरोध किया गया है।”
शिकागो स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास ने शरत की हत्या पर दुख जताया है और पीड़ित परिवार को हर मदद मुहैया कराने का भरोसा दिया है।
पारिवारिक सूत्रों के अनुसार शरत हैदराबाद के वास्वी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से पढ़ाई पूरी करने के बाद इसी शहर की एक सॉफ्टवेयर कंपनी में नौकरी करने लगा था और एमएस करने के लिए वह इसी वर्ष जनवरी में अमेरिका गया था। उसे यूनिवर्सिटी ऑफ मिसौरी में पढ़ने के लिए पूर्ण स्कॉलरशिप मिली थी।
आशा, संतोष
वार्ता
image